ऊबर के 100,000 से ज्यादा ड्राईवर्स को लगा टीका

शब्दवाणी समाचार, शुक्रवार 30 जुलाई 2021गुरुग्राम। ऊबर ने घोषणा करके बताया कि इसके प्लेटफॉर्म पर मौजूद 100,000 से ज्यादा ड्राईवर्स को कोविड वैक्सीन का कम से कम एक शॉट लग चुका है। यह इस साल के अंत तक प्लेटफॉर्म पर मौजूद 150,000 ड्राईवर्स को वैक्सीन लगवाने के कंपनी के 18.5 करोड़ रु. के अभियान का हिस्सा है। ऊबर ने पिछले माह अपनी पहली उपलब्धि की घोषणा करने के बाद ड्राईवर के वैक्सीनेशन में तीव्र प्रगति की है। इसने एक मजबूत टेक-इनेबल्ड वैलिडेशन प्रक्रिया विकसित की है, ताकि ऊबर पर रजिस्टर्ड ड्राईवर के विवरण एवं कोविन द्वारा जारी किए गए डिजिटल वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट का मिलान कर वैक्सीनेशन के हर क्लेम का सत्यापन हो सके। जब यह प्रक्रिया पूरी हो जाती है, तो ड्राईवर्स को वैक्सीन लगवाने के लिए दिए गए समय के बदले दोनों में से हर शॉट के लिए 400 रु. का मुआवज़ा मिलता है। कंपनी ड्राईवर्स के बीच वैक्सीन लगवाने की झिझक को खत्म करने के लिए इन-ऐप संदेश, वीडियो एवं मेडिकल विशेषज्ञों के साथ वर्चुअल मीटिंग्स का आयोजन कर रही है ताकि प्रचलित मिथकों को तोड़कर वैक्सीन के फायदों के बारे में जागरुकता बढ़ाई जा सके।

महामारी को रोकने के लिए भारत सरकार को ऊबर द्वारा दी गई सहायता सराहनीय है। सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय (मॉर्थ) के माननीय मंत्री, श्री नितिन गडकरी ने कहा, ‘‘इस मुश्किल समय में, पूरे देश के परिवहनकर्मी आवश्यक सेवाओं की आपूर्ति के लिए फ्रंटलाईन कर्मी बनकर उभरे। खासकर, राईडशेयर ड्राईवर्स ने व्यक्तिगत, आवश्यक आपूर्ति, दवाईयों एवं जीवनरक्षक उपकरणों के परिवहन के लिए ऑन-डिमांड अर्थव्यवस्था की शक्ति का प्रदर्शन किया। मुझे यह देखकर खुशी मिली कि ऊबर ने अपने प्लेटफॉर्म पर ड्राईवर्स के स्वास्थ्य एवं सुरक्षा बढ़ाने के लिए अनेक कल्याणकारी उपाय किए हैं। खासकर, मैं वैक्सीन की दो खुराक लगवाने वाले ड्राईवर्स के लिए इनाम राशि दिए जाने के प्रयास की सराहना करता हूँ। मैं परिवहन सेक्टर के कर्मियों की बेहतरी के लिए ऊबर इंडिया की निरंतर चल रही प्रतिबद्धता की सराहना करता हूँ और भविष्य के लिए उन्हें शुभकामनाएं देता हूँ।

इस उपलब्धि के बारे में, प्रभजीत सिंह, प्रेसिडेंट, ऊबर इंडिया साउथ एशिया ने कहा, ‘‘कोविड-19 को फैलने से रोकने के लिए वैक्सीनेशन के प्रमाणित महत्व के कारण हमारा मानना है कि यदि ज्यादा ड्राईवर्स वैक्सीनेटेड होंगे, तो हमारे प्लेटफॉर्म पर सुरक्षा बढ़ेगी और राईडर्स का आत्मविश्वास बढ़ेगा। हमें ड्राईवर्स की बेहतरीन प्रतिक्रिया मिली है और हम राईडर्स एवं ड्राईवर्स को जल्द से जल्द दोनों खुराक लगवाने में मदद करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। राईड के दौरान अनिवार्य मास्क एवं नियमित तौर पर वाहन का सैनिटाईज़ेशन जैसे अन्य सुरक्षा उपायों के अनुपालन के साथ वैक्सीनेशन सभी के लिए एक सुरक्षित ट्रैवल ज़ोन का निर्माण करेगा। ऊबर बैंगलुरू, कोलकाता, चेन्नई, हैदराबाद, लखनऊ, कानपुर, आगरा, बरेली, गोरखपुर, जयपुर, भोपाल और भुवनेश्वर सहित 12 भारतीय शहरों में ड्राईवर्स के लिए निशुल्क वैक्सीनेशन की व्यवस्था के लिए राज्य सरकारों के साथ सहयोग कर रहा है। कंपनी निजी या सरकारी सुविधाओं में वैक्सीन शॉट लगवाने वाले ड्राईवर्स में भेदभाव नहीं करती और उन सभी ड्राईवर्स को इनाम राशि देती है, जो वैक्सीनेशन का वैध प्रमाण प्रस्तुत करते हैं।

ऊबर ने महामारी के दौरान ड्राईवर्स को विभिन्न अन्य अभियानों द्वारा सहयोग किया, जिसमें कोविड-19 से संक्रमित हुए ड्राईवर्स के लिए 14 दिनों तक आंशिक आय का सहयोग शामिल है। यदि कोविड-19 के कारण किसी ड्राईवर की दुखद मृत्यु होती है, तो ऊबर 75,000 रु. का वन-टाईम सपोर्ट पैकेज प्रदान करेगा ताकि उसके परिवार के शेष सदस्यों की तत्कालिक जरूरतें पूरी हो सकें। महामारी के शुरुआती दिनों से ऊबर ने सदैव कोविड के लिए भारत की प्रतिक्रिया में सहयोग कर उसे मजबूत किया है। इस साल मार्च में ऊबर ने लोगों को नज़दीकी वैक्सीन केंद्र से आवागमन करने के लिए 10 करोड़ रु. की निशुल्क राईड्स की घोषणा की थी। जून में कंपनी ने जिंदगियां बचाने में मदद करने के लिए इमरजेंसी सहायता पहुंचाने में विशेषज्ञ कई एनजीओ के साथ साझेदारी में जीवनरक्षक ऑक्सीजन सिलेंडर, कंसन्ट्रेटर, वैंटिलेटर एवं अन्य महत्वपूर्ण मेडिकल उपकरणों के परिवहन के लिए 3.65 करोड़ मूल्य की निशुल्क राईड की घोषणा की थी।

Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता

मीडिया प्रेस क्लब का वार्षिक कलैंडर हुआ विमोचन