भारत में यूज्ड वाहनों की बिक्री बढ़ी : ड्रूम की रिपोर्ट

  

◆  2022 में (30 मई) यूज्ड वाहनों की बिक्री में 58% वृद्धि हुई

◆ 2019-2021 के बीच ड्रूम प्लैटफॉर्म पर यूज्ड वाहनों की बिक्री में 44% की सीएजीआर दर से बढ़त दर्ज की गई 

शब्दवाणी समाचार, शनिवार 4 जून 2022, गुरुग्राम। भारत में ऑटोमोबाइल ई-कॉमर्स के अग्रणी प्लैटफॉर्म, ड्रूम ने आज जानकारी दी कि कंपनी ने 2019 से 2021 तक  बिक्री में 44% की सीएजीआर दर से वृद्धि की है। साथ ही, कंपनी ने महामारी के दौरान यूज्ड वाहनों को  अपनाने में बढ़ोतरी के कारण वर्ष 2022 में (साल में अभी तक) 58% की तेज वृद्धि प्रदर्शित की है।

भारत के ऑनलाइन यूज्ड वाहन बाजार का मूल्य वर्ष 2021 में 154 बिलियन रुपये का था और वित्त वर्ष 2026 तक इसके 66.9% की सीएजीआर दर के साथ 1,994  बिलियन रुपये हो जाने का अनुमान है। वित्त वर्ष 26 तक यूज्ड ऑटोमोबाइल मार्केट्स का ऑनलाइन अनुपात 10% के करीब होने का अनुमान है, जो अभी लगभग 2% है। यह अनुमान यूज्ड वाहनों को ऑनलाइन खरीदने के प्रति ग्राहकों की वरीयता में बदलाव, शेयरिंग के बदले व्यक्तिगत मोबिलिटी को प्राथमिकता, अवांछित भौतिक डीलरशिप और यूज्ड वाहनों में कीमत के कई विकल्‍पों की उपलब्धता का नतीजा है। इसके अलावा, कोविड-19 के बाद अनिश्चित आर्थिक माहौल के कारण यूज्ड वाहनों के लिए माँग और ज्यादा बढ़ गई है। अपनी सबसे ताजा रिपोर्ट में, ड्रूम ने यह भी खुलासा किया है कि यूज्ड कार का बाजार ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री में सबसे बढ़िया प्रदर्शन करने वाले वर्गों में से एक है। भारत के तेजी से विकसित हो रहे यूज्ड वाहन बाजार की वृद्धि को प्रेरित करने वाले प्रमुख घटकों में कुछ में बीएस4 से बीएस6 में स्थानान्तरण जिसके कारण नए वाहनों की कीमतें ऊँची हो गई, सेमीकंडक्टर चिप की कमी और इलेक्ट्रिक वाहन इंफ्रास्ट्रक्चर पर स्पष्टता का अभाव जैसे कारण शामिल हैं।

इस रिपोर्ट के विषय में ड्रूम के फाउंडर और सीईओ, संदीप अग्गरवाल ने कहा कि, “यूज्ड वाहन का बाजार हर जगह चर्चा में है और मौजूदा समय में यह अब सबसे लोकप्रिय वर्गों में से एक हो गया है। हालाँकि, ड्रूम हमेशा ही वृद्धि करता रहा है, फिर भी यह आश्चर्यजनक है कि यह मार्केट अप्रत्याशित गति से फल-फूल रहा है। यूज्ड वाहन उद्योग के लिए महामारी बिन माँगा वरदान साबित हुई और इसने उपभोक्ताओं की प्राथमिकताओं को नए वाहनों की अपेक्षा यूज्‍ड वाहनों की ओर मोड़ दिया है। हमें आने वाले महीनों में इस वृद्धि के जारी रहने की उम्मीद है और हम आशा करते हैं कि ज्‍यादा से ज्‍यादा ग्राहक इस तीव्र वृद्धिशील बाजार का अधिकतम लाभ उठाएंगे। ड्रूम अपने प्लैटफॉर्म पर बाईसिकल से लेकर प्लेन, वाणिज्यिक वाहनों से लेकर अर्थ मूविंग वाहनों और ईवी एवं अन्य वाहनों तक 15 से अधिक श्रेणियों की व्यापक रेंज प्रदान करता रहा है। ड्रूम के प्लैटफॉर्म पर भारत में 1150 से अधिक शहरों से आने वाले 300 हज़ार से अधिक ऑटोमोबाइल की आपूर्ति समय पर हुई है।

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

रेलवे स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड ने प्रशिक्षण शिविर के लिए चयन समिति का गठन किया