सोनी बीबीसी पर इस जनवरी ‘इंडिया@9’ के साथ भारत को जानें और देखिए हेल्‍दी टेल्‍स

◆ देखिये संकलन शोज की बेहतरीन श्रृंखला, जिसका प्रीमियर इस जनवरी सोनी बीबीसी अर्थ पर हो रहा है!

◆ देखिए गणतंत्र-विशेष संकलन ‘इंडिया@9’ रात 9:00 बजे से, और ‘हेल्दी टेल्स’, रात 8:00 बजे सिर्फ सोनी बीबीसी अर्थ पर

शब्दवाणी समाचार बुधवार 25 जनवरी 2023, सम्पादकीय व्हाट्सप्प 8803818844, नई दिल्ली। अपने कंटेंट लाइन-अप में विशेष भारतीय ट्विस्‍ट के साथ, सोनी बीबीसी अर्थ अपने दर्शकों के लिए गणतंत्र दिवस को और ज्यादा खास बनाने के लिए पूरी तरह तैयार है। यह चैनल लोगों को भारत के बीहड़ों का एक अद्भुत सफ़र कराते हुए ‘इंडिया@9’ पेश करने जा रहा है। यह शो एक विशेष संग्रह है जिसमें भारत का चित्रण करने वाले ऐसे कंटेंट्स को दिखाया गया है, जैसा अपने पहले कभी नहीं देखा होगा। सोनी बीबीसी अर्थ दर्शकों को पश्चिम हिमालय में बसी फूलों की घाटी और भारत के पूर्वी तट पर कछुओं के बच्चों की हैचिंग के एक वर्चुअल ट्रिप पर ले जाएगा। इसके अलावा, किचन में घुसकर और सुपरफ़ूड के मिथकों से पर्दा हटाकर यह चैनल ‘हेल्दी टेल्स’ प्रसारित करने जा रहा है, जो स्‍वास्‍थ्‍य और खान-पान पर केन्द्रित शोज का एक मिश्रण है।

गणतंत्र दिवस विशेष संकलन - इंडिया@9 सम्मोहक सीरीज, जैसे कि ‘हिडन इंडिया’ और ‘इंडिया'ज़ डेडलिएस्ट स्नेक्स’ का मिश्रण है। भारत में बेशुमार खूबसूरत लैंडस्केप्स है जिन्हें देखकर लोगों अचंभित हो जाते हैं। हिडन इंडिया दर्शकों को देश भर की सैर कराएगा, जिसमें भारत के आश्‍चर्यजनक वन्यजीवन, प्राचीन संस्कृति, और प्राकृतिक खूबसूरती का चित्रण दिखाई देगा। वहीं, ‘इंडिया'ज डेडलिएस्ट स्नेक्स’ में सबसे गलत समझी गई प्रजाति, साँपों के बारे में लोगों को शिक्षित करने पर फोकस किया गया है ताकि साँपों की बेजवह मौत को कम किया जा सके। यह सीरीज विकासक्रम के अतीत की गहरी खोज करती है और इसमें इन सरीसृपों (रेप्टाइल्स) के प्रति बुनियादी डर को बताया गया है। इसमें साँपों के बारे में मिथकों और रिवाजों की पड़ताल करते हुए और ऐंटी-वैनम के अक्सर बेअसर होने का कारणों को समझाया गया है।

यह चैनल ‘हेल्दी टेल्स’ नामक एक और दिलचस्प संकलन प्रस्तुत करने जा रहा है। यह कई शोज का संग्रह है जिसमें लोगों को अलग-अलग नजरिए से सेहत को देखने का अवसर मिलेगा। ‘द ट्रुथ अबाउट हेल्‍थी ईटिंग’ हर किसी को प्रभावित करने वाले विषय की गहरी पड़ताल की गई है। यह शो सुपरफूड्स से जुड़ी गलतफहमियों को दूर करता है और मिनरल वाटर के बारे में मिथक से पर्दा उठाता है। ‘द ट्रुथ अबाउट कैलोरीज’ शो उन तथ्यों को उजागर करता है जो लोगों की कैलोरीज और फ़ूड के बारे में सभी जानकारियों से अलग हैं। यह लोगों को फैंसी डाइट्स पर फोकस करने के बदले स्मार्ट भोजन करने की प्रेरणा देता है। अगला शो, ‘ईट टू लिव में रेडिकल डाइट्स और लाइफस्टाइल की पसंद को लुभावने ट्विस्ट्स के साथ सामने लाया गया है। वहीं ‘शेफ वर्सस साइंस’ में वैज्ञानिक मार्क मियोडाउनिक दुनिया के सबसे स्वादिष्ट व्यंजनों के पीछे के विज्ञान की जानकारी देने के साथ-साथ किचन में भोजन को जिन आश्चर्यजनक बदलावों से गुजरना पड़ता है, उसके बारे में बताते हैं। एक और सीरीज ‘कुक क्लेवर’ में दर्शक देखेंगे कि किस प्रकार लोग भोजन की बर्बादी के प्रति सजग होकर पृथ्वी की मदद कर सकते हैं। इस सीरीज का अभिप्राय लोगों को भोजन की अपेक्षित मात्रा बताते हुए उनकी कुकिंग और फ़ूड शॉपिंग संबंधी आदतों को बदलना है।

Comments

Popular posts from this blog

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

बबीता फोगट WFI के खिलाफ आरोपों की जांच के लिए गठित ओवरसाइट कमेटी पैनल में शामिल

उप श्रम आयुक्त द्वारा लिखित में मांगों पर सहमति दिए जाने के बाद ट्रेड यूनियनों ने समाप्त किया धरन : गंगेश्वर दत्त शर्मा