सिंगापुर के एडटेक प्लेटफॉर्म टीची की भारत में शुरुआत

◆ टीची ने शिक्षण क्षेत्र में महामारी से हुए व्यतवधान को मात देने के लिए 35,000 से अधिक शिक्षकों की मदद की 

शब्दवाणी समाचार, मंगलवार 24 अगस्त 2021, नई दिल्ली। सिंगापुर की एजुकेशन टेक्नोलॉजी कंपनी टीची ने भारत में इसकी शुरुआत करने की घोषणा की है। यह ब्रांड वीलाइट टेक्नांलॉजी पीटीई की एक सहायक कंपनी है और दक्षिण कोरिया में भारी सफलता के साथ भारतीय बाजार में प्रवेश कर रही है। पिछले साल अक्टूबर में अपने बीटा संस्कीरण के लॉन्च के बाद से टीची के पास पहले से ही 35,000 से अधिक शिक्षक हैं। कंपनी का विजन इस क्षेत्र में शिक्षकों के लिए सबसे व्यापक रूप से इस्तेमाल किया जाने वाला टेक्नांलॉजी प्लेिटफॉर्म  बनना है।

देश में ऑनलाइन शिक्षा को गति मिलने के कारण शिक्षकों को सफलतापूर्वक अभ्यास सत्र तैयार करने में मदद करने के लिए टीची विशिष्टग स्थालन रखता है। टीची के क्रांतिकारी प्ले टफॉर्म पर शिक्षक पहले से किसी तकनीकी पृष्ठभूमि की जानकारी के बिना भी पूरी तरह से ब्रांडेड वेबसाइट डिजाइन कर सकते हैं। विशेष रूप से पेटेंट प्राप्ती और सुरक्षित प्ले टफॉर्म प्रशिक्षकों को अपने स्वयं के पाठ्यक्रम को आसानी से तैयार करने और प्रबंधित करने की अनुमति देता है। शिक्षक और एजुकेटर अब ऑनलाइन पाठ्यक्रम बेच सकते हैं, परीक्षा और असाइनमेंट ले सकते हैं, लाइव कक्षाएं संचालित कर सकते हैं, रिकॉर्ड किए गए वीडियो साझा कर सकते हैं और इसके अलावा भी बहुत कुछ कर सकते हैं। 

टीची का उपयोगकर्ताओं के अनुकूल प्लेपटफॉर्म शिक्षकों और छात्रों दोनों के लिए समान रूप से आकर्षक है। शिक्षक छात्रों के साथ बातचीत कर सकते हैं और कुछ ही क्लिक में उनकी परफॉरमेंस रिपोर्ट देख सकते हैं। इस प्लेंटफॉर्म पर उपलब्धक प्रभावी मार्केटिंग समाधान संस्थानों को प्रोमो कोड, मार्केटिंग, ब्लॉग, ओपन कोर्स आदि जैसे टूल के माध्यीम से छात्रों को ऑनलाइन दाखिल करने में मदद करता है। टीची, शिक्षकों को अपने डैशबोर्ड पर उनके राजस्व का प्रबंधन और विश्लेषण करने में भी मदद करता है। 10 से अधिक वर्षों के स्टार्ट-अप अनुभव के साथ आईआईटी-बीएचयू के पूर्व छात्र और 2 एडटेक उद्यमों के सह-संस्थापक, आकाश कसौंधन भारत में टीची के संचालन का नेतृत्व करेंगे।

आकाश कसौंधन, कंट्री मैनेजर, टीची इंडिया ने कहा, "टीची को शिक्षकों को अपना संस्थान शुरू करने में मदद करने और अपने व्यवसाय का किफायती तरीके से विस्तार करने में समर्थ बनाने के लिए तैयार किया गया था। महामारी के दौरान, पढ़़ाने और सीखने की क्षमताओं की सीमा में विस्ताार हुआ जिसने लोगों को सीखने के लिए ऑनलाइन प्लेटफॉर्म की ओर रुख करने के लिए मजबूर कर दिया था। हालाँकि, इसने एक ऐसे विशेष शिक्षण प्लेकटफॉर्म की आवश्यकता भी पैदा की है जो शिक्षक और छात्र दोनों के लिए लाभदायक हो। भारत में लॉन्च से पहले, हमारे विशेषज्ञों की टीम ने छात्रों और शिक्षकों की अपेक्षाओं, जरूरतों और कठिनाइयों को समझने में काफी वक्त  बिताया। इन जानकारियों ने हमें एक ऐसा उत्पाद बनाने में मदद की जिसके बारे में हमारा मानना है कि यह उनके लिए पूरी तरह उपयुक्ता होगा”। टीची ने एशिया पैसिफिक क्षेत्र में एडटेक एसएएएस बाजार में बड़े फेरबदल की योजना बनाई है। भारत में लॉन्च के बाद, इस प्लेटफॉर्म को 2022 के अंत तक और 10 देशों में लॉन्च किया जाएगा।

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

रेलवे स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड ने प्रशिक्षण शिविर के लिए चयन समिति का गठन किया