nurture.farm ने स्टार्टअप्‍स के लिए कैटालिस्ट लॉन्च किया

◆ कृषि तकनीक के क्षेत्र में इनक्यूबेशन प्रोग्राम

◆ प्रोग्राम प्री-रेवेन्यू, सीड-फंडेड, एंजेल-फंडेड स्टार्टअप्‍स को इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर संबंधी, नेटवर्किंग और तकनीकी सहयोग प्रदान करेगा

शब्दवाणी समाचार, बुधवार 31 अगस्त 2022, बेंगलुरु। कृषि तकनीक (एग्री-टेक) उद्योग ने बहुत कम समय में काफी तेज रफ्तार से तरक्की की है। कई स्टार्टअप्‍स इस क्षेत्र में आगे आ रहे हैं, लेकिन व्यावहरिक रूप से अपना बिजनेस खड़ा करने के लिए जरूरी है कि उन्‍हें उचित मार्गदर्शन और संरक्षण के साथ-साथ संसाधनों तक पर्याप्‍त पहुंच मिले। इसी बात को ध्‍यान में रखते हुए, भारत की सबसे बड़ी और प्रमुख एग्री-टेक कंपनी nurture.farm अपने तकनीकी समाधानों की मदद से खेती का ऐसा पारितंत्र तैयार कर रही है जोकि सुविधाजनक होने के साथ ही स्‍थायी भी हो। nurture.farm ने अपना इनक्यूबेशन प्रोग्राम ‘कैटालिस्ट’ लॉन्च किया है। यह प्रोग्राम एग्रीटेक के क्षेत्र में काम करने वाले स्टार्टअप्स को अपना अस्तित्‍व बनाए रखने और आगे चलकर अपना दायरा बढ़ाने में मदद प्रदान करेगा।

nurture.farm का कैटालिस्ट प्रोग्राम एग्री-टेक स्टार्टअप्स को कृषि व्यवस्था के तहत प्रमुख हितधारकों के साथ साझेदारी करने में सहयोग देगा। उन्हें उनके खर्चों के लिए पूंजी उपलब्ध कराई जाएगी। इतना ही नहीं, वह अपने उत्‍पादों एवं समाधानों का बड़े पमाने पर परीक्षण कर सकेंगे और उन्हें इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर, कृषि उद्योग से जुड़ी विभिन्‍न जानकारियां और मानव संसाधन उपलब्ध कराने में मदद दी जाएगी। इस प्रोग्राम के तहत स्टार्टअप्स को अपनी वृद्धि की रफ्तार तेज करने के लिए बड़े पैमाने पर सहयोग दिया जाएगा। इस इनक्यूबेशन प्रोग्राम में तरह-तरह के स्टार्टअप्स को विकास में पूरा सहयोग मिलेगा, जिसमें प्री-रेवेन्यू, सीड-फंडेड या एंजेल-फंडेड स्टाटर्टअप्स शामिल हैं। कंपनी नए-नए क्षेत्रों में नई खोज कर रहे इन स्टार्टअप्स को सहायता देने के लिए पूरी तरह से तत्‍पर है। nurture.farm के साथ सहयोग कर, स्टार्टअप्‍स इसके अनुभव से लाभ उठा सकते हैं, ग्रामीण क्षेत्रों में काम करने का अपना नेटवर्क बढ़ा सकते हैं तथा इंडस्ट्री में अपने संबंधों और कंपनी की समय के साथ बढ़ती साख का लाभ उठा सकते हैं।

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

उप श्रम आयुक्त द्वारा लिखित में मांगों पर सहमति दिए जाने के बाद ट्रेड यूनियनों ने समाप्त किया धरन : गंगेश्वर दत्त शर्मा