ओरिगो ने अपने ई-मंडी प्लेटफॉर्म के माध्यम से पहला एफपीओ ट्रेड पूरा किया

◆ 15 मीट्रिक टन गेहूं का लेन-देन दिखाता है कि फिनटेक प्लेटफॉर्म ई-मंडी छोटे किसानों के लिए बड़े अवसर प्रदान कर रहा है

शब्दवाणी समाचार, बुधवार 1 सितम्बर  2021, नई दिल्ली। भारत की सबसे तेजी से बढ़ती घरेलू एग्री फिन-टेक फर्मों में से एक ओरिगो कमोडिटीज ने अपने ई-मंडी प्लेटफॉर्म के माध्यम से एफपीओ को शामिल करते हुए पहला ट्रेड पूरा किया और एक बड़ी उपलब्धि हासिल की है। इस ट्रेड में यूपी के आगरा जिले के बरहान गांव में स्थित बरहान किसान विकास प्रोड्यूसर कंपनी लिमिटेड (बरहान केवीपीसीएल) शामिल था, जिसने हरदोई में श्री हनुमान ट्रेडिंग को 15 मीट्रिक टन गेहूं बेचा। यह अब ओरिगो ई-मंडी के लिए ट्रेड और फाइनेंशियल प्लेटफॉर्म के रूप में, एफपीओ के लिए सीधे प्रोसेसर को बेचने वाले विक्रेता के तौर पर और प्रोसेसर के लिए सीधे स्रोत से खरीदारी के लिए कई अवसर खोलता है।

ओरिगो ई-मंडी प्लेटफॉर्म से कई तरह के लाभ हैं। इसमें किसान देशभर के खरीदारों से सीधे जुड़ सकते हैं। पारदर्शिता रख सकते हैं। लेनदेन और डिजिटल पेमेंट के हर स्टेज को लेकर अपडेट रह सकते हैं। खरीदारों के लिए यह प्लेटफॉर्म प्रत्यक्ष वस्तुओं की खरीद के लिए लाइव ट्रांजेक्शन के माध्यम से डिजिटल प्लेटफॉर्म पर खरीदारी की क्षमता प्रदान करता है और उनकी खरीदारी के लिए फंडिंग भी करता है। ई-मंडी प्लेटफॉर्म वेब के साथ-साथ आईओएस/एंड्रॉयड ऐप के जरिए भी उपलब्ध है।

इस घटनाक्रम पर ओरिगो कमोडिटीज के सह-संस्थापक सुनूर कौल ने कहा, "ई-मंडी डिजिटल एग्री-ट्रेड और फाइनेंस के लिए हमारा "सुपर ऐप" है। यह भारतभर में ट्रेडिंग, फाइनेंस और कीमत पता करने को सरल बनाने को लेकर एक बड़ा वैल्यू एडिशन करता है। यह ट्रेड दिखाता है कि हम पारदर्शिता बनाए रखने के लिए किसानों को सीधे प्रोसेसर से जोड़ रहे हैं और हम यह सब एक डिजिटल प्लेटफॉर्म के माध्यम से ही कर पा रहे हैं। हम छोटे किसानों, एफपीओ के साथ काम कर रहे हैं और यहां लेन-देन को लेकर कोई सीमा नहीं है।

इसके अलावा, बरहान केवीपीसीएल की निदेशक रश्मि सिंह ने कहा, “हम ओरिगो ई-मंडी के माध्यम से सीधे प्रोसेसर से जुड़कर उत्साहित हैं। जब से ई-मंडी टीम ने हमें अपने फार्म प्रोड्यूस को ऑनलाइन मार्केटप्लेस पर बेचने की प्रक्रिया के बारे में समझाया है, हम अपने किसानों को मिलने वाली कीमत को लेकर काफी आश्वस्त महसूस कर रहे हैं। इस डील ने हमारे लिए आगे बढ़ने की संभावनाओं को देखने के तरीके में बड़ा बदलाव लाया है।

Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता

मीडिया प्रेस क्लब का वार्षिक कलैंडर हुआ विमोचन