शूटिंग,तीरंदाजी,कुश्ती और मुक्केबाजी को खेल कोटा में शामिल करने की इंडियन ऑयल की योजना

शब्दवाणी समाचार मंगलवार 16 जुलाई 2019 नई दिल्ली। भारत की प्रमुख राष्ट्रीय तेल कंपनी इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड (आईओसीएल) खेलों को बढ़ावा देने के लिए अपने भावी रोडमैप की घोषणा की है, यह रोडमैप माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के विजन के अनुसार तैयार किया गया है ताकि सभी खेलों के खिलाड़ियों को आगे बढ़ाया जा सके। सभी देशवासी चाहते हैं की हमारे खिलाड़ी ओलम्पिक्स में सफलता हासिल करें और देश की इस आकांक्षापूर्ति में सहयोग देने के लिए इंडियन ऑयल विविध तरीकों से योगदान कर रही है।


इंडियन ऑयल ने एक दिवसीय 'स्पोर्टस कॉन्क्लेव 2019' का आयोजन किया जिसमें उन खिलाड़ियों को सम्मानित किया गया जो अपने शुरुआती दिनों में कंपनी से जुड़े और खेल जगत में अपनी पहचान कायम की। इंडियन ऑयल ने देश में खेलों को बढ़ावा देने के लिए नई पहलों की घोषणा की है।


इस सम्मेलन में 60 से अधिक खिलाड़ी शामिल हुए जो इंडियन ऑयल परिवार का हिस्सा हैंजिनमें से कुछ नाम हैं- पुलेला गोपीचंद, मानिका बत्रा, चेतेश्वर पुजारा, पृथ्वी शॉ, रोहन बोपन्ना, ए शरत कमल, सिमरनजीत सिंह, पी कश्यप, वसीम जाफर, अपर्णा बालन, एन सिक्की रेड्डी और बी. अधिबान आदि।


आईओसीएल के निदेशक (एचआर) श्री रंजन के. महापात्रा ने कहा, "माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी 2020 और 2024 के ओलम्पिक्स पर लक्ष्य कर रहे हैं और उन्होंने एक टास्क फोर्स गठित की है जो खिलाड़ियों एवं विभिन्न खेलों को सहयोग देने के लिए समग्र ऐक्शन प्लान बनाए। इंडियन ऑयल इस ध्येय की प्राप्ति व इसमें योगदान हेतु काम कर रही है और इसके लिए कंपनी भविष्य के पदक विजेताओं को संवार रही है तथा देश के लिए सम्मान अर्जित करने के उनके सपनों में सहयोग कर रही है।



खेल, इंडियन ऑयल की कॉर्पोरेट सामाजिक दायित्व का अभिन्न अंग हैं। इंडियन ऑयल के लिए खेल विकास का मंत्र यह है की उत्कृष्ट खिलाड़ियों को अवसर प्रदान किए जाएं जिससे उनका प्रदर्शन निखारने में मदद मिले और वे देश के लिए गौरव हासिल कर सकें।


इंडियन ऑयल की खेल नीति के रोडमैप का खुलासा करते हुए श्री महापात्रा ने बताया, "इंडियन ऑयल की योजना वॉलीबॉल, बास्केटबॉल, शूटिंग, तीरंदाजी, कुश्ती, कबड्डी, फुटबॉल व मुक्केबाज़ी खेलों को शामिल करने की है जिससे इन्हें खेलने वाले खिलाड़ियों की कंपनी में भर्ती की जाए। इंडियन ऑयल पैरालिम्पिक खिलाड़ियों को भी अपनी योजना में शामिल करने की प्रक्रिया में है


"इंडियन ऑयल के कॉर्पोरेट सामाजिक दायित्वों के महत्वपूर्ण पक्षों में से एक है - खेल; और हम जमीनी स्तर से खेल क्रांति लाने के लिए प्रयासरत हैं। कॉर्पोरेशन ग्रामीण क्षेत्रों में खेलों को बढ़ावा देने की संभावना पर सक्रियता से काम कर रही है, कंपनी की योजना सरकारी स्कूलों Indian Oil में कोचिंग सुविधाएं व किट मुहैया कराने की है। इंडियन ऑयल पूर्व खिलाड़ियों को बढ़ावा देती है की वे राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कोचिंग गतिविधियों से जुड़े और प्रतिभावान खिलाड़ियों को तैयार करें जिससे वे देश के खेल सितारे बनें और पदक जीत कर लाएं, उन्होंने कहा।


"इंडियन ऑयल के खिलाड़ी निरंतर मजबूत होकर आगे बढ़े हैं और उन्होंने सबसे ऊंची प्रतिस्पर्धाओं में शानदार प्रदर्शन करके देशवासियों के हृदय को गौरव से भर दिया है। यह स्पोर्टस कॉन्क्लेव 2019 ऐसे ही असाधारण खिलाड़ियों का उत्सव है। कॉर्पोरेशन के वरिष्ठ प्रबंधन की उपस्थिति में इंडियन ऑयल खिलाड़ियों का यह सम्मेलन एक ऐसा मंच है जहां हम खेलों में उनकी उत्कृष्ट उपलब्धियों को सम्मानित करते हैं," श्री महापात्रा का कहना था।



Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

बिल्कुल देसी वीडियो कंटेंट प्लेटफार्म ट्रेलर ने 20 मिलियन नए यूज़र दर्ज किए

जिला हमीरपुर के मौदहा में प्रधानमंत्री आवास योजना में चली गांधी की आंधी