सरकारी ई-बाजार - जेम और दिल्‍ली सरकार के बीच समझौता ज्ञापन पर हस्‍ताक्षर

शब्दवाणी समाचार शुक्रवार 22 नवंबर 2019 नई दिल्ली। समझौता ज्ञापन पर सरकारी ई-बाजार की ओर से मुख्‍य वित्‍तीय अधिकारी और संयुक्‍त सचिव राजीव कांडपाल तथा दिल्‍ली सरकार की ओर से विशेष वित्‍त सचिव नीरज भारती ने हस्‍ताक्षर किए। इसके साथ ही सरकारी ई-बाजार अब तक 30 राज्‍यों और संघ शासित प्रदेशों के साथ करार कर चुका है। भारत सरकार के वाणिज्य विभाग द्वारा गठित सरकारी ई-बाजार एक अत्‍याधुनिक सार्वजनिक खरीद का मंच है। जो सार्वजनिक खरीद में पारदर्शिता और दक्षता सुनिश्चित करने के लिए सरकारी उपभोक्‍ताओं की सुविधा के लिए ई-बोली प्रक्रिया, रिवर्स ई-नीलामी और मांग में सामंजस्‍य बनाए रखने के तौर-तरीके उपलब्‍ध कराता है। पोर्टल पर 40 हजार से अधिक खरीदार संगठन और 3 लाख से अधिक विक्रेता और सेवा प्रदाता पंजीकृत हैं। इसके अलावा, लगभग 15 लाख उत्पाद और सेवाएँ जिनमें 3,000 से अधिक उत्पाद श्रेणियां हैं, जीईएम पर उपलब्ध हैं। पोर्टल द्वारा प्रदान की जाने वाली पारदर्शिता, दक्षता और समावेशिता की पहल ने सरकारी संगठनों के लिए औसतन 15 - 25% की बचत की है।




Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता

बिल्कुल देसी वीडियो कंटेंट प्लेटफार्म ट्रेलर ने 20 मिलियन नए यूज़र दर्ज किए