पीडब्‍ल्‍यू ने फ्रीको का अधिग्रहण किया

 

◆ पढ़ाई के बेहतर अनुभव के साथ स्टूडेंट्स के जीवन को बनाया बेहतर 

◆ फ्रीको की विशेषज्ञता का इस्‍तेमाल कर पीडब्‍ल्‍यू अपने मौजूदा उत्‍पादों और सेवाओं को नवीकृत करेगा और पढ़ाई के ज्‍यादा आसान तरीकों से 

◆ विद्यार्थियों की मदद करेगा, ताकि वे प्रतियोगी परीक्षाओं में अच्‍छा प्रदर्शन कर सकें

शब्दवाणी समाचार, सोमवार 22 अगस्त 2022, नई दिल्ली। भारत के सबसे किफायती और सुलभ एड-टेक प्‍लेटफॉर्म पीडब्‍ल्‍यू (फिजिक्‍सवाला) ने अपनी मौजूदा सेवाओं को बेहतर बनाने और विद्यार्थियों को पढ़ाई का बेहतर अनुभव देने के लिये एड-टेक स्‍टार्टअप फ्रीको का अधिग्रहण किया है। इसके साथ ही पीडब्‍ल्‍यू ने अपने प्‍लेटफॉर्म पर ज्‍यादा एडवांस्‍ड फीचर्स जोड़े हैं।  इस घटनाक्रम के तहत, पीडब्‍ल्‍यू और फ्रीको की टीमें कंटेन्‍ट लाइब्रेरी पर मिलकर काम करेंगी, सक्षम संसाधन एवं शंकाओं का समाधान करने वाले शिक्षकों का प्रबंधन सुनिश्चित करेंगी और विद्यार्थियों को सुचारू तरीके से सुलभ और किफायती कंटेन्‍ट देंगी। कंपनी शंकाओं के निवारण हेतु अपनी मौजूदा पेशकशों में नवाचार करने के लिये फ्रीको की टीम की विशेषज्ञता का इस्‍तेमाल करने की योजना पर काम कर रही है।

यह 1.1 बिलियन अमेरिकी डॉलर के मूल्‍यांकन पर वेस्‍टब्रिज और जीएसवी वेंचर्स से सीरीज ए राउंड में 100 मिलियन डॉलर की धनराशि जुटाने के साथ एक यूनिकॉर्न बनने के बाद पीडब्‍ल्‍यू की पहली घोषणा है। इस अधिग्रहण के माध्‍यम से पीडब्‍ल्‍यू फ्रीको के 15 कर्मचारियों को नियुक्‍त करेगा। इस कदम के पीछे एक सरल विचार है - विद्यार्थियों के लिये शिक्षा को ज्‍यादा सुलभ बनाना और कठिनाई को कम करना, ताकि उन्‍हें प्रतियोगी परीक्षाओं में उत्‍कृष्‍ट प्रदर्शन करने में मदद मिले। पीडब्‍ल्‍यू कोटा और दिल्‍ली समेत छह जगहों पर ‘पीडब्‍ल्‍यू विद्यापीठों’ को लॉन्‍च कर ऑफलाइन स्‍पेस में पहले ही कदम रख चुका है और इस तरह के और भी सेंटर खोलने की योजना बना रहा है। पीडब्‍ल्‍यू भारत के 22 शहरों में हाइब्रिड क्‍लासेस भी चलाती है और 10 लाख से ज्‍यादा विद्यार्थियों को कवर कर चुकी है। कंपनी का लक्ष्‍य है 2025 तक 250 मिलियन से ज्‍यादा विद्यार्थियों की पढ़ाई के परिणामों को बेहतर बनाना। 

पीडब्‍ल्‍यू के संस्‍थापक एवं सीईओ, अलख पांडे ने कहा, “हमें पीडब्‍ल्‍यू परिवार में फ्रीको का स्‍वागत करते हुए काफी खुशी हो रही है। एड-टेक के क्षेत्र में उनकी विशेषज्ञता को देखते हुए हमें अपने मौजूदा अध्‍यापन में नवाचार करने और आकांक्षी विद्यार्थियों के लिये पढ़ाई के समृद्ध समाधानों की पेशकश करने का भरोसा है। हम उन्‍नत टूल्‍स और टेक्‍नोलॉजीज से विद्यार्थियों के लिये पढ़ाई को आसान बनाना चाहते हैं, ताकि वह ज्‍यादा सुलभ और शिक्षण-अभिमुख हो सके। हम अपने यूजर्स के लिये पढ़ाई के ज्‍यादा उन्‍नत समाधान तैयार करनेऔर पढ़ाई के अनुभवों को इस तरह बदलने के लिये काम करते रहेंगे, जैसा पहले कभी नहीं हुआ।

फ्रीको एड-टेक के क्षेत्र की एक शंका-निवारण एवं संसाधन प्रबंधन कंपनी है। इस प्‍लेटफॉर्म का लक्ष्‍य है विद्यार्थियों की मदद करने और उनकी पढ़ाई के अनुभव को समृद्ध बनाने के लिये टेक्‍स्‍ट सॉल्‍यूशंस, ऑनलाइन ट्यूटरिंग, पेन टैब वीडियो सॉल्‍यूशंस, इंटरैक्टिव पैनल वीडियो सॉल्‍यूशंस और टेक्‍स्‍टबुक सॉल्‍यूशंस समेत कंटेन्‍ट सर्विसेस प्रदान करना। यह स्‍टार्टअप बायजूस, अनअकैडमी, ब्रेनली, डाउटनट, टॉपर, अकैडक्राफ्ट, न्‍यूमेरेड और मेल्‍वानो जैसी एडटेक कंपनियों के साथ भी काम कर चुका है। फ्रीको के निदेशकगण, प्रशांत सोनी, निखिल चौधरी और रामावतार छाबा ने कहा, “हम विद्यार्थियों के मामले में पीडब्‍ल्‍यू के कार्य के हमेशा से बड़े प्रशंसक रहे हैं। पीडब्‍ल्‍यू बेहतरीन काम कर रहा है और पढ़ाई के पारंपरिक परिदृश्‍य को बदलने में उल्‍लेखनीय योगदान दे रहा है। इस मिशन में उनके साथ जुड़कर हमें प्रसन्नता है और अपनी समृद्ध विशेषज्ञता से विद्यार्थियों के जीवन में ज्‍यादा महत्‍व लाने और नवाचार करने के प्रति आशान्वित हैं। हमने हमेशा हर संभव तरीके से विद्यार्थियों की मदद करना चाहा है और इस नियुक्ति-अधिग्रहण के द्वारा हम ज्‍यादा प्रभावी ढंग से ऐसा कर पाएंगे।

Comments

Popular posts from this blog

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

उप श्रम आयुक्त द्वारा लिखित में मांगों पर सहमति दिए जाने के बाद ट्रेड यूनियनों ने समाप्त किया धरन : गंगेश्वर दत्त शर्मा

बबीता फोगट WFI के खिलाफ आरोपों की जांच के लिए गठित ओवरसाइट कमेटी पैनल में शामिल