नया रेफ्रिजरेटर लेना है तो इन बातों पर करें गौर

 

शब्दवाणी समाचार, बुधवार 3 अगस्त 2022, नई दिल्ली। जब बात रेफ्रिजरेटर की आती है तो आज के समय में आपके पास कई सारे विकल्प मौजूद हैं। रेफ्रिजरेटर का डोर खोले बगैर ठंडा पानी निकालने से कहीं ज्यादा विकल्प आपके सामने हैं। अपने लिये किसी एक रेफ्रिजरेटर का चुनाव करना आसान काम नहीं है, क्योंकि इसे लेने से पहले कई बातों का ध्यान रखना पड़ता है। जैसे रेफ्रिजरेटर का साइज क्‍या है या फिर उसकी स्टाइल व ऊर्जा दक्षता कैसी है, ब्रांड कौन सा है और इसकी कीमत क्‍या है। यदि आप अपने मौजूदा रेफ्रिजरेटर को रिप्लेस करने का मन बना रहे हैं, लेकिन आपको समझ नहीं आ रहा है कि कहां से शुरूआत करें? तो यहां कुछ ऐसे टिप्स दिए गए हैं जिन्हें आप रेफ्रिजरेटर खरीदने के दौरान कुछ मिनटों में ही पढ़ सकते हैं। 

क्षमता/साइज

रेफ्रिजरेटर की क्षमता को लीटर्स में ही नापा जाता है। तकनीक में प्रगति के साथ, इस अप्लायंस की क्षमता सीमा में आश्चर्यजनक दर से वृद्धि हुई है। यह कम से कम क्षमता से लेकर ज्यादा से ज्यादा क्षमता सीमा में  उपलब्ध है। अपनी जरूरत के आधार पर फैसला लेने के लिये आपको परिवार के आकार को ध्यान में रखना जरूरी है, जिससे आपके खाने की मात्रा तय होती है, जिन्हें आप अपने रेफ्रिजरेटर में रखेंगे। यदि आपके परिवार से 2-5 सदस्य हैं तो आपके लिये 263-364 लीटर की क्षमता वाला फ्रिज पर्याप्त है।

कन्‍व‍र्टिबल फ्रिज खरीदने के बारे में विचार करें

यदि आप अपने मौजूदा रेफ्रिजरेटर को रिप्लेस करने के बारे में सोच रहे हैं तो आप अपनी जरूरत/मांग के आधार पर कन्‍वर्टिबल रेफ्रिजरेटर खरीदने के बारे में जरूर विचार कर सकते हैं। इनमें रेफ्रिजरेटर या फ्रीजर के रूप में कमाल का लचीलापन होता है और यह फ्रिज मल्‍टीफंक्‍शन वाले होते हैं। आप बॉश मैक्स फ्‍लेक्स देख सकते हैं, जोकि भारत का पहला फ्लेक्सिबल रेफ्रिजरेटर है। भारतीय घरों की जरूरतों के हिसाब से बनाई गई देसी रेफ्रिजरेटर की रेंज स्टोरेज के लिहाज से अहम जरूरत को पूरा करता है। 

सुविधाजनक

इससे इनकार नहीं किया जा सकता कि जब आइस और पानी डिस्पेंसर, रेफ्रिजरेटर का हिस्सा होते हैं तो वह काफी सुविधाजनक हो जाता है। चाहे क्यूब आइस या क्रश किए हुए आइस से ग्लास से भर लें या फिर पीने के पानी से, इससे परिवार के लिये खाना बनाना या मेहमानों का स्वागत करना बहुत आसान हो जाता है।

आपके बजट में हो

नया फ्रिज लेने का फैसला करने में कीमत एक महत्वपूर्ण चीज होती है। सबसे पहले यह तय कर लें कि आप कितना खर्च करना चाहते हैं। फ्रिज खरीदना, एक ऐसी मशीन पर खर्च करना है जिसे चौबीसों घंटे चलाने की जरूरत होती है। इसलिये, फ्रिज खरीदने के दौरान आपकी जेब और आपके बिल पर कितना बोझ आएगा और उसमें सारी सुविधाएं हैं या नहीं, इन बातों पर जरूर गौर करना चाहिए।

ऊर्जा दक्षता (एनर्जी एफिशिएंसी) का ध्यान रखें

जब आप नया फ्रिज खरीद रहे हैं तो एनर्जी स्टार लेबल पर नजर जरूर डालें, इससे ग्राहकों को पता चलता है कि एक रेफ्रिजरेटर प्रति यूनिट बिजली की कितनी खपत करता है। एक फ्रिज में स्टार्स की संख्या जितनी ज्यादा होगी, उसमें बिजली की खपत उतनी कम होगी।

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

उप श्रम आयुक्त द्वारा लिखित में मांगों पर सहमति दिए जाने के बाद ट्रेड यूनियनों ने समाप्त किया धरन : गंगेश्वर दत्त शर्मा