अपोलो टायर्स लिमिटेड ने भारत में प्रीमियम टायर ब्रांड व्रेडेस्टीन प्रस्तुत किया

 

◆ यह टायर हाई-एंड कारों और सुपरबाईकिंग सेगमेंट

शब्दवाणी समाचार, बुधवार 27 अक्टूबर  2021, नई दिल्ली।भारत में अपने उत्पादों की श्रृंखला मजबूत करते हुए अग्रणी टायर निर्माता, अपोलो टायर्स लिमिटेड ने भारत में प्रीमियम यूरोपियन ब्रांड, व्रेडेस्टीन प्रस्तुत किया है। व्रेडेस्टीन ब्रांड के टायरों का निर्माण भारत में अत्याधुनिक तकनीक से परिपूर्ण संयंत्रों में किया जाएगा, और ये पैसेंजर कारों में प्रीमियम व लक्ज़री सेगमेंट को सेवाएं देंगे। इस ब्रांड के टू-व्हीलर टायर भारत में बढ़ते हुए सुपरबाईकिंग सेगमेंट को सेवाएं देंगे।

व्रेडेस्टीन ब्रांड अपने डिज़ाईनर एवं उच्च क्वालिटी के टायरों के लिए मशहूर है। यह भारत में पैसेंजर वाहन सेगमेंट में 15’’ से 20’’ के आकार के टायरों के साथ प्रवेश कर रहा है। व्रेडेस्टीन अल्ट्राक वोर्टी प्रीमियम लक्ज़री सेडान, जैसे मर्सिडीज़, बीएमडब्लू, ऑडी, लैंड रोवर और वॉल्वो के लिए है, वहीं व्रेडेस्टीन अल्ट्राक प्रीमियम हैचबैक एवं सेडान कारों, जैसे होंडा सिटी, मारुति सुजुकी सियाज़ और बैलेनो के लिए है। व्रेडेस्टीन के टू-व्हीलर टायर, सेन्टॉरो एनएस एवं एसटी, स्पोटर्स टूरिंग एवं सुपर स्पोटर्स रेंज की मोटरसाईकल्स की पूर्ण श्रृंखला, जैसे बीएमडब्लू, डुकाटी, अप्रिलिया, ट्रायंफ, कावासाकी, सुजुकी, होंडा और यामाहा के लिए हैं।

भारत में व्रेडेस्टीन ब्रांड के लॉन्च के बारे में नीरज कन्वर , वाईस चेयरमैन एवं मैनेजिंग डायरेक्टर, अपोलो टायर्स लिमिटेड ने कहा, ‘‘भारत में प्रीमियम और लक्ज़री सेगमेंट की कारों, तथा सुपरबाईकिंग सेगमेंट में भारी वृद्धि हो रही है। इसलिए हमें 100 साल से ज्यादा पुराने ब्रांड, व्रेडेस्टीन को भारतीय उपभोक्ताओं के लिए प्रस्तुत करने की प्रेरणा मिली। व्रेडेस्टीन प्रीमियम स्टाईलिंग और अल्ट्रा हाई परफॉर्मेंस का पर्याय है, जिसे लक्ज़री कार एवं सुपरबाईक्स के मालिक सबसे ज्यादा महत्व देते हैं। मुझे विश्वास है कि घरेलू अंतर्राष्ट्रीय ब्रांड, व्रेडेस्टीन के साथ हम भारत में लक्ज़री सेगमेंट में एक प्रतिष्ठित स्थान पा लेंगे।

व्रेडेस्टीन की पैसेंजर वाहन श्रृंखला में मशहूर ऑटोमोबाईल डिज़ाईनर, जॉर्जेटो जुजियारो ने अपना सिग्नेचर टच दिया है, जबकि टू-व्हीलर श्रृंखला को मशहूर इटैलियन डिज़ाईन हाउस, फ्रेस्कोली डिज़ाईन द्वारा डिज़ाईन किया गया है। भारतीय बाजार में प्रस्तुत किए जा रहे इन टायर का परीक्षण यूरोप और भारत के प्रमुख ट्रैक्स पर किया गया है, और ये यूरोप व अमेरिका में विभिन्न ऑटोमोटिव मैग्ज़ीन टेस्ट्स में पोडियम पोज़िशन प्राप्त कर चुके हैं।

लॉन्च के अवसर पर, सतीश शर्मा, प्रेसिडेंट, एशिया पैसिफिक, मिडिल ईस्ट एवं अफ्रीका (एपीएमईए), अपोलो टायर्स लिमिटेड ने कहा, ‘‘व्रेडेस्टीन ब्रांड की शुरुआत भारत में पैसेंजर वाहन और टू-व्हीलर के सेगमेंट में हमारी प्रस्तुतियों को मजबूत करेगी। भारत सरकार द्वारा हाल ही में टायरों के आयात पर प्रतिबंध के कारण हमारे लिए हाई-एंड कारों व मोटरसाईकल्स के लिए भारत में व्रेडेस्टीन ब्रांड के टायर लाने के लिए व्यवसायिक परिस्थिति काफी मजबूत हो गई। हमारी आरएंडडी टीमों ने इन टायरों को भारतीय परिस्थितियों के अनुरूप सर्वश्रेष्ठ सुरक्षा एवं ड्राईविंग का बेहतरीन अनुभव देने के लिए कस्टमाईज़ किया है।

व्रेडेस्टीन ब्रांड के टायर बेचने के लिए अपोलो टायर बिज़नेस पार्टनर्स, खासकर प्रीमियम टियर 1 काउंटर्स के मौजूदा नेटवर्क का इस्तेमाल करेगा। भविष्य में कंपनी व्रेडेस्टीन ब्रांड के लिए स्पेशलिस्ट काउंटर स्थापित कर सकती है। भारत में नया प्रवेश करने वाले व्रेडेस्टीन को देश में अपोलो टायर्स के प्रशिक्षित व मजबूत सेल्स एवं सर्विस नेटवर्क का विशेष लाभ मिलेगा।

व्रेडेस्टीन मुख्यतः यूरोप और अमेरिका के रिप्लेसमेंट बाजार में काम कर रहा है। कंपनी ने हाल ही में व्रेडेस्टीन टायर यूरोप के ओई, जैसे ऑडी, फोल्क्सवेगन, सीट और फोर्ड को भेजना शुरू किए। इस प्रकार भारत में, अपोलो टायर व्रेडेस्टीन ब्रांड के टायर शुरुआत में रिप्लेसमेंट बाजार में बेचना शुरू करेगा। इसके बाद व्रेडेस्टीन अल्ट्रा हाई परफॉर्मेंस टायर्स को ओई फिटमेंट के रूप में इस्तेमाल करने के लिए कंपनी ग्लोबल ओईएम के साथ अपने गठबंधन का उपयोग करेगी।

टायरों की दुनिया में व्रेडेस्टीन की समृद्ध विरासत है। नीदरलैंड्स में सन 1909 में स्थापित इस कंपनी ने दशकों में प्रीमियम टायर ब्रांड के रूप में अपनी अंतर्राष्ट्रीय पहचान स्थाति की। आज इनोवेशन, हाई-परफॉर्मेंस टेक्नॉलॉजी में निवेश और खूबसूरत डिज़ाईन के कारण व्रेडेस्टीन एक अलग टायर ब्रांड है। सन 2009 में व्रेडेस्टीन का अधिग्रहण अपोलो टायर्स लिमिटेड ने कर लिया।

जुजियारो और फ्रैस्कोली डिज़ाईन के साथ गठबंधन

90 के दशक के अंत तक व्रेडेस्टीन ने महशूर इटैलियन ऑटोमोटिव डिज़ाईनर, जॉर्जेटो जुजियारो के साथ गठबंधन कर लिया, जिन्हें 1999 में ग्लोबल ऑटोमोटिव मीडिया द्वारा पैसेंजर कार टायरों के लिए ‘कार डिज़ाईनर ऑफ द सेंचुरी’ के रूप में नामांकित किया गया था। इटेलियन डिज़ाईनर के इस सिग्नेचर ने व्रेडेस्टीन को डिज़ाईनर टायर की पहचान दिलाई, जो बेहतर क्वालिटी के साथ अभी भी इसका सेलिंग का अद्वितीय प्रस्ताव है। इसी प्रकार कंपनी ने अपने टू-व्हीलर टायरों के लिए मशहूर फ्रेस्कोली डिज़ाईन के साथ कुछ साल पहले गठबंधन किया।

Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता

उप प्रधानाचार्य प्रशासनिक अनियमितताएं और भ्र्ष्टाचार में लिप्त, मुख्य अधिकारी नहीं ले रहे संज्ञान