टेट्रा पैक विश्‍व के सबसे सस्‍टेनेबल फूड पैकेज का तेजी से विकास

शब्दवाणी समाचार, शुक्रवार 27 अगस्त 2021, नई दिल्ली। विश्‍व की अग्रणी फूड प्रोसेसिंग एंड पैकेजिंग सॉल्‍यूशंस कंपनी टेट्रा पैक ने 2021 सस्‍टेनेबिलिटी रिपोर्ट जारी की है। इस रिपोर्ट में उन कई उपायों का उल्‍लेख है, जो कंपनी ने पिछले वर्ष भोजन, लोगों और इस ग्रह की सुरक्षा के लिये किये थे। रिपोर्ट देने की यह वार्षिक परंपरा वर्ष 1999 से चली आ रही है और इस वर्ष वैश्विक महामारी ने इसका मर्म बढ़ा दिया है। इसका कारण यह है कि अपने ग्रह और पर्यावरण पर दुनिया जो ध्‍यान रखती थी, उसे महामारी के चलते चुनौती मिली है।

वर्ष 2020 में कंपनी की वैश्विक कार्यवाहियों के मुख्‍य अंश इस प्रकार है:

कोविड-19 से उत्‍पन्‍न संकट के दौरान खाद्य सुरक्षा सुनिश्चित करना जारी रखा और खाद्य पदार्थों की सुचारू आपूर्ति में ग्राहकों की सहायता की; केवल वर्ष 2020 में ही, टेट्रा पैक पैके‍जेस में 77 बिलियन लीटर से ज्‍यादा उत्‍पादों की बिक्री हुई।

महामारी के बावजूद, 45 देशों के 64 मिलियन बच्‍चों को अपने स्‍कूलों में टेट्रा पैक पैकेजेस में दूध या अन्‍य पोषक पेय मिलें, यह सुनिश्चित करने के लिये भागीदारी में काम किया

वर्ष 2020 के लिये अपने जलवायु के लक्ष्‍य को पूरा किया, पूरी महत्‍व श्रृंखला में आर्थिक वृद्धि को जीएचजी उत्‍सर्जनों से मुक्‍त किया, स्‍कोप 1, 2, 3 (वर्ष 2010 के मुकाबले -19%)। वर्ष 2010 से 2020 तक अपनी कार्यवाहियों में जीएचजी में 70% कमी लाया, स्‍कोप 1 और 2।

सभी स्‍कोप्‍स 1, 2 और 3 में नेट ज़ीरो क्‍लाइमेट गोल और एसबीटीआई से अनुमोदित वैज्ञानिक आधार वाले लक्ष्‍यों की घोषणा की

नॉन-फॉइल बैरियर वाले पहले कीटाणुरहित पैकेज के लिमिटेड कॉमर्शियल लॉन्‍च के साथ तकनीकी सत्‍यापन।

ज्‍यूसेस और स्टिल ड्रिंक्‍स की प्रोसेसिंग के लिये नई खोज वाली लो-एनर्जी इक्विपमेंट लाइन लॉन्‍च की 

दुनियाभर के बाजारों में रिसाइकलिंग की वैल्‍यू चेन (महत्‍व श्रृंखला) में कई गतिविधियों का नेतृत्‍व और क्रियान्‍वयन किया, कार्टन पैकेज के 27% बढ़े हुए ग्‍लोबल रिसाइकलिंग रेट में  योगदान दिया।

पर्यावरणीय पारदर्शिता और कार्यवाही के लिये लगातार पाँच वर्षों तक सीडीपी के लीडरशिप बैंड में शामिल होने वाली कार्टन पैकेजिंग सेक्‍टर की एकमात्र कंपनी बनी और जलवायु तथा वनों के लिये डबल ‘’ए’’ जैसा बेहतरीन स्‍कोर पाया

वर्ष 2020 में अपने कारखानों में नवीकरण योग्‍य (रिन्‍यूएबल) बिजली का इस्‍तेमाल बढ़ाकर 83% पर पहुँचाया, जो वर्ष 2019 में 69% था और अपने 80% के लक्ष्‍य से आगे गये।

इसके अलावा, वर्ष 2020 में टेट्रा पैक द्वारा भारत में की गई पहलों के मुख्‍य अंश इस प्रकार हैं:

कोविड-19 महामारी के कारण लगे लॉकडाउन के दौरान अपने ग्राहकों और देश को अबाध सहयोग देना जारी रखा। अकेल वर्ष 2020 में ही भारत के ब्राण्‍ड्स को 1.8 बिलियन लीटर से ज्‍यादा उत्‍पादों की आपूर्ति की गई।

भारत में कोविड-19 से राहत के प्रयासों में 5 करोड़ रूपये से ज्‍यादा का योगदान दिया

ग्राहकों की कार्यवाहियों में और उपकरणों के इष्‍टतम उपयोग में उनकी मदद करने के लिये उनके साथ करीब से काम किया, ताकि पानी और ऊर्जा का कम इस्‍तेमाल हो और प्रोडक्‍ट वेस्‍ट कम हो

चाकण (महाराष्‍ट्र) में अपने विनिर्माण स्‍थल पर 3000 केडब्‍ल्‍यू क्षमता वाले सोलर पैनल्‍स इंस्‍टॉल किये- यह 100% रिन्‍यूएबल बिजली के हमारे लक्ष्‍य की दिशा में एक कदम था

अपने सर्टिफाइड रिनोवेशन सेंटर की क्षमता को दोगुना किया। यह सेंटर 80% मटेरियल को रियूज कर पैकेजिंग और प्रोसेसिंग के उपकरण का नवीकरण करता है और उपकरण का जीवन 60% तक बढ़ा देता है, जिससे CO2 का प्रभाव कम होता है

टेट्रा पैक के कलेक्‍शन और रिसाइकलिंग नेटवर्क का विस्‍तार 26 राज्‍यों और केन्‍द्र शासित प्रदेशों के 45 शहरों और सेना की 15 छावनियों तक हुआ, जिसमें भारत के 4 रिसाइकलर्स का सहयोग मिला

o 4 शहरों में 4 नये कलेक्‍शन पार्टनर्स जुड़े- चेन्‍नई में अर्थ रिसाइकलर, उदयपुर में फिनिश सोसायटी, भोपाल में कबाड़ीवाला और देहरादून में वेस्‍ट वारियर्स

o जोशीमठ, उत्‍तराखण्‍ड में इंडियन आर्मी के साथ भागीदारी में एक नई यूज्‍ड कार्टन पैकेज कलेक्‍शन फैसिलिटी स्‍थापित की गई

o इको मैक्जिमस के साथ भागीदारी में श्रीलंका में भी पहली कार्टन पैकेज रिसाइकलिंग फैसिलिटी स्‍थापित की गई

एक्‍शन अलायंस फॉर रिसाइकलिंग बेवरेज कार्टन्‍स (एएआरसी) के माध्‍यम से टेट्रा पैक के अपने और इंडस्‍ट्री के प्रयासों से भारत में रिसाइकलिंग रेट 40% पर पहुँचा

o एएआरसी के पास अब 15 मेम्‍बर कंपनियाँ हैं, जिनमें अग्रणी एफ एंड बी ब्राण्‍ड्स और कार्टन विनिर्माता शामिल हैं

मुंबई में उपभोक्‍ता जागरूकता कार्यक्रम ‘गो ग्रीन विद टेट्रा पैक’ के 11 साल सफलतापूर्वक पूरे हुए और इन वर्षों में 80 लाख से ज्‍यादा कार्टन पैकेजेस कलेक्‍ट किये गये। इस कार्यक्रम का चेन्‍नई में भी विस्‍तार हुआ और शहर में 11 कंज्‍यूमर ड्रॉप-ऑफ पाइंट्स लगे।

कोका कोला इंडिया और ड्यूश जीसेलशाफ्ट फर इंटरनेशनले जुसाम्‍मेनारबीट (जीआईजेड) जीएमबीएच के साथ भागीदारी में और साहस द्वारा क्रियान्वित अपशिष्‍ट पृथक्‍करण कार्यक्रम ‘अलग करो: हर दिन तीन बिन’ का फेज 1 (2017-2019) सफलतापूर्वक पूरा किया और फेज 2 भी शुरू हो गया।

भारत में कंपनी की कार्यवाहियों के मुख्‍य अंशों और मामलों समेत पूरी रिपोर्ट यहाँ देखी जा सकती है: https://www.tetrapak.com/en-in/sustainability/sustainability-updates

फूड प्रोसेसिंग एवं पैकेजिंग सॉल्‍यूशंस की विश्‍व-अग्रणी कंपनी होने के नाते टेट्रा पैक समझता है कि भविष्‍य की सफलता उपभोक्‍ताओं को सुरक्षित और पर्यावरण के लिये अच्‍छे उत्‍पाद प्रदान करने की कंपनी की योग्‍यता पर निर्भर करती है। कंपनी वैल्‍यू चेन में अपने काम करने के तरीके में सामाजिक रूप से जिम्‍मेदार बनने के लिये प्रतिबद्ध है। कंपनी लंबे समय से अपने वैल्‍यू चेन अप्रोच पर टिकी है, क्‍योंकि उसका मानना है कि भविष्‍य को ज्‍यादा स्‍थायी तभी बनाया जा सकता है, जब पर्यावरणीय, सामाजिक और आर्थिक चुनौतियों के एक-दूसरे से जुड़ाव की समझ हो। टेट्रा पैक स्‍थायित्‍व के प्रयासों को प्राथमिकता देने में सहायता के लिये संयुक्‍त राष्‍ट्र के सतत् विकास लक्ष्‍यों (एसडीजी) का इस्‍तेमाल करता है। कंपनी की ‘स्‍ट्रैटेजी 2030’ अगले दशक तक उसकी टीम का मार्गदर्शन करेगी और इस रणनीति ने ‘’स्‍थायित्‍व के लिये बदलाव का नेतृत्‍व’’ किया है, जो उसके मुख्‍य स्‍तंभों में से एक है और जिसमें दो लक्ष्‍य आते हैं: "कम कार्बन वाली चक्रीय अर्थव्‍यवस्‍था के समाधानों से नेतृत्‍व" और "महत्‍व श्रृंखला में स्‍थायित्‍व बढ़ाना"। यह वर्ष 2020 की कार्यवाहियों में और अगले दशक की योजनाओं में भी स्‍पष्‍ट रूप से दिखाई देता है ।

Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता

मीडिया प्रेस क्लब का वार्षिक कलैंडर हुआ विमोचन