Posts

डॉ तनवीर सिंह ने पिता को दी श्रद्धांजलि

Image
शब्दवाणी समाचार, रविवार 20 जून  2021 , नई दिल्ली ।  इसमें कोई शक नहीं कि पिता परिवार का सबसे महत्वपूर्ण सदस्य होता है। वह अपने प्रियजनों को खुश और सुरक्षित रखने के लिए दिन-रात काम करता है। वह शिक्षा या अन्य मौद्रिक जरूरतों के लिए आने वाली सभी जिम्मेदारियों को उठाता है। वह अपने बच्चों की परवरिश के पीछे की ताकत बनते हैं। इसलिए, इस फादर्स डे, बी.डी.एस. एम.डी.एस. दंत चिकित्सालयों की अग्रणी श्रंखला डेंटेम के (ऑर्थो) डॉ. तनवीर ने जरूरतमंद लोगों को मासिक राशन देने के लिए एक कुष्ठ रोग आश्रम में जाकर अपने दिवंगत पिता को विशेष श्रद्धांजलि दी। उनके साथ उनकी मां अरविंदर कौर भी इस दिल को छू लेने वाले हावभाव का हिस्सा थीं। उसी के बारे में बात करते हुए, डॉ तनवीर ने कहा, "आज सबसे बड़ी बीमारी कुष्ठ या तपेदिक या सीओवीआईडी ​​नहीं है, यह अवांछित होने की भावना है। फादर्स डे पर, मैं अपने पिता को श्रद्धांजलि देना चाहता हूं जो ऊपर स्वर्ग में हैं, बनाकर ये लोग विशेष महसूस करते हैं जो आज समाज से सबसे ज्यादा खारिज किए जाते हैं।

फादर्स डे पर पिता के साथ बिताये समय : रीता मलिक

Image
  ◆ यह दिन बच्चों को पिता के प्रति अपना प्यार और देखभाल दिखाने का अवसर प्रदान करता है ◆ पिता अपनी खुशियों का बलिदान देकर अपने बच्चों और परिवार की खुशियों का ध्यान रखते है शब्दवाणी समाचार, रविवार 20 जून  2021 ,  (विवेक जैन) बागपत। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर इस बार 20 जून को फादर्स-डे मनाया जायेगा। हर वर्ष जून महीने के तीसरे रविवार को यह दिवस मनाया जाता है। जनपद बागपत के वार्ड नम्बर 7 से नवनिर्वाचित जिला पंचायत सदस्य और प्रसिद्ध समाजसेविका रीता मलिक धर्मपत्नी जितेन्द्र मलिक बताती है कि यह दिन पिता के लिये सबसे बड़े सम्मान के दिन के रूप में जाना जाता है। पिता अपनी खुशियों का बलिदान देकर अपने बच्चों और परिवार की खुशियों का ध्यान रखते है। पिता अपने परिवार के लिए रोज कार्य करते है। वह जो भी कमाते है उसे परिवार के सुख के लिये लगा देते है। वे ये कभी नही दर्शाते है कि अपने बच्चों के लिये पूरा दिन क्या-क्या परेशानियां झेलते है। एक परिवार में जितनी महत्वपूर्ण माता होती है उतने ही महत्वूपर्ण पिता भी होते है।  माता का प्यार सभी को दिखायी देता है, लेकिन पिता का प्यार दिखायी नही देता जबकि वह बच्चों को म

गांवो की हर समस्या का किया जाएगा समाधान : सुनीता

Image
    ◆  विकास में नही छोड़ी जायेगी कोई कमी, गांवो का होगा चहुंमुखी विकास  ◆  पेंशन, आवास, राशन जैसी हर योजनाओं का मिलेगा पात्र व्यक्ति को लाभ शब्दवाणी समाचार, रविवार 20 जून  2021 ,  (विवेक जैन) बागपत। बागपत के वार्ड नम्बर 5 से नवनिर्वाचित जिला पंचायत सदस्य सुनीता धर्मपत्नी विकास कुमार पर्यावरण संरक्षण और लोगों को उनके मूलभूत अधिकारों को दिलवाने के प्रति काफी सजग है। उन्होंने कहा कि गांवो का चहुंमुखी विकास किया जायेगा और गांवो के विकास में किसी प्रकार की कोई कमी नही छोड़ी जायेगी। गांवो की हर समस्या का प्राथमिकता के आधार पर निस्तारण कराने की पूरी कोशिश करेंगी। कहा कि हर गांव का एक समान विकास होगा, किसी भी गांव की अनदेखी नहीं की जाएगी। गांव की प्रतिभाओं निखारने के लिये पूरा प्रयास किया जायेगा। बच्चों के खेलकूद के लिये संसाधनों की व्यवस्था की जायेगी। युवाओं को प्रोत्साहित करने के लिए खेलकूद को बढ़ावा दिया जायेगा। गांवों की स्वच्छता पर कार्य किया जायेगा। योजनाओं की जानकारी व लाभ आमजन तक पहुॅचाया जायेगा। हर पात्र व्यक्ति को पेंशन, आवास, राशन जैसी हर योजनाओं का लाभ मिलेगा। सड़क, बिजली, पानी जैस

योग दैनिक जीवन की अनिवार्यता

Image
शब्दवाणी समाचार, रविवार 20 जून  2021 , नई दिल्ली ।  (लेखिका - सुश्री कंचन नाइकावाडी, प्रबंध म्निदेशक और निवारक स्वास्थ्य देखभाल विशेषज्ञ, इंडस हेल्‍थ प्‍लस) नई दिल्ली। दुनिया एक साल से ज्‍यादा वक्‍त से कोविड-19 महामारी से लड़ रही है। केवल ढाई महीने पहले, भारत में अचानक इसके मामले बढ़े और ऑक्‍सीजन की कमी हुई, अस्‍पतालों के बेड्स की संख्‍या में कमी हुई और लगभग हर दूसरे व्‍यक्ति के संक्रमित होने से कोविड-19 के रोगियों की संख्‍या बढ़ गई। उस कठिन समय में, हर कोई कुंठित, असहाय और गंभीर रूप से चिंतित होने का अनुभव कर रहा था। इसका लोगों के मानसिक,  शारीरिक और मनोवैज्ञानिक स्‍वास्‍थ्‍य पर बुरा प्रभाव पड़ा और वे अंदर तक हिल गये। अपने तनाव से निपटना और अपनी भलाई के लिये राहत के उपाय करना सीखना लोगों के लिये महत्‍वपूर्ण है। अपने मानसिक और शारीरिक स्‍वास्‍थ्‍य का ध्‍यान रखना जरूरी है। इन दोनों को सुनिश्चित करने का एक तरीका है योग। 21 जून को दुनियाभर में अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस  मनाया जाता है। आत्‍मसंयम का यह अनुशासन आपको ज्‍यादा स्‍वस्‍थ जीवनशैली की दिशा में ले जाता है। विगत वर्षों में लोगों के

ड्रीम स्‍पोर्ट्स फाउंडेशन की नई पहल बैक ऑन ट्रैक

Image
◆ कोविड से प्रभावित 3500 से अधिक भारतीय खेल पेशेवरों की मदद कर रही है ◆ दिल्‍ली में 100 से अधिक लाभार्थियों को प्रदान की गई महत्‍वपूर्ण सहायता  शब्दवाणी समाचार, रविवार 20 जून  2021 , नई दिल्ली ।  ड्रीम स्‍पोर्ट्स (Dream Sports) की परोपकारी इकाई ड्रीम स्‍पोर्ट्स फाउंडेशन (Dream Sports Foundation (डीएसएफ) ने अपने बैक ऑन ट्रैक (Back on Track) नई पहल के तहत महामारी के दौरान 29 खेलों के 3500 से अधिक खेल पेशेवरों को सफलतापूर्वक मदद पहुंचाई है। 3500 लाभार्थियों में से 3300 मौजूदा और रिटायर्ड एथलीट्स हैं, 100 से अधिक कोच हैं, और 70 से ज्‍यादा स्‍पोर्ट्स सपोर्ट स्‍टाफ एवं पत्रकार हैं। लाभार्थी भारत के 24 राज्‍यों और तीन केंद्र शासित प्रदेशों से हैं। दिल्‍ली में 100 से अधिक खेल पेशेवरों ने इस पहल के माध्‍यम से महत्‍वपूर्ण मदद हासिल की है।  कोविड-19 महामारी ने विभिन्‍न स्‍तरों पर जीवन को प्रभावित किया है, जिससे खेल सहित सभी उद्योगों और क्षेत्रों में नौकरी एवं आय का नुकसान हुआ है। राष्‍ट्रीय खेल दिवस पर अगस्‍त 2020 में लॉन्‍च किया गया ‘बैक ऑन ट्रैक’ खेल उद्योग के जरूरतमंद लोगों को वित्‍तीय सहाय

अनियमित पीरियड्स से छुटकारा दिलाने में कारगर है, आयुर्वेदिक उपचार

Image
◆ मिलेगी असहनीय दर्द से राहत शब्दवाणी समाचार, रविवार 20 जून  2021 , नई दिल्ली ।  महिलाओं में होने वाली एक ऐसी यौन स्वास्थ्य समस्या जिसे न तो बीमारी कहा जा सकता है और न ही किसी प्रकार का विकार। इस तरह की समस्या हार्मोन में असंतुलन के कारण उत्पन्न होती है। इस समस्या को हम कई नामों से जानते है जैसे पीरियड, माहवारी, मासिक चक्र, मासिक धर्म इत्यादि। यदि माहवारी नियमित रहे तो सब कुछ ठीक रहता है परन्तु यदि यह अनियमित हो जाती है तो कई स्वास्थ्य संबंधी समस्या खड़ी हो जाती है।मासिक धर्म हर महिला के जीवन में एक खतरा है। हर महीने यह चक्र कई लोगों के लिए एक चक्रवात लेकर आता है। जहां कुछ पेट दर्द के कारण दम तोड़ देते हैं, वहीं कुछ को भारी रक्तस्राव होता है। कोई मुंहासों से लड़ता है तो कोई मिचली महसूस करता है और कई अनियमितता की परेशानी से जूझते हैं। हर महिला को किसी न किसी तरह की स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ता है। अनियमित माहवारी अधिकांश महिलाओं एवं युवतियों के लिए एक चुनौतीपूर्ण समस्या बनी हुई है। इस समस्या की मुख्य वजह अनुचित खानपान एवं लाइफस्टाइल को बताया गया है। अभी तक हुए बहुत सारे अध्

दीदी की रसोई ने गरीब जरूरतमंद लोगों को कराया भोजन

Image
  शब्दवाणी समाचार, रविवार 20 जून  2021, गौतम बुध नगर। जरूरतमंद गरीब लोगों की सेवा में लगी दीदी की रसोई टीम ने वरिष्ठ सामाजिक कार्यकर्ता व दीदी की रसोई की प्रमुख रितु सिन्हा और दीदी की रसोई के प्रमुख पदाधिकारी एवं मजदूर नेता सीटू जिलाध्यक्ष गंगेश्वर दत्त शर्मा के नेतृत्व में शनिवार 19 जून 2021 को शनि मंदिर सेक्टर 14 नोएडा पर जरूरतमंद लोगों को भोजन का वितरण किया। आज के भोजन प्रबंध में सामाजिक कार्यकर्ता मनोज  गोयल, हर्षवर्धन गोयल ने सहयोग किया।  भोजन वितरण में वरिष्ठ सामाजिक कार्यकर्ता मीना बाली, पुलिस अधिकारी प्रीति गुप्ता, मुकेश कुमार, दीदी रसोई की रसोई की कार्यकर्ता रेखा चौहान, मीनू आदि ने मदद किया। गौरतलब है कि दीदी की रसोई से हर रोज अलग-अलग स्थानों पर भोजन का वितरण, कपड़ा, बर्तन एवं सूखा राशन आदि वितरित होता रहता है। इस अवसर पर रितु सिन्हा व गंगेश्वर दत शर्मा ने कहा कि दीदी की रसोई के माध्यम से हम लगातार गरीब जरूरतमंद लोगों, वृद्ध, विकलांग, बच्चों की सेवा कर रहे हैं, और आगे भी हम इसी तरह गरीब जरूरतमंद लोगों की सेवा करते रहेंगे।