ग्लोबल कायस्थ कॉन्फ्रेंस और सारथी फाउंडेशन के सावन मिलन समारोह में थिरके महिलाओं के पांव

 

शब्दवाणी समाचार, वीरवार 4 अगस्त 2022, पटना। ग्लोबल कायस्थ कॉन्फ्रेंस (जीकेसी) और सारथी फाउंडेशन ने धूमधाम के साथ जलसा मैरेज हॉल में सावन मिलन समारोह का आयोजन किया। यह कार्यक्रम आजादी का 75 वां अमृत महोत्सव के अवसर पर आयोजित था। इस मिलन समारोह में हरे हरे परिधानों से युक्त महिलाओं का जलवा दिखा। कई तरह के महिला खेल और प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया। सावन क्वीन प्रतियोगिता में प्रथम स्थान पर श्रेया श्रीवास्तव, द्वितीय स्थान पर शिखा स्वरूप एवं तीसरे स्थान पर सपना ने बाजी मारी। कार्यक्रम में महिलाओं ने बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया। मौके पर गीत-संगीत के अलावा महिलाओं ने तरह-तरह के खेल का भी आनंद लिया। सावन मिलन समारोह में महिलाओं ने समा बांधा और एक-दूसरे को सावन की शुभकामनाएं दी।  इस अवसर पर सारथी फाउंडेशन के राष्ट्रीय सचिव  रविंद्र कुमार सिन्हा ने कहा कि सावन महीने में हरे रंग का बहुत महत्व होता है। सावन में महिलाएं और युवतियां हरे रंग के वस्त्र और चूड़ियां पहनती हैं। हरा रंग प्रेम, प्रसन्नता और खुशी की प्रतीक माना जाता है। इसी वजह से महिलाएं सावन के महीने में हरे रंग का सिंगार करके भगवान और प्रकृति को धन्यवाद देती हैं। 

जीकेसी बिहार की प्रदेश अध्यक्ष डॉ नम्रता आनंद ने अपने संबोधन में कहा कि भगवान शिव को भी हरा रंग प्रिय है। इसी कारण से सावन के महीने में हरा रंग पहनना शुभ माना जाता है। यह भी माना जाता है कि सावन महीने में भगवान शिव की विधि-विधान से पूजा करने से हर मनोकामनाएं पूरी होती है। वहीं सावन में व्रत रखने पर भगवान शिव की कृपा भक्त पर विशेष रूप से होती है। सावन मिलन समारोह हमलोग हर साल आयोजित करते हैं। इस कार्यक्रम के जरिए एक-दूसरे से भी मेल मिलाप हो जाता है। ऐसे कार्यक्रम हमें हमारी संस्कृति से जोड़ते हैं। इस अवसर पर कलाकारों ने सावन गीत पर आधारित प्रस्तुति देकर समां बांध दिया। जीकेसी बिहार कला संस्कृति प्रदेश के प्रदेश अध्यक्ष दिवाकर कुमार वर्मा, कला संस्कृति प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष कुमार संभव, कुंदन कुमार,सुप्रिया सिन्हा, सुमिता सिन्हा, आनंद कुमार सिन्हा, दिव्या सहित कई कलाकारों ने अपनी प्रस्तुति दी। मुख्य अतिथि के रुप में जन अधिकार पार्टी नेता राजू दानवीर जीकेसी के अधिकारी और पटना मेयर पद के भावी उम्मीदवार राजेश कुमार डब्ल्यू, अभिनेता राजन कुमार, अभिनेत्री राजनंदनी, रौशन हिन्दुस्तानी, मौसम शर्मा, रविंद्र सिन्हा, बसंत सिन्हा , जीकेसी की प्रदेश उपाध्यक्ष लक्ष्मी सिन्हा,जीकेसी के प्रदेश सचिव आलोक कुमार वर्मा, जीकेसी के संगठन मंत्री बलिराम जी , रतन जी,आदि मौजूद थे। 

कार्यक्रम की शुरूआत बच्चों के बाल कृष्ण नृत्य से हुयी। इसके साथ महिलाओं का सामूहिक नृत्य,गायन एवं दीदी जी फाउंडेशन के संस्कारशाला के बाल कलाकारों की नृत्य प्रस्तुति ने भी दर्शकों का मन मोह लिया। इसके अतिरिक्त मेंहदी कंपटीशन और सावन क्वीन प्रतियोगिता  सहित कई अन्य प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया था। विजेता महिलाओं को पुरस्कृत भी किया गया। साथ ही सारे कलाकारों एवं मीडिया से आए बंधुओं को भी सम्मानित किया गया।  इस अवसर पर रौशन हिन्दुस्तानी द्वारा लाखों राष्ट्रीय ध्वज वितरण कार्य को सराहा भी गया। कार्यक्रम का सफल संचालन संपन्नता वरुण एवं शिखा स्वरूप ने किया। कार्यक्रम का संयोजन डॉ नम्रता आनंद, प्रेम कुमार,बसंत कुमार, ने किया।बाल कलाकारों में सूरज कुमार, रिया कुमारी, राजा कुमार, लव कुश , बिट्टू कुमार ,पवन कुमार ,देवी कुमारी ,स्वाति, लवली, रागिनी, रिया, आयुष , संगीता आदि ने रंग-बिरंगे  परिधानों में अपनी प्रस्तुति से दर्शकों का मन मोह लिया।


Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

उप श्रम आयुक्त द्वारा लिखित में मांगों पर सहमति दिए जाने के बाद ट्रेड यूनियनों ने समाप्त किया धरन : गंगेश्वर दत्त शर्मा