स्वास्थ्य समरक्षण की दिशा में आयुर्वेद की भूमिका महत्वपूर्ण

शब्दवाणी समाचार, शनिवार 2 अक्टूबर 2021, ( के लाल) गौतम बुध नगर। नोएडा कोरोना 19 की तीसरी लहर से बचाव तथा जन जीवन में रोग प्रतिरोधक क्षमता की वृद्धि हेतु राष्ट्रीय आयुर्वेद विद्यापीठ आयुष मंत्रालय भारत सरकार का एक उपक्रम के सौजन्य से पश्चिमी दिल्ली के विभिन्न क्षेत्रों में लगभग 70000 लोगों को निशुल्क गिलोय घनवटी का वितरण किया गया । जिसके अंतर्गत नोएडा महानगर में भी राष्ट्रीय आयुर्वेद विद्यापीठ के गुरु एवं पूर्व सदस्य शासी निकाय तथा वरिष्ठ चिकित्सक वैद्य अच्युत कुमार त्रिपाठी तथा उनके अधीनस्थ अध्ययनरत आयुर्वेद चिकित्सक डॉ पूजा राणा एवं डॉक्टर भव्या खत्री द्वारा नोएडा के विभिन्न क्षेत्रों में गिलोय घनवटी का निशुल्क वितरण किया गया। जिसमें प्रमुख रूप से समाज सेवी संस्थाओं के साथ महर्षी नगर बरौला छनेरा सेक्टर 82 आदि विभिन्न क्षेत्रों में अटल बिहारी वाजपेई मंडल के अध्यक्ष कल्लू सिंह राजपूत के माध्यम से युद्ध स्तर पर गिलोय घनवटी का निशुल्क वितरण किया गया।

वैद्य अच्युत कुमार त्रिपाठी ने बताया की कोरोना की दूसरी लहर से आयुर्वेद के माध्यम से स्वास्थ्य की दिशा में आशातीत सफलता प्राप्त हुई थी जिससे प्रभावित होकर आयुष मंत्रालय भारत सरकार ने अपने अनुषांगिक संगठनों के माध्यम से सारे भारत में गिलोय घनवटी का निशुल्क वितरण किया जो एक अद्भुत स्वागत योग्य कदम है। क्षेत्र के लोकप्रिय सांसद एवं पूर्व राज्य मंत्री डॉ महेश शर्मा ने राष्ट्रीय आयुर्वेद विद्यापीठ के निदेशक डॉ अनुपम श्रीवास्तव को प्रेषित प्रशंसा पत्र में गिलोय घनवटी के निशुल्क वितरण तथा स्वास्थ्य संरक्षण में आयुष मंत्रालय की निशुल्क हेल्पलाइन 14443 के माध्यम से लगभग 500 आयुर्वेद चिकित्सकों द्वारा करो ना19 महामारी के उपचार में निशुल्क चिकित्सा परामर्श तथा चिकित्सा के साथ पश्चिमी दिल्ली में गिलोय घन वटी के निशुल्क वितरण पर जनजीवन को स्वास्थ्य लाभ प्रदान कराने की दिशा में उन्हें बधाई दी।

Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता

उप प्रधानाचार्य प्रशासनिक अनियमितताएं और भ्र्ष्टाचार में लिप्त, मुख्य अधिकारी नहीं ले रहे संज्ञान