यूनीकैस क्रिप्टो बैंक भारत में खुला

•  विश्व की पहली भौतिक क्रिप्टो बैंकिंग शाखा जयपुर में खुली


शब्दवाणी समाचार, मंगलवार 5 जनवरी  2021, मुंबई। कैशा ने यूनाइटेड मल्टीस्टेट कोऑपरेटिव सोसाइटी के साथ एक संयुक्त उद्यम के माध्यम से विश्व का पहला क्रिप्टो बैंक 'यूनीकैस' शुरू किया है जो उपयोगकर्ताओं को एक खाते से क्रिप्टोकरेंसी और फिएट में लेनदेन करने की अनुमति देता है। संयुक्त उद्यम, कैशा को संयुक्त विनियामक लाइसेंस, इसकी भौतिक शाखाओं और समग्र बैंकिंग संरचना तक पहुँचने में सक्षम करेगा। 

यूनीकैस के सीईओ श्री दिनेश कुकरेजा ने कहा, 'यूनीकैस जनवरी में अपनी सेवाओं को ऑनलाइन और एनसीआर, राजस्थान, और गुजरात भर में 14 शाखाओं के माध्यम से खोल रहा है, और 2022 के अंत तक तेजी से 100 शाखाओं तक विस्तार करने की योजना बना रहा है। यह हमें स्थानीय भारतीय बाजारों के लिए अनुकूलित वित्तीय और क्रिप्टो उत्पादों के निर्माण, पैमाना बनाने और पेशकश करने की अनुमति देगा। भारत में उपयोगकर्ता पारंपरिक बैंकों के साथ जिस तरह से काम करते हैं, उसी तरह से एक बचत खाते के माध्यम से जमा और निकासी कर सकेंगे। पूरे विश्व में यह पहली बार है जब किसी वित्तीय संस्थान ने भौतिक शाखाओं के माध्यम से क्रिप्टोकरेंसी व्यापार को सक्षम किया है।

यूनीकैस फिएट और क्रिप्टो, दोनों परिसंपत्तियों के लिए बैंकिंग सेवाएँ प्रदान करेगा। सेवाओं में क्रिप्टो खर्च करने के लिए बचत खाते, क्रिप्टो विनिमय, क्रिप्टो ऋण और डेबिट कार्ड शामिल हैं। उपयोगकर्ता यूनीकैस वॉलेट में क्रिप्टो परिसंपत्तियों को जमा करके और अपने कार्ड या बैंक खाते में उसके समकक्ष मूल्य के भारतीय रुपये का अनुरोध करके डिजिटल रूप से एक त्वरित ऋण प्राप्त कर सकते हैं।

Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता

मीडिया प्रेस क्लब का वार्षिक कलैंडर हुआ विमोचन