अंधेरा होने पर भी नहीं थमा मार्च तो पुलिस ने स्ट्रीट लाइट बंद कर छात्रों को खदेड़ा

शब्दवाणी समाचार सोमवार 18 नवंबर 2019 नई दिल्ली। जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के छात्रों का फीस बढ़ोतरी, छात्रावास शुल्क वृद्धि और उच्च शिक्षा को प्रभावित करने वाले अन्य मुद्दों के विरोध में सोमवार को संसद तक निकाले जाने वाला मार्च चला। वहीं, पुलिस ने संसद के आसपास इलाकों में धारा 144 लागू कर दी। इस दौरान पुलिस ने छात्रों को रोकने के लिए लाठीचार्ज की खबर भी आई और लगभग 30 छात्रों को हिरासत में भी लिया। इसके बाद अंधेरा होने पर पुलिस ने स्ट्रीट लाइट बंद कर छात्रों को खदेड़ा। हालांकि पुलिस ने लाठचार्ज की बात को नकारा है।
उधर जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय(जेएनयू) के छात्रों के आंदोलन की पृष्ठभूमि में कांग्रेस ने सोमवार को नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि यह सरकार छात्रों एवं नौजवानों से डरी हुई है। पार्टी प्रवक्ता पवन खेड़ा ने संवाददाताओं से कहा, ''यह सरकार छात्रों और नौजवानों से बहुत ड़रती है। इन छात्रों को इतनी भी आजादी नहीं है कि वो अपनी जायज बात को जायज तरीके से, जायज मंचों से रख सकें। यहां तक बात क्यों आई?




Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

बिल्कुल देसी वीडियो कंटेंट प्लेटफार्म ट्रेलर ने 20 मिलियन नए यूज़र दर्ज किए

जिला हमीरपुर के मौदहा में प्रधानमंत्री आवास योजना में चली गांधी की आंधी