सीएससी और वोडाफ़ोन आइडिया फाउन्डेशन ने कोविड-19 टीकाकरण का पंजीकरण करेगा

 

 बुजु़र्गों, दिव्यांगो, झुग्गीवासियों एवं दिहाड़ी मजदूरों सहित 1 मिलियन लोगों को कोविन पोर्टल पर रजिस्टर करने का लक्ष्य  

शब्दवाणी समाचार, शनिवार 21 अगस्त 2021, नई दिल्ली। विद्युत एवं सूचना प्रोद्यौगिकी मंत्रालय के तहत काॅमन सर्विसेज़ सेंटरों ने नागरिकों को जानलेवा कोविड-19 वायरस से सुरक्षित रखने के लिए टीकाकरण हेतु पंजीकरण करने के लिए वी की सीएसआर शाखा वोडाफ़ोन आइडिया फाउन्डेशन के साथ साझेदारी की है। इस पहल के तहत संवेदनशील एवं वंचित समुदायों पर विशेष ध्यान दिया जाएगा।  

सीएससी की सीएसआर एवं शिक्षा शाखा सीएससी एकेडमी, ग्रामीण स्तर के उद्यमों (वीएलई) के माध्यम से देश भर में टीकाकरण के लिए एक मिलियन लाभार्थियों के रजिस्ट्रेशन एवं शेड्यूलिंग में मदद करेगी। वीएलई ऐसे बुज़र्गां, झुग्गीवासियों, दिहाड़ी मजदूरों को पहचानेंगे जिन्हें अब तक कोविड-19 वैक्सीन नहीं दी गई है .साझेदारी पर बात करते हुए डाॅ दिनेश त्यागी, मैनेजिंग डायरेक्टर, सीएससी एसपीवी ने कहा, ‘‘सीएससी हमेशा से नागरिकों को लाभान्वित करने के लिए समाज कल्याण के कार्यों में सक्रिय रहा है। कोविन ऐप पर नागरिकों का पंजीकरण भी ऐसी ही एक पहल है, सीएससी हर व्यक्ति तक समग्र स्वास्थ्यसेवाएं पहुंचाने की प्रतिबद्धता के साथ इस दिशा में काम कर रहा है। वोडाफ़ोन आइडिया फाउन्डेशन के साथ यह साझेदारी हमें देश के सबसे वंचित एवं संवेदनशील समुदायों तक पहुंचने और उन्हें कोविन ऐप पर टीकाकरण के लिए रजिस्टर करने में मदद करेगी। इससे कोविड-19 के खिलाफ़ सरकार की लड़ाई को और मजबूत बनाया जा सकेगा।

इस पहल के बारे में बात करते हुए पी.बालाजी, चीफ़ रेग्युलेटरी एवं काॅर्पोरेट अफ़ेयर्स आॅफिसर, वोडाफ़ोन आइडिया लिमिटेड ने कहा, ‘‘वीआईएल में हम आधुनिक तकनीक एवं इनोवेशन्स के द्वारा ऐसे समाधान लेकर आते हैं जो समाज की मुख्य समस्याओं को हल कर सकें। सीएससी के साथ मिलकर हम 10 लाख ग्रामीणों तक पहुंचेंगे, जिन्हें टीकाकरण की ज़रूरत है। हम समाज के वंचित नागरिकों, संवेदनशील समुदायों एवं झुग्गीवासियों को वन-स्टाॅप समाधान उपलब्ध कराना चाहते हैं, ताकि हम उन्हें कोविन ऐप पर कोविड-19 वैक्सीन के लिए रजिस्टर कर देश के टीकाकरण अभियान को प्रभावी बनाने में योगदान दे सकें। इस पहल के तहत समाज के वंचित नागरिकों को प्राथमिकता दी जाएगी, जिनके पास इंटरनेट/स्मार्टफोन नहीं हैं या जो डिजिटल डिवाइसेज़ का उपयोग करना नहीं जानते। वीएलई इन नागरिकों को सीधे कोविन ऐप पर रजिस्टर करेगा, उन्हें ऐप पर मौजूद प्रक्रिया के अनुसार स्थानीय वैक्सीनेशन सेंटर के साथ जोड़ेगा और उनके टीकाकरण के लिए समय निर्धारित करेगा। 

राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण और स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा सीएससी की पहचान की गई है ताकि नागरिकों को कोविन प्लेटफाॅर्म पर रजिस्टर करने में मदद की जा सके। परियोजना पर नियमित रूप से निगरानी रखने के लिए एक टीम तैयार की गई है, जहां निगरानी का पूरा काम सीएससी डिजिटल सेवा पोर्टल पर निर्मित सेंट्रल डैशबोर्ड के माध्यम से किया जाएगा। इसमें रिपोर्ट बनाना, शिकायत निवारण और रोज़ाना में स्टेटस टैªकिंग शामिल होगी। लिंक के माध्यम से लाभार्थी अपना आधार नंबर देकर सीएससी से कोविड-19 टीकाकरण का सर्टिफिकेट डाउनलोड कर सकते हैं।   वोडाफ़ोन आइडिया फाउन्डेशन लम्बे समय से सीएससी एकेडमी का साझेदार है और 30 से अधिक मोबाइल वैन्स लगाने में सहयोग प्रदान कर चुका है जो आधारभूत स्तर पर वित्तीय एवं डिजिटल साक्षरता बढ़ाने में योगदान दे रही हैं। पिछले साल के बाद से इन वैन्स का उपयोग कोविड-19 के अनुुकूल व्यवहार को बढ़ावा देने और सूखे राशन के वितरण आदि के लिए किया जा रहा है। 

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

रेलवे स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड ने प्रशिक्षण शिविर के लिए चयन समिति का गठन किया

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच