जिफ 2021 के अवार्ड्स की घोषणा आज की जाएगी

• 14 देशों की 59 फिल्मों की होगी आज आख़िरी दिन ऑनलाइन स्क्रीनिंग

• पिछले चार दिनों से देश दुनिया की फिल्मों का ऑनलाइन जलसा चल रहा है

• हजारों दर्शकों ने फिल्मों को एन्जॉय किया

• फेस्टीवल के आख़िरी दिन आज 14 देशों की 59 फिल्मों की ऑनलाइन स्क्रीनिंग हुई

शब्दवाणी समाचार, मंगलवार 19 जनवरी  2021, जयपुर। सोमवार को 15 देशों की 46 फिल्मों की होगी ऑनलाइन स्क्रीनिंग हुई. हर फिल्म में एक रोचक कहानी है जिसने दर्शकों को रोमांचित कर ड़ाला. इनमें भारत से फीचर फिक्शन फिल्मों में भारत से ब्लाईंड माईंड, एन एसिड अटैक और अटकन चटकन तथा अर्जेंटीना और ब्राजील से द साइलेंट पार्टी, ईरान से द बेगर, और यूके से अमरयालीस प्रमुख हैं. वहीं डाक्यूमेंट्री फीचर फिल्मों में पाकिस्तान से सम लवर टू सम बिलवड, फ्रांस से जुआन, चायना से मज़ीदियाँ और भारत से द वन्डरड साउल ऑफ़ द रन प्रमुख फ़िल्में हैं जिनकी स्क्रीनिंग हुई.

जिफ की वेबसाइट पर प्रतियोगिता के लिए 9 श्रेणियों में  अवार्ड्स की घोषणा आज मंगलवार को की जाएगी, नौ श्रेणियां है - फीचर फिक्शन,  डॉक्यूमेंट्री फीचर, शॉर्ट फिक्शन, शॉर्ट डॉक्यूमेंट्री, शॉर्ट एनिमेशन, मोबाइल फिल्म, वेब सीरीज़ और सॉन्ग और एड फिल्म हैं. आज की फीचर फिक्शन फिल्मों में भारत से भारत से क्रथी, डीप इनसाइड और काली माटी (किसानों की कहानी है), चायना से द हाईलैंड रिफ्लैक्शन और बीईंग मोर्टल, अमेरिका से टैंगो शेलम, श्रीलंका से सिंगल टम्बलर, कनाडा से वी और जर्मनी से रिवायवल है. डाक्यूमेंट्री फीचर्स में स्पेन से टैकिंग रिफ्यूजी और अमेरिका से भारत की कहानी पिंक बेल्ट मिशन प्रमुख फ़िल्में हैं जिनकी स्क्रीनिंग आज होने जा रही है. कुल 116 मिनट की अमेरिका की इस फिल्म का निर्देशन गाब्रिएल बोलोगना ने किया है। इसकी कहानी काफी दिलचस्प है। यह फिल्म परिवार और समुदाय के बंधन और सहनशीलता और विश्वास की सीमा का परीक्षण कराती है.

एक युवा लड़की और एक बूढ़े व्यक्ति की कहानी जिसने अलग-अलग कारणों से तिब्बत में मोटरसाइकिल चलाने का फैसला किया और वे आपस में मिलते हैं इसके बाद क्या होता है फिल्म में देखें. हमने किसानों की आत्महत्या करने की कहानियों को देखा है और सूना है  लेकिन इस फिल्म की कहानी सभी किसानों को प्रेरित करती  है कि वे जीवन के पाठ्यक्रम को सरासर इच्छाशक्ति और साहस के साथ बदल सकते हैं। फिल्मों को देखने के लिए दर्शकों के लिए यूएफओ (UFO) के प्लेक्सिगो (Plexigo) एप को डाउनलोड करना होगा. प्लेक्सिगो एप गूगल प्ले स्टोर या एप्पल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है। फ़िल्में देखने के लिए रजिस्ट्रेशन अनिवार्य है।

Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

बिल्कुल देसी वीडियो कंटेंट प्लेटफार्म ट्रेलर ने 20 मिलियन नए यूज़र दर्ज किए

जिला हमीरपुर के मौदहा में प्रधानमंत्री आवास योजना में चली गांधी की आंधी