सरना ने दिल्ली ट्रैफिक पुलिस कमिश्नर से की मुलाकात

◆ गुरुद्वारा शीशगंज साहिब के मुख्य सड़क को नो एंट्री जोन बनाने पर उठे विवाद को सुलझाने के लिए की पहल

◆ श्रद्धालुओं के ऊपर लगने वाले ₹20,000 के जुर्माना के खिलाफ अप्पति जतायी

◆ बंद पड़े सड़क मार्ग को पिछले क्षेत्र से खोलने के लिए सलाह दी

◆ ट्रैफिक कमिश्नर आई.पी.एस ताज हसन ने हर संभव मदद का दिया आश्वासन

शब्दवाणी समाचार, शुक्रवार 25 जून  2021, नई दिल्ली। गुरुद्वारा श्री शीशगंज साहिब के बाहरी क्षेत्र में "नो एंट्री ज़ोन" का बोर्ड लगने और एंट्री होने पर ₹ 20,000 जुर्माने का नोटिस देखकर सिख प्रतिनिधि भड़क गए। मामले का संज्ञान लेते हुए शिरोमणि अकाली दल दिल्ली के अध्यक्ष परमजीत सिंह सरना औए महासचिव हरविंदर सिंह सरना ने दिल्ली ट्रैफिक पुलिश कमिश्नर ताज़ हसन से मुलाकात कर पत्र सौंपा। सरना ने श्रद्धालुओं के ऊपर लगने वाले भारी जुर्माने के खिलाफ आवाज़ उठायी और उसको तुरंत निरस्त करने की माँग रखी। साथ ही निर्माण कार्यो की वजह से चांदनी चौक क्षेत्र में बन्द पड़े सड़क मार्ग को पिछले हिस्से से खोलने की सलाह दी |

सरना ने बताया कि गुरुद्वारा शीशगंज साहिब हमारे 9वें पातशाही श्री गुरु तेग बहादुर जी का शहीदी स्थान है। गुरु साहिब जी ने धर्म और इंसानियत को बचाने के लिए औरँगजेब के क्रूरतापूर्ण काल में लोहा लिया और सन, 1675 में शहीदी दी। इस पवित्र स्थान के दर्शन के लिए सिख श्रद्धालु ट्रेनों से आ रहे है। ऐसे समय में सड़क बंद कर देंना और श्रद्धलुओं पर इतना भारी जुर्माना लगाना शोभा नही देता है। दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधन कमिटी के पूर्व प्रधान सरना ने बातचीत के जरिए इस मुद्दे का हल निकालने पर बल दिया। और भरोशा जताया की दिल्ली की पुलिस मामले का संज्ञान लेते हुए मामला जल्द सुलझा देगी। बैठक के बाद संतुष्ट नज़र आ रहे सरना ने ट्रैफिक पुलिस कमिश्नर की भूरी-भृरी प्रसंशा की और उनके सहयोग के लिए धन्यवाद दिया।

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता

रेलवे स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड ने प्रशिक्षण शिविर के लिए चयन समिति का गठन किया