2000 वर्ष पुरानी ईंट की संरचना और विष्‍णु की मूर्ति भी खुदाई में मिली

शब्दवाणी समाचार शुक्रवार 01 नवंबर 2019 नई दिल्ली। आंध्रप्रदेश के नेल्‍लोर (अब श्री पोट्टी श्री रामुलू के रूप में नाम रखा गया है) में नायडूपेटा के निकट गोट्टीप्रोलू में भारतीय पुरातत्‍व सर्वेक्षण की एक टीम-6,  बंगलौर द्वारा की गई खुदाई के पहले चरण में व्‍यापक तौर पर ईंटों वाली संरचना से घिरी एक विशाल बस्‍ती के अवशेष मिले हैं। खुदाई में मिली कई अन्‍य प्राचीन वस्‍तुओं में विष्‍णु की एक आदमकद मूर्ति और वर्तमान युग की शुरूआती शताब्दियों के विभिन्‍न प्रकार के बर्तन शामिल हैं।   
ड्रोन से ली गई तस्‍वीर   में   गोट्टीप्रोलू गांव और  खुदाई क्षेत्र
गोट्टीप्रोलू (13° 56' 48” उत्‍तर; 79° 59' 14” पूरब) में नायडूपेट से लगभग 17 किलोमीटर पूरब और तिरूपति तथा नेल्‍लोर से 80 किलोमीटर दूर स्‍वर्णमुखी की सहायक नदी के दायें किनारे पर स्थित है। विस्‍तृत कटिबंधीय अध्‍ययन और ड्रोन से मिली तस्‍वीरों से एक किले से घिरी प्राचीन बस्‍ती की पहचान करने में मदद मिली है। बस्‍ती की पूर्वी और दक्षिणी ओर किलाबंदी काफी स्‍पष्‍ट है, जबकि दूसरी ओर आधुनिक बस्तियों के परिणाम स्‍वरूप यह अस्‍पष्‍ट प्रतीत होती है।




Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

बिल्कुल देसी वीडियो कंटेंट प्लेटफार्म ट्रेलर ने 20 मिलियन नए यूज़र दर्ज किए

जिला हमीरपुर के मौदहा में प्रधानमंत्री आवास योजना में चली गांधी की आंधी