वरिष्ठ समाज सेवी चौ मनवीर सिंह का जन्मदिन मनाया

शब्दवाणी समाचार, मंगलवार 25 जनवरी  2022, ग़ाज़ियाबाद। वरिष्ठ समाज सेवी चौ मनवीर सिंह अध्यक्ष-RWA- गुलमोहर सोसायटी के जन्म दिन के शुभ अवसर पर सेवा सदन का प्रतीक चिन्ह अंगवस्त्र प्रदान कर सम्मानित किया गया इस अवसर पर मिशन 125 वर्ष स्वस्थ जीवन स्वस्थ भारत के तत्वाधान में  -सेवा सदन के द्वारा त्रिदिवसीय आयुर्वेदिक स्वास्थ्य जांच शिविर का शुभारम्भ    किया गया,  आर. डब्लू .ए. गुलमोहर के सचिव श्री विनम्र जैन जी ने बताया कि यह त्रिदिवसीय आयुर्वेदिक जांच शिविर चौबीस जनवरी 2022 से छब्बीस जनवरी 2022 तक चलेगा , जिसमें   मुख्य रूप से ,वरिष्ठ समाज सेवी गौरव बंसल , पूनम बंसल, निशि,रविंद्रा राठी, अमितजी, सुधा शर्मा ,विनी रिहानी आदि के साथ साथ बड़ी संख्या में लोगों ने हिस्सा लिया और उत्साह पूर्वक जांच कराकर स्वास्थ्य लाभ प्राप्त किया , इस मौके पर सेवा सदन के महामंत्री चौधरी मंगल सिंह जी ने बताया कि हमारे स्वस्थ जीवन  में प्रकृति द्वारा प्रदान किए गए प्राकृतिक संसाधनों की एक अहम भूमिका है, जिसमें स्वांस पानी और भोजन मुख्य भूमिका निभाते हैं।  

यदि हम अपने स्वांस, पानी और भोजन को दुरुस्त कर लें तो हम पूर्ण रूप से स्वस्थ जीवन पा सकते हैं और स्वस्थ समाज ही स्वस्थ भारत का आधार है , यदि हमारे शरीर में कोई कमी आ जाए तो उसे ठीक करने में हमारी  प्राचीन समय से चली आ रही ऋषि-मुनियों द्वारा अपनाई गई आयुर्वेदिक उपचार परंपरा के अंतर्गत विभिन्न प्रकार की जड़ी बूटियों द्वारा बने आयुर्वेद उत्पाद एक महत्वपूर्ण भूमिका अदा कर सकते  हैं, इसी प्रयास को जीवंत रूप प्रदान कर सेवा सदन द्वारा निर्मित आयुर्वेदिक अमृत गिलोय,अमृत त्रिफला चूर्ण,मधुमेह नाशक चूर्ण,अमृत गोक्षुरादि,अमृत मधुयाष्टि चूर्ण आदि हमारी रोजमर्रा के जीवन में होने वाली बीमारियों को आसानी से जड़ से समाप्त करते हैं, और हम सरलता पूर्वक स्वस्थ जीवन की सीढ़ी चढ़ते हैं अगर जीवन में हर रोज एक निश्चित समयावधि पर इनका सेवन करें तो स्वस्थ जीवन पा सकते हैं।  

जिसमें अमृत गिलोय सेवा सदन का एक अमृत तुल्य औषधि का कार्य करता है जिसके नियमित सेवन से हम मौसमी विकार जैसी डेंगू,खांसी गला खराब जुकाम वायरल बुखार,सिर दर्द एलर्जी,कमजोरी एवं अन्य संक्रामक रोगों से छुटकारा पा सकते हैं जिस प्रकार प्रकृति द्वारा प्रदान की गई जड़ी बूटी गिलोय हमारे जीवन में एक औषधि का कार्य करती है और हमें स्वस्थ जीवन प्रदान करती है उसी प्रकार हमें भी यह समझना होगा कि हम प्रकृति से अलग होकर उस को अनदेखा कर के स्वस्थ जीवन नहीं पा सकते ,  प्रकृति ईश्वर द्वारा प्रदान की गई एक जैविक प्रणाली है ,जो मनुष्य को स्वस्थ और उन्नत जीवन की ओर अग्रसर करती है। इस मौके पर सदन के सभी कार्यकर्ता गीता चौधरी, नजमा सेफी,मोनिका खंतवार,रेनू तोमर, प्रिया रानी आदि उपस्थित थे। 

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

रेलवे स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड ने प्रशिक्षण शिविर के लिए चयन समिति का गठन किया