बालि वध, लंका दहन आदि प्रसंगों का किया वर्णन

शब्दवाणी समाचार, सोमवार 8 मार्च  2021, गौतम बुध नगर। रविवार को सेक्टर 49 की नत्थू कॉलोनी में आयोजित श्रीराम कथा के सातवें दिन कथा व्यास डॉ निधि तैलंग ने कथा सुनाते हुए कहा कि सीता की खोज करते समय हनुमान जी से भगवान राम की भेंट होती है। हनुमान जी भगवान को पहचान लेते हैं। हनुमान जी सुग्रीव के पास राम लक्ष्मण को ले जाते हैं। सुग्रीव से मित्रता के बाद भगवान राम को सुग्रीव अपने बड़े भाई बाली के अत्याचार के बारे में बताते हैं। भगवान बाली का वध कर देते हैं । 

सीता की खोज के लिए चारों ओर वानर सेना भेजी जाती है। हनुमान जी समुद्र लांघकर लंका पहुंचते हैं वहां माता सीता से भेंट करते हैं। इसके बाद राक्षसों का वध कर पूरी लंका को जलाकर राख कर देते हैं। आयोजन समिति के प्रवक्ता राघवेंद्र दुबे ने बताया कि 8 मार्च को सेतु बन्धु रामेश्वरम की स्थापना, मेघनाद वध, कुम्भकर्ण वध आदि कथाओं का वर्णन किया जाएगा। इस अवसर पर महेंद्र सिंह, कौशल्या, मुन्नी देवी, वंदना, सुशील पाल, गोरेलाल, देवेंद्र गुप्ता, उत्तम चंद्रा, शैलेश द्विवेदी, शिवव्रत तिवारी सहित तमाम भक्तजन मौजूद रहे।

Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता

उप प्रधानाचार्य प्रशासनिक अनियमितताएं और भ्र्ष्टाचार में लिप्त, मुख्य अधिकारी नहीं ले रहे संज्ञान