डॉलर में नरमी से सोना चढ़ा, जबकि आपूर्ति गड़बड़ाने की संभावना से तेल में तेजी

शब्दवाणी समाचार, बुधवार 7 जुलाई 2021मुंबई। ओपेक की ओर से आने वाले महीनों में उत्पादन के रुख पर स्पष्टता न होने से सप्लाई मार्केट गड़बड़ाने की संभावनाओं का लाभ कच्चे तेल को हुआ, जबकि डॉलर में नरमी ने सोने का समर्थन किया। एंजेल ब्रोकिंग लिमिटेड के नॉन एग्री कमोडिटी एंड करेंसी रिसर्च एवीपी श्री प्रथमेश माल्या ने बताया कि सोमवार को स्पॉट गोल्ड 0.3 फीसदी की तेजी के साथ 1791.6 डॉलर प्रति औंस पर बंद हुआ था। अमेरिकी डॉलर और बॉन्ड यील्ड में नरमी से बुलियन मेटल में तेजी आई और सेफ हेवन एसेट गोल्ड की अपील बढ़ी।

अमेरिकी रोजगार के आंकड़ों में अमेरिकी श्रम बाजार में प्रगति को लेकर कोई स्पष्टता नजर नहीं आने से पिछले सप्ताह में स्थिर लाभ के बाद डॉलर में गिरावट आई। अमेरिकी कंपनियों ने नियुक्तियां बढ़ाईं, पर बेरोजगारी के आंकड़े अधिक तेजी से बढ़े और प्रति घंटा आय अपेक्षित से धीमी गति से बढ़ी। आने वाले महीनों में केंद्रीय बैंक के मौद्रिक रुख के संकेतों के लिए बुधवार को होने वाली अमेरिकी फेडरल रिजर्व की नवीनतम पॉलिसी बैठक के मिनटों पर निवेशकों की नजर रहेगी। पीली धातु को भी कुछ समर्थन मिला क्योंकि कोविड-19 के डेल्टा वैरिएंट के तेजी से प्रसार ने निवेशकों की भावनाओं को प्रभावित किया। एशिया, ऑस्ट्रेलिया और यूरोप के कई क्षेत्रों में संक्रमित मामलों में वृद्धि के बाद लॉकडाउन के विस्तार ने बाजार की धारणा को प्रभावित किया।

कच्चा तेल: सप्ताह के पहले कारोबारी दिन ओपेक की बैठक में समझौता नहीं होने से ब्रेंट डब्ल्यूटीआई क्रूड की कीमतें 0.4 प्रतिशत बढ़कर 79.2 डॉलर प्रति बैरल हो गईं। संयुक्त अरब अमीरात ने उत्पादन में कटौती का विरोध किया और उत्पादन में कटौती को बढ़ाने की बात कही, जिससे तेल निर्यातक समूह की बैठक में आने वाले महीनों के लिए उत्पादन रुख पर कोई डील नहीं हो सकी। ओपेक और उसके सहयोगियों से अतिरिक्त तेल आपूर्ति नहीं होने की संभावना को देखते हुए तेल की कीमतें बढ़ीं, क्योंकि पहले की रिपोर्टों ने वैश्विक मांग में सुधार के बाद 2020 में उत्पादन प्रतिबंधों को हटाने का सुझाव दिया था। हालांकि, डेल्टा वैरिएंट के मामलों में वृद्धि के बाद एशिया, ऑस्ट्रेलिया और यूरोप में महामारी को लेकर लगे कड़े प्रतिबंधों की चिंता ने क्रूड के लाभ को सीमित कर दिया।

Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

बिल्कुल देसी वीडियो कंटेंट प्लेटफार्म ट्रेलर ने 20 मिलियन नए यूज़र दर्ज किए

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता