भारत में कैपजेमिनी ने IIT (ISM) धनबाद के साथ मिलकर काम करने की घोषणा किया

शब्दवाणी समाचार, शुक्रवार 16 अप्रैल  2021, नई दिल्ली। कैपजेमिनीने एयरोस्पेस, मोटर वाहन और विनिर्माण उद्योगों के लिए अभिनव समाधान विकसित करने के उद्देश्य से भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (भारतीय खनि विद्यापीठ), धनबाद के साथ साझेदारी की घोषणा की। कैपजेमिनी और IIT (ISM) धनबाद के बीच इस गठबंधन का उद्देश्य उद्योग एवं शिक्षा के बीच सहयोग को बढ़ावा देना है, जो विशेष रूप से कैपजेमिनी इंजीनियरिंगतथा संवहनीयता एवं धरती पर बेहतर जीवन के लिए लो-कार्बन टेक्नोलॉजी के इस्तेमाल से संबंधित है। इस संयुक्त परियोजना के तहत एक मॉडल-आधारित सिस्टम इंजीनियरिंग (MBSE) फ्रेमवर्क को विकसित करने पर विशेष ध्यान दिया गया है, जो मोटर वाहन और एयरोस्पेस उद्योग की कुछ मौजूदा चुनौतियों को दूर करने में मददगार साबित होकर, जिसके अंतर्गत उत्पाद जटिलता प्रबंधन, नेट-ज़ीरो सस्टेनेबिलिटी सॉल्यूशन, कार्यक्षेत्रों में सुरक्षा, उत्पादकता और प्रशिक्षण को बढ़ाना जैसी चुनौतियां शामिल हैं। इसके अलावा, कैपजेमिनी द्वारा इस परियोजना पर काम करने वाले छात्रों को परियोजना प्रबंधन, परामर्श, आर्थिक मदद और विषय विशेषज्ञों (SME) की सहायता भी उपलब्ध कराई जा रही है।

इस मौके पर भारत में कैपजेमिनी के चीफ टेक्नोलॉजी एंड इनोवेशन ऑफिसर, श्री निशीथ श्रीवास्तव ने कहा, “हमारी साझेदारी डिजिटल सह-नवाचार की संरचना पर आधारित है जो इसकी सबसे बड़ी खासियत है, और इसे हमने IIT (ISM) धनबाद के कुशल शिक्षाविदों और प्रशिक्षु छात्रों के साथ तैयार किया है। अनुसंधान के क्षेत्र में IIT (ISM) धनबाद की परिपक्वता और उत्कृष्ट क्षमता तथा कैपजेमिनी के उद्योग-उन्मुख तकनीकी-कार्यात्मक व्यापार मॉडल के साथ, हमारी इस परियोजना का उद्देश्य विभिन्न क्षेत्रों के व्यवसायों को अभिनव समाधान उपलब्ध कराना है ताकि हमारे ग्राहक अपना इच्छित भविष्य प्राप्त कर सकें। कैपजेमिनी का लक्ष्य इनोवेशन के क्षेत्र में इस तरह के खुले सहयोग के माध्यम से भारत में प्रमुख शैक्षणिक एवं अनुसंधान संस्थानों के साथ तालमेल विकसित करना, बाहरी नवाचारों की सामूहिक ताकत का भरपूर लाभ उठाना, असली दुनिया में व्यापार के समक्ष मौजूद चुनौतियों के साथ मिलकर समाधान विकसित करना, और साथ ही छात्र समुदाय के बीच उद्योग जगत के बारे में ज्ञान बढ़ाने वाले शिक्षाविदों को प्रासंगिक व्यावसायिक आवश्यकताओं के साथ जोड़ने में मदद करना है।

इस अवसर पर प्रो. राजीव शेखर, निदेशक, IIT (ISM) धनबाद, ने कहा, "कैपजेमिनी के साथ इस साझेदारी से मुझे बेहद प्रसन्नता हुई है, क्योंकि यह हमारे छात्रों को अत्याधुनिक AI, IoT और अन्य टेक्नोलॉजी से अवगत कराएगा। कैपजेमिनी के साथ इस सहयोग से हमारे अध्यापकों को शैक्षणिक पाठ्यक्रम में इंटेलिजेंट इंडस्ट्री टेक्नोलॉजी के इस्तेमाल से संबंधित वास्तविक जीवन के मामलों के अध्ययन में मदद मिलेगी और इससे जुड़ने का अवसर मिलेगा। इसके अलावा, कैपजेमिनी और IIT (ISM) धनबाद प्रमुख उद्योगों की वर्तमान चुनौतियों का समाधान निकालने के लिए साथ मिलकर काम करेंगे। कैपजेमिनी छात्रों को उद्योग जगत से अवगत कराते हुए उनके बीच इनोवेशन की मानसिकता विकसित करने, तथा उन्हें भविष्य के लिए तैयार करने के लिए गहन तकनीकी विशेषज्ञता प्रदान करने में सबसे आगे है। इंटेलिजेंट इंडस्ट्री के संचालन में सहायता के लिए हमारा यह सहयोग MBSE पर आधारित है जो फिलहाल वैश्विक व्यापार समुदाय के बीच, मुख्य रूप से मोटर वाहन और एयरोस्पेस उद्योग जगत में बेहद प्रचलित है। इस परियोजना पर काम करने वाले IIT(ISM) धनबाद के छात्र फिलहाल कैपजेमिनी के इंटर्नशिप कार्यक्रम का हिस्सा हैं।

Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता

बिल्कुल देसी वीडियो कंटेंट प्लेटफार्म ट्रेलर ने 20 मिलियन नए यूज़र दर्ज किए