गेमिंग के जिम्‍मेदार व्‍यवहार को बढ़ावा देने के लिये असली गेमर कैम्‍पेन लॉन्‍च

◆ भारतीय क्रिकेटर शुभमन गिल और रैपर और हिप-हॉप आर्टिस्‍ट नाएज़ी को अपने साथ लिया

शब्दवाणी समाचार शनिवार 14 जनवरी 2023, सम्पादकीय व्हाट्सप्प 8803818844, नई दिल्ली। भारत के टॉप ऑनलाइन स्किल गेमिंग ऑपरेटर्स का प्रतिनिधित्‍व करने वाली संस्‍था ई-गेमिंग फेडरेशन (ईजीएफ) ने खिलाड़ियों के बीच गेमिंग के जिम्‍मेदार व्‍यवहार को बढ़ावा देने के लिये ‘असली गेमर’  कैम्‍पेन लॉन्‍च किया है। खिलाड़ी की सुरक्षा और जिम्‍मेदार खेल के लिये ईजीएफ की प्रतिबद्धता को दोहराते हुए, विचारों को झकझोरने वाला यह कैम्‍पेन खिलाड़ियों को शिक्षित करने और उन्‍हें ऑनलाइन गेमिंग के संभावित बुरे परिणामों से बचाने के लक्ष्‍य के साथ जिम्‍मेदार गेमिंग के ऊच्‍च मानकों को पेश करता है। भारतीय क्रिकेटर शुभमन गिल ने बताया, “जैसे कि क्रिकेट की पिच पर खेल में उचित व्‍यवहार जरूरी होता है, उसी तरह ऑनलाइन गेम्‍स खेलते वक्‍त भी गेमिंग का जिम्‍मेदार बर्ताव जरूरी है। मैं ईजीएफ के ‘असली गेमर’ कैम्‍पेन का हिस्‍सा बनकर खुश हूँ, जिसका लक्ष्‍य है प्‍लेयर्स को एकजुट करना और गेमिंग के सुरक्षित माहौल के लिये बातचीत को बढ़ावा देना।

रैप सॉन्‍ग के कम्‍पोजर नावेद शेख, ऊर्फ नाएज़ी ने बताया, “भारत में ऑनलाइन गेमिंग इंडस्‍ट्री ने काफी तेजी से तरक्‍की की है और मेरा पक्‍का मानना है कि सुरक्षित खेल का पक्ष लेने से प्‍लेयर के सबसे बढि़या अनुभव में योगदान मिलेगा। मुझे ईजीएफ के इस महत्‍वपूर्ण प्रयास कर हिस्‍सा बनने पर गर्व है, जो कि गेमिंग के जिम्‍मेदार सिद्धांतों का एक असरदार देशव्‍यापी कोड तय करेगा। उम्‍मीद है कि यह कैम्‍पेन भारतीय प्‍लेयर्स की जिम्‍मेदार गेमिंग के लिये प्रतिबद्धता को मजबूती देगा और उन्‍हें बदलाव लाने के लिये सशक्‍त करेगा। ई-गेमिंग फेडरेशन के सीईओ समीर बरडे ने कहा, “प्‍लेयर की सुरक्षा और जिम्‍मेदार गेमिंग पिछले 4 वर्षों से ईजीएफ के स्‍व–विनियामक मानक में रची-बसी रही है। उद्योग के लिये हमने हमेशा उचित और पारदर्शी खेल को बढ़ावा देने वाले खिलाड़ियों और प्‍लेटफॉर्म्‍स के लिये जिम्‍मेदार गेमिंग को संभव और आसान बनाने के महत्‍व पर जोर दिया है। हमारे सर्टिफाइड ऑपरेटर्स पहले से हमारे ‘कोड ऑफ कंडक्‍ट‘ पर चल रहे हैं और उन जरूरतों को पूरा कर रहे हैं, जिनमें डेली मंथली लिमिट्स, सेल्‍फ–एक्‍सक्‍लूजन, कमजोर खिलाड़ियों की सहायता, प्‍लेयर डाटा की सुरक्षा, सुरक्षित पेमेंट्स सुनिश्चित करना और मार्केटिंग के जिम्‍मेदार अनुपालन, आदि जैसे फीचर्स जरूरी होते हैं। 

Comments

Popular posts from this blog

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

उप श्रम आयुक्त द्वारा लिखित में मांगों पर सहमति दिए जाने के बाद ट्रेड यूनियनों ने समाप्त किया धरन : गंगेश्वर दत्त शर्मा

तुलसीदास जयंती पर जानें हनुमान चालीसा की रचना कैसी हुई : रविन्द्र दाधीच