श्री धार्मिक रामलीला कमेटी के द्वारा कैलाश नगर की आज से भव्य रामलीला का मंचन

शब्दवाणी समाचार, सोमवार 26 सितम्बर 2022, सम्पादकीय व्हाट्सप्प 8803818844,नई दिल्ली। श्री धार्मिक रामलीला कमेटी के द्वारा कैलाश नगर महावीर पार्क में भव्य रामलीला का मंचन किया जा रहा है। यह मंचन 26 सितम्बर से 6 अक्टूबर के बीच रात 8 बजे से किया जाएगा। यह जानकारी कमेटी के प्रधान अरूण गुप्ता ने प्रेस कांफ्रेस में दी। इस मौके पर किशोर कुमार गुप्ता वरिष्ठ उपप्रधान, संतोष त्रिपाठी उपप्रधान, रोहित जैन (वरिष्ठ उपप्रधान), संजय मित्तल महामंत्री, हरिकिशन अग्रवाल कोषाध्यक्ष, राहुल गुप्ता उपप्रधान, अंकुर गुप्ता उपप्रधान एवं अभिषेक गुप्ता उपाध्यक्ष भी उपस्थित थे। अरूण गुप्ता के मुताबिक रामलीला का उद्देश्य समाज मे भारतीय दर्शन और 'सामाजिक संस्कार' पिरोना है ताकि वे हम समाज में बेहतर नागरिक बन सके। 

उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि इस बार  कैलाश नगर में स्थित श्री धार्मिक रामलीला कमेटी में इस बार आपको कई अद्भूत कलाओं के साथ साथ कई रोमांचक चीजें देखने को मिलेगी। 85 फुट की स्टेज के साथ साथ इस बार रामलीला के दौरान एक दिन महाभारत का भी मंचन किया जाएगा। महाभारत में वीर अभिमन्यु के जीवन के बारे में आपको बताया जाएगा। इस बार रामलीला में दर्शकों को आकाश में भी कई अद्भूत नजारे देखने को मिलेंगे। आकाश में राक्षसों व भगवान राम और लक्ष्मण तीर आपस मे एक दूसरे से टकराते नजर आयेंगे उनमें से चिंगारी भी निकलेगी। लोगों को अपनी ओर आकर्षित करने के लिए स्टेज पर लाइटिंग इफेक्ट के साथ खेला जाएगा। रामलीला की थीम नो यूज़ नो प्लास्टिक रहेगी। इसके लिए एक नुक्कड़ नाटक कंपनी  रोजाना स्टेज पर नो यूज़ नो प्लास्टिक  के बारे में लोगो को जागरूक करेगी ओर नाटक का संचालन 15-20 मिनट तक होगा। इसके अलावा हर दिन एक माता (नौ दुर्गा) के बारे में भी दर्शकों को बताया जाएगा। वही रामलीला को और भी खूबसूरत और रोमांचक बनाने के लिए विवज कंटेंट रखा गया है। इसमें केवल 16 साल तक के ही बच्चे ही भाग ले सकते हैं। जबाब देने के लिए रामलीला कमेटी की तरफ से उपहार दिया जाएगा।

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

उप श्रम आयुक्त द्वारा लिखित में मांगों पर सहमति दिए जाने के बाद ट्रेड यूनियनों ने समाप्त किया धरन : गंगेश्वर दत्त शर्मा