क्लियरटैक्स ने एसएमई के लिए 'क्लियरवन' लॉन्च किया

 

◆ प्रोफेशनल चालान और ई-चालान बनाने में करेगा मदद 

शब्दवाणी समाचार, वीरवार 13 मई  2021मुंबई। भारतीय व्यवसायों को अपनी बिलिंग / चालान और ई-चालान की जरूरतों का डिजिटलीकरण और सुव्यवस्थित करने में मदद करने के लिए ई-फाइलिंग और जीएसटी अनुपालन के लिए भारत की अग्रणी फिनटेक सास कंपनी क्लीयरटैक्स ने जीएसटी अनुपालन बिलिंग और ई-चालान बनाने के लिए उत्पाद लॉन्च किया है, जिसे 'क्लियरवन' नाम दिया है। क्लियरवन लागू करने और इस्तेमाल करने में आसान और सहज इनवॉइसिंग उत्पाद है जो एसएमई को अपने व्यवसाय के लिए पेशेवर चालान बनाने में सक्षम बनाता है। इसकी मदद से एसएमई बिल / चालान बना सकते हैं, इसे अपने या अपने ग्राहक की आवश्यकता के अनुसार कस्टमाइज़ कर सकते हैं, बिना एक जगह ठहरे भी चालान की निगरानी कर सकते हैं और बना सकते हैं और इसके बाद भी विनियामक आवश्यकताओं का पूरी तरह अनुपालन कर सकते हैं।

क्लियरटैक्स के संस्थापक और सीईओ अर्चित गुप्ता ने कहा, “किसी भी व्यवसाय को चलाने के लिए चालान सबसे महत्वपूर्ण होता है और जब इरादे सभी व्यापारिक लेन-देन के डिजिटलीकरण के हो, तब चालान का डिजिटलीकरण आवश्यक है। क्लियरवन हमारे गहन बाजार अध्ययन का प्रत्यक्ष परिणाम है और व्यवसायों की जरूरत और उपलब्धता के अंतरों के बारे में बेहतर समझ रखता है जिसका सामना आमतौर पर व्यवसायों को करना पड़ता है। हमें विश्वास है कि उपयोगकर्ता क्लियरवन को बहुत सहज और सेटअप व उपयोग करने में बहुत ही आसान पाएंगे। भारत में लगभग 5 मिलियन छोटे व्यवसाय हैं जिन्हें चालान बनाने के लिए सॉफ्टवेयर समाधान की आवश्यकता है। क्लियरटैक्स अपने लॉन्च के पहले साल में लगभग 1 मिलियन को जोड़ना चाह रहा है। अब तक क्लियरटैक्स भारत के सबसे बड़े ब्रांड्स और कॉर्पोरेशन के 2,000 से अधिक और 5 मिलियन व्यक्तिगत करदाताओं की सेवा कर रहा है।

Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता

उप प्रधानाचार्य प्रशासनिक अनियमितताएं और भ्र्ष्टाचार में लिप्त, मुख्य अधिकारी नहीं ले रहे संज्ञान