गलगोटियाज विश्वविद्यालय में 5 दिवसीय स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन प्रतियोगिता का भव्य उद्घाटन

शब्दवाणी समाचार, शुक्रवार 26 अगस्त 2022, ( के लाल) गौतम बुध नगर। गलगोटियाज विश्वविद्यालय ग्रेटर नॉएडा  ने अपने प्रांगण में भारत सरकार द्वारा प्रायोजित 5 दिवसीय स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन प्रतियोगिता का भव्य  उद्घाटन किया। उद्घाटन भारत सरकार के माननीय शिक्षा राज्य मंत्री डॉ० सुभाष सरकार, अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद के अध्यक्ष प्रो० अनिल सहस्रबुद्धे, शिक्षा मंत्रालय भारत सरकार के मुख्य नवाचार अधिकारी डॉ० अभय जेरे, उच्च शिक्षा विभाग उत्तर प्रदेश सरकार की प्रमुख सचिव श्रीमती मोनिका एस० गर्ग और विश्वविद्यालय के माननीय कुलाधिपति सुनील गलगोटिया, मुख्य कार्यकारी अधिकारी ध्रुव गलगोटिया एवं कुलपति प्रो० डॉ० प्रीति बजाज ने दीप प्रज्ज्वलन करके किया। 

माननीय शिक्षा राज्य मंत्री डॉ० सुभाष सरकार ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि गलगोटिया विश्वविद्यालय में आये हुए सभी युवा इनोवेटर्स का मैं स्वागत करता हूँ। हम सभी का सौभाग्य है कि गलगोटिया विश्वविद्यालय स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन २०२२ के ग्रैंड फिनाले को केंद्रीय रूप से आयोजित कर रहा है। प्रो० अनिल सहस्रबुद्धे जी ने कहा कि माननीय प्रधान मंत्री जी ने २०१७ में एक बीज रोपित किया था जो आज एक बड़े वट वृक्ष के रूम में हमारे सामने है। उन्होंने कहा कि शुरुआत में २५ से ३० हैकाथॉन सेंटर ही चल रहे थे लेकिन आज इनकी संख्या बढ़ कर ७५ हो गई है। हमने २०२० कोविड के समय में भी हैकाथॉन का ऑनलाइनआयोजन करके विश्व स्तर पर कीर्तिमान स्थापित किया है। 

श्रीमती मोनिका एस० गर्ग ने कहा कि हैकाथॉन कार्यक्रम प्रधान मंत्री जी के भारत को २०४७ तक सुपर पॉवर बनाने के विजन को सफल करने में सहायक सिद्ध होंगे। यह हैकाथॉन प्रतियोगिता आजादी के 75 वर्ष पूर्ण होने के अवसर पर और आत्म निर्भर भारत अभियान के अंतर्गत शिक्षा मंत्रालय भारत सरकार की इनोवेशन सैल के संरक्षण में आयोजित की  जा रही है। भारत सरकार के द्वारा स्मार्ट इंडिया हैकथॉन को २०१७ में दोनों विधाओं हार्डवेयर और सॉफ्टवेर के रूप में शुरू किया गया था। स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन २०२२ प्रतियोगिता के इस पाँचवे हार्डवेयर संस्करण को गलगोटियाज विश्वविद्यालय नोडल सेंटर के रूप में आयोजित कर रहा है। जिसमें आंध्रा- प्रदेश, उड़ीसा, केरला, राजस्थान, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल, तेलंगाना इन सभी राज्यों से कुल २२ टीमों के १४० प्रतिभागी भाग ले रहे हैं। ये सभी छात्र अगले पांच दिनों तक शिक्षा मंत्रालय, इलैक्ट्रोनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय, जल शक्ति मंत्रालय (भारत सरकार) के द्वारा निर्धारित स्मार्ट एजुकेशन, स्मार्ट ऑटोमेशन, कृषि खाद्य तकनीकी और ग्रामीण विकास जैसे महत्वपूर्ण विषयों पर कार्य करेंगें। यह स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन (एसआईएच) शिक्षा मंत्रालय के इनोवेशन सैल के द्वारा छात्रों को सरकार, मंत्रालयों, विभागों, उद्योगों और अन्य संगठनों की गंभीर समस्याओं को हल करने के लिए एक राष्ट्रव्यापी पहल है। 

स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन दुनिया के सबसे बड़े ओपन इनोवेशन मॉडल के रूप में प्रसिद्ध है। और यह छात्रों के बीच उत्पाद नवाचार और समस्या-समाधान की संस्कृति को विकसित करता है। इस वर्ष स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन दोनो विधाओं सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर रूप से पेश किया गया है। स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन 2022 हार्डवेयर ग्रैंड फिनाले 25 अगस्त से 29 अगस्त 2022 तक निर्धारित किया गया है। जिसमें 2033 टीमों के 15000 से अधिक छात्र राष्ट्रीय स्तर पर भाग लेकर मंत्रालयों, विभागों, सार्वजनिक उपक्रमों और निजी सहित कुल 62 संगठनों से प्राप्त 476 समस्याओं के समाधान पर कार्य करेंगें। सभी पांचों प्रॉब्लम स्टेटमेंट की विजेता टीमों को १ लाख रूपये का नगद पुरस्कार दिया जाएगा।  स्वतंत्रता के ७५ वर्ष पूरे होने पर हम सभी "आजादी का अमृत महोत्सव" मना रहे हैं यह एक संयोग ही है कि इस प्रतियोगिता के दौरान भी विश्वविद्यालय के ७५ शिक्षक स्वयं सेवक और ७५ छात्र स्वयं सेवक दिन रात अपनी सेवाएं प्रदान करेंगे।

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

उप श्रम आयुक्त द्वारा लिखित में मांगों पर सहमति दिए जाने के बाद ट्रेड यूनियनों ने समाप्त किया धरन : गंगेश्वर दत्त शर्मा