डिजिट इंश्योरेंस 600 करोड़ की फंडिंग एकत्रित करेगा

शब्दवाणी समाचार वीरवार 23 जनवरी 2020 बैंगलुरू। डिजिट इंश्योरेंस को प्त्क्।प् से 600 करोड़ की फंडिंग एकत्रित करने की अनुमति मिल गई है, जो तीन ग्रोथ ईक्विटी इन्वेस्टर्स - ए91 पार्टनर्स, फेयरिंग कैपिटल एवं टी वी एस कैपिटल से एकत्रित की जाएगी। इस संयुक्त निवेश के बाद डिजिट की कुल फंडिंग 1600 करोड़ रु. तक पहुंच जाएगी, जो भारतीय जनरल इंश्योरेंस के क्षेत्र में सबसे बड़े फंडिंग राउंड्स में से एक होगा। 



डिजिट एक इंश्योरेंस स्टार्ट-अप है, जिसकी शुरुआत इंश्योरेंस को सरल बनाने के लिए की गई थी। डिजिट के पास मोटर, ट्रैवल, प्राॅपर्टी एवं हैल्थ इंश्योरेंस में उत्पादों का विस्तृत पोर्टफोलियो है। यह भारत की पहली इंश्योरेंस कंपनियों में से एक है, जो पूरी तरह से क्लाउड पर हैं। कंपनी की खासियत है उनकी डाक्यूमेंट्स की सरलता, उनके बहुमूल्य प्रोडक्ट्स और उनकी टेक्नोलॉजी जिससे ग्राहकों को बहुत सहुलियत मिलती है।
डिजिट इनोवेशन और अपने सरल प्रोसेसेज के लिए पूरी दुनिया में प्रसिद्ध है और इसे हाल ही में एशिया इंश्योरेंस रिव्यू, सिंगापुर की ओर से ‘जनरल इंश्योरेंस कंपनी आॅफ द ईयर 2019’ का पुरस्कार भी मिला है।
कंपनी शुरू होने के 2 ही सालों में डिजिट ने 50 लाख से ज्यादा ग्राहकों को सेवाएँ दी है और इससे अब तक लगभग 2100 करोड़ रु. का वार्षिक प्रीमियम मिल चुका है। 2 ही सालों में डिजिट ने जनरल इंश्योरेंस में 1.2 प्रतिशत का मार्किट शेयर कमा लिया है, जो एक नई कंपनी के लिए आश्चर्यजनक है।
इस राउंड में कंपनी में न केवल इन तीन इक्विटी इन्वेस्टर्स ने इन्वेस्ट किया है बल्कि डिजिट के 72 कर्मचारियों ने 30 करोड़ रु. से ज्यादा का निवेश किया है, जो डिजिट के लिए गौरव का विषय बन गया है। यह इस बात का प्रमाण है कि कर्मचारी भी इस कंपनी के भविष्य में पूरा विश्वास रखते हैं।
डिजिट इंश्योरेंस के फाउंडर एवं चेयरमैन, श्री कामेश गोयल ने कहा, ‘‘हमें खुशी है कि 2 सालों के काम में हमने 50 लाख ग्राहकों का विश्वास जीत लिया है और जनरल इंश्योरेंस की श्रेणी में हमें 1.2 प्रतिशत बाजार अंश मिल चुका है। इंश्योरेंस को सरल बनाने के हमारे मिशन में हमारे निवेशकों एवं कर्मचारियों ने जो विश्वास प्रदर्शित किया है, वह हमारे लिए बहुत हौंसले की बात है। फंडिंग का यह राउंड हमें अपने मिशन में आगे बढ़ने में सहयोग करेगा। हम भारत की सबसे सरल इंश्योरेंस कंपनी का निर्माण करने के अपने सफर में अपने नए निवेशकों के साथ जुड़ने पर काफी प्रसन्न हैं।



Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता

मीडिया प्रेस क्लब का वार्षिक कलैंडर हुआ विमोचन