PHDCCI ने फिल्म छोरीयां छोरों से काम नहीं होती दिखाई

शब्दवाणी समाचार मंगलवार 18 जून 2019 नई दिल्ली। पीएचडी चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (PHDCCI) ने जाने-माने फिल्म अभिनेता, निर्देशक और निर्माता श्री सतीश कौशिक को उनकी नई निर्मित हरियाणवी फिल्म 'छोरीयां छोरों से काम नहीं होती अपने यहां विशेष प्रबंध क़र दिखाई।



फिल्म "छोरीयां छोरा से कम नहीं है" एक युवा लड़की की यात्रा है, जहाँ उसके जन्म पर मोमबत्तियाँ बुझाई जाती थीं, उसने अपने परिवार को दिखाने के लिए अपने जीवन को आग और जुनून से जलाया कि वह एक बेटे के अलावा कुछ नहीं है। घर पर अपने पिता से कोई सहायता नहीं मिलने के बावजूद, जो सोचती है कि meant लड़कियां घर के कामों के लिए ही होती हैं 'वह अपने पिता को गलत साबित करने के लिए सभी बाधाओं से लड़ती है और प्रतिष्ठित IPS में शामिल होने के लिए जाती है।
इस कार्यक्रम की अध्यक्षता अध्यक्ष, उपाध्यक्ष और उपाध्यक्ष, PHDCCI, श्री राजीव तलवार, डॉ डी के अग्रवाल और श्री संजय अग्रवाल ने संयुक्त रूप से की, जिसमें अध्यक्ष, मनोरंजन और मीडिया समिति, श्री मुकेश गुप्ता; सह-अध्यक्ष, पर्यटन समिति, श्री राजन सहगल और हरियाणा समिति के अध्यक्ष, श्री प्रणव गुप्ता भी अपने प्रमुख निदेशक, श्री योगेश श्रीवास्तव के साथ फिल्म की स्क्रीनिंग के दौरान उपस्थित थे।
चैंबर के अध्यक्ष, श्री तलवार ने प्रबंध समिति में अपने अन्य सहयोगियों के साथ श्री कौशिक को व्यापक रूप से फिल्म और सिनेमा की दुनिया में उनके योगदान को स्वीकार किया। इसमें उन मुद्दों को दर्शाया गया है, जो हरियाणा में रहने वाली महिलाओं से जुड़े हैं और भारत सरकार के अभियान - 'बेटी बचाओ, बेटी पढाओ' को भी बढ़ावा देते हैं, जिसका उद्देश्य भारत में लड़कियों के लिए जागरूकता पैदा करना और कल्याणकारी सेवाओं की दक्षता में सुधार करना है।



Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

बिल्कुल देसी वीडियो कंटेंट प्लेटफार्म ट्रेलर ने 20 मिलियन नए यूज़र दर्ज किए

जिला हमीरपुर के मौदहा में प्रधानमंत्री आवास योजना में चली गांधी की आंधी