भारत-नेपाल संयुक्त सैन्य अभ्यास सूर्य किरण – XIV का समापन समारोह

शब्दवाणी समाचार सोमवार 16 दिसम्बर 2019 नई दिल्ली। भारत और नेपाल के बीच संयुक्त सैन्य प्रशिक्षण अभ्यास, सूर्य किरण-XIV का आज नेपाल आर्मी बैटल स्कूल (एनएबीएस), सलझंडी, जिला रूपेन्देही (नेपाल) में समापन समारोह आयोजित किया गया। इस सैन्य अभ्यास में दोनों देशों की सैन्य टुकड़ियों ने वनों और पहाड़ी इलाकों में विद्रोह कार्रवाइयों का मुकाबला करने पर आधारित 14 दिन लंबे संयुक्त प्रशिक्षण में भाग लिया। इसके अलावा प्राकृतिक और मानव निर्मित आपदाओं से निपटने की कार्य प्रणाली के बारे में भी अभ्यास किया।



इस अभ्यास के हिस्से के रूप में महत्वपूर्ण व्याख्यान, विद्रोह और अशांति से निपटने के प्रदर्शन और प्रशिक्षण, आतंकवाद का मुकाबला करने की कार्रवाई, मानवीय सहायता और आपदा राहत सहायता तंत्र का संयुक्त रूप से अभ्यास और निष्पादन किया गया। यह प्रशिक्षण 72 घंटे के बाह्य अभ्यास के साथ समाप्त हुआ, जिसमें दोनों सेनाओं की टुकड़ियों ने विद्रोह अभियानों से निपटने का अभ्यास किया। इस अभ्यास के अंतिम चरण के दौरान भारतीय सेना के पर्यवेक्षक प्रतिनिधि के रूप में भारतीय पर्यवेक्षक मिशन के प्रमुख मेजर जनरल गोपाल गुरुंग और नेपाल की सेना के चीफ ऑफ जनरल स्टाफ लेफ्टिनेंट जनरल शरद गिरी मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद रहे।
प्रशिक्षण के अलावा, दोनों सैन्य टुकड़ियों ने अभ्यास के अंतिम दिन फ़ुटबॉल, बास्केटबॉल, वॉलीबॉल के मैत्रिपूर्ण मैचों और सांस्कृतिक गतिविधियों सहित अनेक पाठ्येतर गतिविधियों में भाग लिया। इन कार्यक्रमों में दोनों देशों के अपने-अपने सांस्कृतिक जुड़ावों के साथ-साथ सैन्य दलों में खुशमिजाजी में भी बढ़ोतरी हुई। निःसंदेह संयुक्त प्रशिक्षण अप्रत्याशित रूप से सफल रहा। दोनों सेनाओं के बीच समझ और अंतर-सक्रियता को बढ़ावा देने के साथ-साथ इससे दोनों देशों के बीच संबंधों को मजबूत बनाने में भी मदद मिलेगी। 



Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

बिल्कुल देसी वीडियो कंटेंट प्लेटफार्म ट्रेलर ने 20 मिलियन नए यूज़र दर्ज किए

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता