नित्यानंद के आश्रम से लापता हुई बहनों ने कहा, अमेरिका या वेस्टइंडीज में पेश हो सकती हैं

शब्दवाणी समाचार बुधवार 11 दिसम्बर 2019 नई दिल्ली। अहमदाबाद में दुष्कर्म के आरोपी स्वामी नित्यांनद के आश्रम से लापता हुई दो बहनों ने मंगलवार को गुजरात उच्च न्यायालय से कहा कि वे अदालत के सामने वेस्टइंडीज में भारतीय उच्चायोग या अमेरिका से वीडियो कान्फ्रेंस के जरिये पेश होने के लिए तैयार हैं। अदालत ने उनके व्यक्तिगत रूप से पेश होने पर जोर दिया। जनार्दन शर्मा की दोनों बेटियों के अधिवक्ता ने कहा कि दोनों व्यक्तिगत रूप से पेश नहीं हो सकतीं क्योंकि उनकी जान को उनके पिता से खतरा है। शर्मा ने अपनी दोनों बेटियों के यहां के आश्रम से लापता होने के बाद एक बंदी प्रत्यक्षीकरण अर्जी दायर की थी।
न्यायमूर्ति एसआर ब्रह्मभट्ट और न्यायमूर्ति एपी ठाकेर की खंडपीठ ने दोनों बहनों के निजी तौर पर पेश होने पर जोर दिया और भरोसा दिया कि उन्हें पूरा संरक्षण दिया जाएगा। अदालत ने दोनों बहनों के वकील को निर्देश दिया कि वे दोनों की ओर से 19 दिसंबर तक एक जवाबी हलफनामा दायर करें। अदालत ने मामले की अगली सुनवाई की तिथि 20 दिसंबर तय की है। 
पुलिस ने इससे पहले की सुनवाई के दौरान अदालत से कहा था कि लोपामुद्रा शर्मा (21) और नंदिता शर्मा (18) हो सकता है कि विदेश चली गई हों। जनार्दन शर्मा ने अपनी बंदी प्रत्यक्षीकरण अर्जी में कहा था कि उनकी बेटियों को नित्यानंद के आश्रम में अवैध रूप से रखा गया है।




Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

बिल्कुल देसी वीडियो कंटेंट प्लेटफार्म ट्रेलर ने 20 मिलियन नए यूज़र दर्ज किए

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता