रॉकेट बॉयज़ रेगिना को दर्पण की आध्यात्मिक यात्रा पर लेकर गया

शब्दवाणी समाचार, मंगलवार 8 फरवरी  2022, नई दिल्ली। सोनीलिव का रॉकेट बॉयज़ रेगिना को दर्पण की आध्यात्मिक यात्रा पर लेकर गया, इससे उन्हें प्रतिष्ठित मृणालिनी साराभाई के साथ भावनात्‍मक संबंध बनाने में मदद मिली शुरुआत तो अहमदाबाद स्थित मृणालनी साराभाई की डांस ऐकेडमी की एक आत्मनिरीक्षण वाली यात्रा के रूप में हुई थी पर इसका समापन सोनीलिव की आगामी श्रृंखला रॉकेट बॉयज़ में प्रतिष्ठित डांस्यूज़ (महिला बैले नर्तकी) की भूमिका निभा रही रेगिना कैसांड्रा के मालिनी साराभाई का अहसास होने के रूप में हुई। वैसे तो यह श्रृंखला मुख्य रूप से महान भौतिकविदों डॉ विक्रम साराभाई और डॉ होमी जे भाभा द्वारा संचालित भारत के सफल अंतरिक्ष और परमाणु कार्यक्रमों की कहानी बताती है। लेकिन इसमें मृणालिनी साराभाई द्वारा अपने पति, डॉ साराभाई के निजी जीवन को समृद्ध करने में निभाई गई भूमिका पर भी प्रकाश डाला गया है।

कैसांड्रा ने मृणालिनी साराभाई के रूप में अपने शानदार प्रदर्शन के साथ ओटीटी क्षेत्र को खुश कर दिया है। उन्‍होंने अहमदाबाद में मृणालिनी साराभाई की अकादमी, दर्पण की अपनी यात्रा के दौरान दिवंगत डांस्यूज़ के साथ भावनात्मक संबंध स्थापित करने के बारे में बात की। अकादमी में रहते हुए उन्होंने जो आध्यात्मिक प्रतिध्वनि महसूस की, उससे न केवल उनकी आंखों में आंसू आ गए, बल्कि उन्हें उस महान महिला के साथ एक होने में मदद मिली, जो स्वतंत्रता से पहले और बाद के वर्षों के दौरान एक स्वतंत्र शक्ति थी। कैसांड्रा ने न केवल अपनी पसंद और नापसंद का पता लगाया, बल्कि अपनी भव्य भव्यता के साथ न्याय करने के लिए जितना हो सके उतना आत्मसात किया।

मैं मृणालिनी साराभाई की विरासत को देखने और महसूस करने के लिए दर्पण जाना चाहती थी। मेरी आंखों में आंसू थे क्योंकि मुझे वहां वास्तव में उनकी मौजूदगी का अहसास हुआ था। यह ऐसा था जैसे वहां उन्होंने मुझे आशीर्वाद दिया हो। मैं महसूस कर सकती थी कि उनकी विरासत अभी भी दर्पण के माध्यम से चमक रही है, जिसे उनकी बेटी मल्लिका ने सराहनीय रूप से आगे बढ़ाया है। मुझे एक प्रदर्शन देखने को मिला और बाद में उन्होंने एक पूजा का आयोजन किया, जिससे मुझे उस जगह के महत्व की याद आ गई।

कैसांड्रा मृणालिनी साराभाई में इतनी गहराई से डूबी हुई थीं कि उन्होंने भरतनाट्यम का अभ्यास करते हुए लॉकडाउन बिताया, वे आध्यात्मिक रूप से डांस्यूज़ के करीब जाने की कोशिश करती रहीं। प्रतिष्ठित साराभाई से अलग दिखने के लिए उन्होंने कुछ प्रमुख सिद्धांत अपनाये। उन्होंने कहा, “स्टाइलिस्ट उमा बहुत अच्छा काम कर रही हैं। वह भी दर्पण के पास गईं और मल्लिका के साथ बैठकर अपनी मां की पसंद-नापसंद को समझने लगी। मकसद केवल यह दिखाने का नहीं था कि वे कैसी दिखती हैं बल्कि यह समझना भी था कि वह एक व्यक्ति के रूप में कौन थी। हमें पता चला कि उन्हें किस तरह के गहने पसंद थे और उन्होने हरे रंग के बहुत सारे कपड़े पहने थे। इसलिए, मेरे लुक में बहुत सारा हरा रंग शामिल थे।

रॉकेट बॉयज़ में डॉ. विक्रम साराभाई और डॉ. होमी जे. भाभा के जीवन को दिखाया गया है क्योंकि दो महान भौतिकविदों ने उनके सपनों को हकीकत में बदल दिया और महान वैज्ञानिक खोजें कीं, जिन्होंने भारत को विश्व मानचित्र पर लाकर खड़ा किया। इस शो में जिम सरभ , इश्वाक सिंह, रजत कपूर, दिब्येंदु भट्टाचार्य, सबा आजाद और अर्जुन राधाकृष्णन भी हैं। निखिल आडवाणी, रॉय कपूर फिल्म्स और एम्मी एंटरटेनमेंट द्वारा निर्मित रॉकेट बॉयज़ अभय पन्नू द्वारा निर्देशित और सिद्धार्थ रॉय कपूर, मोनिशा आडवाणी, मधु भोजवानी और निखिल आडवाणी द्वारा निर्मित है।

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

रेलवे स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड ने प्रशिक्षण शिविर के लिए चयन समिति का गठन किया