ऊबर दिल्ली के 10,000 ऑटो में लगाएगा सेफ्टी स्क्रीन

शब्दवाणी समाचार, रविवार 27 जून  2021, नई दिल्ली। ऊबर ने दिल्ली सरकार के साथ साझेदारी की घोषणा की है जिसके तहत वो मिलकर महामारी के मौजूदा दौर में परिवहन को सुरक्षित बनाने के प्रयास में शहर के 10,000 ऑटो में सेफ्टी स्क्रीन्स इन्सटॉल करेंगे। यह पहल सभी ऑटो़ के लिए उपलब्ध है और सेफ्टी स्क्रीन्स का इन्सटॉलेशन पहले आओ, पहले पाओ के आधार पर किया जाएगा। इस साझेदारी के अंतर्गत ऊबर दिल्ली सरकार के साथ काम करते हुए ड्राइवरों के वैक्सीन के डर को कम करेगा, आम भ्रांतियों को दूर करेगा और वैक्सीनेशन के फायदों के बारे में जागरुक करेगा। दिल्ली सरकार वर्तमान में पूरे शहर में निःशुल्क टीकाकरण शिविरों का संचालन कर रही है, ताकि इस मुश्किल समय में दिल्लीवासियों को सुरक्षित रहने में सहयोग किया जा सके।

इस अवसर पर माननीय परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत, दिल्ली सरकार ने कहा, ‘‘दिल्ली अब फिर से खुलने लगी है और हम यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि नागरिक घर से बाहर जाते समय सुरक्षित और आश्वस्त महसूस करें। खासतौर पर महामारी के दौरान, ऑटो़ शहर की लाईफलाईन बन चुके हैं, इसी को ध्यान में रखते हुए हमने दिल्ली के सभी ऑटो ड्राइवरों को आर्थिक सहायता भी मुहैया कराई है।  सेफ्टी स्क्रीन के इन्सटॉलेशन से शहर में आवागमन सुरक्षित हो जाएगा और ऑटो के अंदर सोशल डिस्टेंसिंग को भी सुनिश्चित किया जा सकेगा। हम ऊबर के प्रति आभारी हैं, जिन्होंनेे शहर के ऑटो को सहयोग प्रदान किया है और अपने प्लेटफॉर्म पर सुरक्षा को बढ़ाने के लिए उनके द्वारा उठाये गए कदमों की हम सराहना करते है। हम ड्राइवरों, राइडरों एवं सभी नागरिकों से आग्रह करते हैं कि शहर में स्थापित निःशुल्क सरकारी टीकाकरण केन्द्रों का लाभ उठाएं और दिल्ली को महामारी से लड़ने में मदद करें।

इस साझेदारी पर बात करते हुए राजीव अग्रवाल, हैड ऑफ पब्लिक पॉलिसी, भारत और दक्षिण एशिया, ऊबर ने कहा, ‘‘ऊबर में सुरक्षा हमारी पहली प्राथमिकता है और हमारा मानना है कि आवागमन को सुरक्षित बनाकर ही शहरों को फिर से आगे बढ़ने में मदद की जा सकती है। इस साझेदारी के माध्यम से हम सुरक्षित परिवहन को बढ़ावा देना चाहते हैं, साथ ही ऑटो चालकों के बीच कोविड के सुरक्षा उपायों के बारे में जन जागरुकता भी बढ़ाना चाहते हैं। हम दिल्ली सरकार के प्रति आभारी हैं, जिन्होंनें हमारे साथ साझेदारी की ओर सभी हितधारकों के साथ मिलकर शहर में सुरक्षा बनाए रखने के लिए निरंतर प्रतिबद्ध हैं। महामारी के शुरूआती दिनों से ही ऊबर ने अपने प्लेटफॉर्म पर सुरक्षा में सुधार लाने के लिए टेक इनेबल्ड सेफ्टी फीचर्स और ऑन-ग्राउण्ड पहलों की शुरूआत की। ऊबर ने पहली लहर के दौरान सेफ्टी स्क्रीन्स का इनोवेशन पेश किया था। ये स्क्रीन्स प्लास्टिक की पारदर्शी शीट्स होती हैं, जो ड्राइवर और राइडर के बीच सुरक्षात्मक कवच का काम करती हैं, जिससे राइड के दौरान सामाजिक दूरी एवं सुरक्षा के मानकों को सुनिश्चित किया जा सकता है।

ऊबर ने अपने प्लेटफॉर्म पर 160,000 से अधिक ऑटो़ में सेफ्टी स्क्रीन्स इन्सटॉल करने में मदद की है। ड्राइवरों को टीकाकरण के लिए प्रोत्साहित करने के लिए ऊबर ने 18.5 करोड़ के कैश इन्सेन्टिव पैकेज का ऐलान भी किया है, इसके माध्यम से टीकाकरण में लगने वाले समय के लिए ड्राइवरों को क्षतिपूर्ति दी जाएगी। ऊबर प्लेटफॉर्म पर 37000 से अधिक ड्राइवर टीके की कम से कम एक डोज़ लगवा चुके हैं और कंपनी ने साल के अंत तक 150,000 ड्राइवरों के टीकाकरण का लक्ष्य तय किया है। ऊबर कोविड के खिलाफ़ देश को मजबूत बनाने के लिए निरंतर सहयोग दे रहा है। इस साल मार्च में ऊबर ने लोगों को नज़दीकी टीकाकरण केन्द्रों से आवागमन में मदद करने के लिए रु 10 करोड़ की निःशुल्क राईड्स की शपथ भी ली थी।

Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

बिल्कुल देसी वीडियो कंटेंट प्लेटफार्म ट्रेलर ने 20 मिलियन नए यूज़र दर्ज किए

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता