कुश्ती के भीष्म पिता विश्वगुरु मास्टर चन्दगीराम की 12वीं पुण्यतिथि पर याद किये गये

शब्दवाणी समाचार, वीरवार 30 जून 2022, नई दिल्ली। यमुना किनारे, सिविल लाइन चन्दगीराम अखाड़े के कार्यालय पर 9 जून 2022 को देश के विख्यात पहलवान रहे पद्मश्री मास्टर चन्दगीराम जी की 12वीं पुण्यतिथि पर सामूहिक प्रार्थना, श्रद्धांजलि सभा, हवन-पूजन के साथ ही एक गोष्ठी व भंडारे का भी आयोजन किया गया । सर्वप्रथम श्री जगरूप सिंह अर्जुन अवॉर्डी, सुरेंद्र कालीरमण एडवोकेट और गुरूजी के शिष्य रहे अर्जुन पुरस्कार विजेता इंदौर के श्री कृपाशंकर पटेल ने स्वर्गीय चन्दगीराम जी के चित्र पर माल्यार्पण करके अपने श्रद्धासुमन अर्पित किये । इस दौरान गुरुजी के शिष्य रहे पूर्व पहलवान उपस्थित थे। वहीं देश के विभिन्न भागों से आए उस्ताद खलीफा और पहलवानों ने चन्दगीराम जी को श्रद्धासुमन अर्पित किया जहाँ पर चन्दगीराम जी की धर्मपत्नी श्रीमती माता फूलवती, श्रीमती उर्मिला सारण, पुत्र भारत केसरी पहलवान जगदीश कालीरामण पुत्रवधु पूनम कालीरामण के साथ ही चन्दगीराम जी के पोता-पोती अंशुमन कालीरामण और चिरागसी कालीरामण व बेटे ओम कालीरमण भी मौजूद थे | 

श्रद्धासुमन अर्पण और हवन पूजा समारोह के बाद भंडारा भी आयोजित किया गया था । इस अवसर पर पूर्व महापौर अवतार सिंह, जगरूप सिंह राठी (अर्जुन अवार्डी), कृपाशंकर पटेल (अर्जुन अवार्डी), ओमवीर सिंह, रहमान, राजकुमार यादव, सुमेर पहलवान, गुरु अशोक विशिष्ठ, श्री सुरेंद्र कालीरमन एडवोकेट,  एवं ध्यानचंद  अवार्डी  पहलवान मनोज  धनकड   एवं  वीर सिंह एसीपी, मूलचंद पहलवान, भूपेश कोच, रतन कालीरमण, विजय पहलवान, भूप सिंह डबास सुल्तानपुर डबास, कोच दीपक कुमार, खलीफा लेखराम, पहलवान मोहर सिंह, असलम पहलवान, भोलू पहलवान, खलीफा कामिल, खलीफा नूर पहलवान, रिजवान पहलवान, दिनकर चौधरी एडवोकेट व देवव्रत चौधरी आदि सहित भारी मात्रा में गुरूजी के शिष्यों ने आकर अपने गुरु को श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए याद किया। 

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

उप श्रम आयुक्त द्वारा लिखित में मांगों पर सहमति दिए जाने के बाद ट्रेड यूनियनों ने समाप्त किया धरन : गंगेश्वर दत्त शर्मा