iGRiD के नए उत्पादों से रोजगार के अवसरों में वृद्धि

●     ब्रांड द्वारा इस त्योहारी सीज़न में लॉन्च की जाने वाले नए वर्गों को समर्पित कार्यबल का सहयोग मिलेगा

●     ये नई प्रतिभाएं होम एसेंशियल, पर्सनल केयर और पर्सनल हेल्थ वर्टिकल की मौजूदा प्रोडक्ट लाइन को मजबूत करेंगी।

●     इस फेस्टिव सीजन में हेयर और फेस कैटेगरी में भी 15 नए उत्पाद पेश किए जाएंगे।

शब्दवाणी समाचार, वीरवार 18 नवम्बर  2021, हैदराबाद। शानदार प्रतिक्रिया के साथ ही बढ़ती मांग और आपूर्ति वाले, भारत के प्रमुख उपभोक्ता इलेक्ट्रॉनिक्स और लाइफस्टाइल ब्रांड, iGRiD इस त्योहारी सीज़न में उत्पादों की नई रेंज लॉन्च करने के लिए तैयार है। ब्रांड की इस प्रोडक्ट लाइन में इन नए उत्पादों से रोजगार के अवसरों में वृद्धि होगी, कंपनी नए प्रोडक्ट पोर्टफोलियो को भी लॉन्च करेगी जिसमें नए सीज़न के यूनिसेक्स संग्रह पेश किए जाएंगे।

पहले, iGRiD 20+ कर्मचारियों के कार्यबल से संचालित होता था, लेकिन हाल ही में कंपनी ने मौजूदा कर्मचारियों की लगभग दोगुना संख्या को नियुक्त करके कर्मचारियों की संख्या बढ़ाने का निर्णय लिया है। iGRiD के नवीनतम उत्पाद संग्रह में फेस और हेयर दोनों कैटेगरी शामिल होंगी: आयन मसाजर, फेशियल फाइन हेयर ट्रिमर, फेशियल आयनिक सौना, डीप कोर क्लीनिंग डिवाइस, हेयर: ड्रायर, कर्लर, हेयर स्ट्रेटनिंग ब्रश, कैलस रिमूवर और बहुत कुछ एक प्रीमियम रेंज में होगा।

इस घोषणा पर बात करते हुए iGRiD के संस्थापक और निदेशक श्री माधव कोटा ने कहा: "उपभोक्ताओं से मिल रही अच्छी प्रतिक्रिया और बाजार में बढ़ती मांग के कारण, हम अपने हेयर और फेस कैटेगरी में 15 उत्पाद लॉन्च कर रहे हैं। हमारा नवाचार प्रीमियम गुणवत्ता सुनिश्चित करने के साथ-साथ बजट के अनुकूल दरों पर अपने नए उत्पाद लॉन्च करके सेमी-प्रीमियम सेगमेंट में कदम रखने वाला है। संगठनात्मक मांग को पूरा करने के लिए, हम चालू वित्तीय वर्ष में 100+ पेशेवरों को काम पर रख रहे हैं। iGRiD सभी के लिए जॉब पोजिशंस और ट्रेनिंग सेशन पेश करके नए और अनुभवी लोगों को रोजगार के अवसर देने की उम्मीद कर रहा है। कंपनी ने 2022 तक 100+ लोगों को रोजगार देने की योजना बनाई है।


Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता

उप प्रधानाचार्य प्रशासनिक अनियमितताएं और भ्र्ष्टाचार में लिप्त, मुख्य अधिकारी नहीं ले रहे संज्ञान