जयपुर इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल होगा राजस्थानी फिल्म चीड़ी बल्ला का प्रदर्शन

शब्दवाणी समाचार बुधवार 06 नवंबर 2019 जयपुर। राधेश्याम पिपलवा निर्देशित चीड़ी बल्ला [स्मैश] स्कूल में पढ़ रहे भगत के बारे में है, जिसे किसी तरह अपने स्कूल को बचाना है। चीड़ी – बल्ला खेलने वाले भगत के सामने चुनौती है कि वह राज्य स्तर के बैडमिंटन टूर्नामेंट में अपने स्कूल को जिता सके। राजस्थानी भाषा में बनी एक घण्टे 51 मिनट की यह फीचर फिल्म राजस्थान की कला, खेल और संस्कृति की ख़ासियत बताती हुई आगे बढ़ती है। 
अमेरीकन मिरर: इंटीमेशंस ऑफ इमॉर्टेलिटी एक डॉक्यूमेंट्री और एक्सपेरिमेंट्ल फिल्म है, जो आर्थर बाल्डर के निर्देशन में बनी है। लगभग एक घण्टे लम्बी इस फिल्म में दिखाया गया है कि किस तरह हम सब फेसबुक – इंस्टाग्राम पर अपनी झूठी ज़िंदगियां परोस रहे हैं, जो सच्चाई से कोसों दूर हैं। फिल्म सूजैन सैरनडॉन के अभिनय से सजी है, जो अब तक चार फिल्मों के लिए ऑस्कर अवॉर्ड्स के लिए नॉमिनेट हुई हैं, वहीं एक फिल्म के लिए ऑस्कर जीत चुकी हैं।  नो मैन्स ट्रूथ एक भारतीय फिल्म है, जो मैरिना लिबिक के निर्देशन में बनी है। यह फीचर फिल्म लगभग 2 घण्टे 7 मिनट लम्बी है। नो मैन्स ट्रूथ आज के डिजिटल युग की कड़वी सच्चाईयों के बारे में है, जो एक युवती सुहाना की रहस्यमयी स्थितियों में हुई आत्महत्या के इर्द – गिर्द घूमती है। 
चाइनीज़ फिल्म मौज़ेक पौट्रेट ज़ाई यिक्सिएंग के निर्देशन में बनी है। लगभग एक घण्टे 48 मिनट लम्बी यह फीचर फिल्म माइग्रेंट वर्कर एक्सु के बारे में है, जो अपनी 14 वर्षीय बेटी की अचानक हुई प्रेगनेंसी को लेकर परेशान है, और बेटी के स्कूल से लेकर हर जगह इस बारे में जांच पड़ताल में जुटा रहता है।  जर्मनी की फिल्म सन शाइऩ मून सच्चाई और फंतासियों के बीच मंडराती एक फिल्म है। 1 घण्टे 35 मिनट लम्बी यह फीचर फिल्म कार्लो एवेंटी के निर्देशन में बनी है। फिल्म में चाइनीज़ सन और कोरियन मून नामक दो किरदार हैं, जो कई रोचक घटनाओं से गुज़रते हैं।
बॉम्बे रोज़ एक एनिमेशन फिल्म है, जो गीतांजलि राव के निर्देशन में बनी है। एक घण्टे 23 मिनट लम्बी यह फिल्म एक क्लब डांसर के बारे में है, जो चाइल्ड मैरिज से भागती हुई अपने प्रेमी को तलाश रही है। फिल्म के निर्माताओं में आनन्द महेन्द्रा का नाम भी शामिल है। 
अमेरीका में बनी फिल्म एलेक्स स्ट्रिप का स्क्रीनप्ले, वर्ष 2016 में जयपुर इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल के को – प्रोडक्शन मीट में डिस्कस किया गया था। अब फिल्म बनने के उपरान्त, फिर से जिफ में स्क्रीनिंग के लिए आई है। इरिनेज़ो नैलेट के निर्देशन में बनी यह फिल्म 121 मिनट लम्बी है।




Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता

बिल्कुल देसी वीडियो कंटेंट प्लेटफार्म ट्रेलर ने 20 मिलियन नए यूज़र दर्ज किए