डेटॉल ने अपनी डेटॉल बनेगा स्वस्थ इंडिया पहल लॉन्च किया

 

• भारत का पहला हाइजीन ओलंपियाड

• डेटॉल हाइजीन ओलंपियाड बना बच्चों के लिए भारत का सबसे बड़ा हाइजीन ओलंपियाड

• 2022 में डेटॉल हाइजीन ओलंपियाड 2 करोड़ 40 लाख बच्चों तक पहुंचेगा

शब्दवाणी समाचार, बुधवार 7 सितम्बर 2022, सम्पादकीय व्हाट्सप्प 8803818844, नई दिल्ली। दुनिया की अग्रणी कंज्यूमर हेल्थ एवं हाइजीन कंपनी रेकिट ने अपने फ्लैगशिप कैम्पेन डेटॉल बनेगा स्वस्थ इंडिया के तहत आज भारत का पहला और सबसे बड़ा हाइजीन ओलंपियाड - डेटॉल हाइजीन ओलंपियाड लॉन्च किया है। बेहतर हाइजीन एक अच्छे स्वास्थ्य की नींव होती है, इसी सिद्धान्त पर आधारित, इस ओलंपियाड में 2 करोड़ 40 लाख बच्चे शामिल होंगे। यह ओलंपियाड इन बच्चों को हाइजीन से जुड़ी अपनी रीजनिंग, एनालिटिकल एवं प्रॉब्लम सॉल्विंग स्किल को और बेहतर बनाने के लिए प्रेरित करेगा, इसी के साथ ही रोजमर्रा की हाइजीन से जुड़ी आदतों को उनके जीवन का हिस्सा बनाएगा। डेटॉल स्कूल हाइजीन करिकुलम को विस्तार देते हुए, यह पहल साफ सफाई से जुड़ी कमियों को दूर करने की रेकिट की प्रतिबद्धता को और मजबूती प्रदान करेगी। भारत को एक सेहतमंद देश बनाने के लिए साफ सफाई से जुड़ी इन कमियों को दूर करना बेहद जरूरी है। डेटॉल बनेगा स्वस्थ इंडिया द्वारा संचालित, ओलंपियाड को डेटॉल स्कूल हाइजीन प्रोग्राम के आउटरीच पार्टनर्स - प्लान इंडिया, सेसम वर्कशॉप इंडिया, ममता एचआईएमसी, बालीपारा फाउंडेशन, जागरण एवं ग्लोबल इंटरफेथ वॉश एलायंस (जीआईडब्ल्यूए) का समर्थन प्राप्त है। इसी के साथ ही अर्न्स्ट एंड यंग एलएलपी (ईवाई) इस ओलंपियाड के तकनीकी पार्टनर हैं, वहीं इंडियन टैलेंट ओलंपियाड ने इसे क्यूरेट किया है। यह ओलंपियाड 5 से 15 वर्ष की आयु के बच्चों के लिए है। इस ओलंपियाड का अनुभव छात्रों को यह सीखने में मदद करेगा कि हाइजीन, स्वास्थ्य और अपनों की सुरक्षा किस तरह आपस में एक दूसरे पर निर्भर हैं।

2021 में डेटॉल हाइजीन स्कूल प्रोग्राम के एक स्वतंत्र मूल्यांकन में यह सामने आया कि इस प्रोग्राम के चलते स्कूल में छात्रों की अनुपस्थिति में 57 प्रति की कमी आई है। जबकि 2020 में अनुपस्थिति की संख्या में 39 प्रतिशत की कमी दर्ज की गई थी। इसके अलावा, बच्चों में हाथ धोने की जानकारी 61 प्रतिशत बढ़ी है और उनकी साफ सफाई से जुड़ी आदतों में 62 प्रतिशत का सुधार हुआ है। डेटॉल हाइजीन ओलंपियाड माता-पिता, शिक्षकों और बच्चों के बीच हाइजीन से जुड़ी समझ की कमी को दूर करने के लिए जागरूकता बढ़ाने में मदद करेगा और हाथ धोने की आदतों को और बेहतर बनाने की दिशा में काम करेगा। इसके साथ ही यह ओलंपियाड स्कूल में छात्रों की अनुपस्थिति को और कम करने और सफाई से जुड़ी आदतों को बढ़ावा देने में मदद करेगा।

श्री गौरव जैन, वरिष्ठ उपाध्यक्ष, रेकिट - दक्षिण एशिया ने कहा, “रेकिट हमारे पर्पज प्रोग्राम की केंद्रित पहलों के साथ एक सेहतमंद धरती के निर्माण में अग्रणी भूमिका निभा रहा है। डेटॉल हाइजीन ओलंपियाड का शुभारंभ स्थायी निवेश के जरिए समाज को और बेहतर बनाने की दिशा में हमारा एक और कदम है। यह ओलंपियाड बच्चों में सफाई की आदतों को बढ़ावा देने में मदद करेगा। श्री रवि भटनागर, डायरेक्टर - एक्सटर्नल अफेयर्स एंड पार्टनरशिप, रेकिट- साउथ एशिया ने कहा, “हम बेहतर हाइजीन की नींव पर एक सेहतमंद दुनिया के निर्माण का प्रयास कर रहे हैं। भारत का पहला और सबसे बड़ा डेटॉल हाइजीन ओलंपियाड एक इनोवेटिव फ्रेमवर्क है जो डेटॉल बनेगा स्वस्थ इंडिया को भारत भर के 2 करोड़ 40 लाख बच्चों में साफ सफाई से जुड़ी आदतों को विकसित करने में मदद करेगा। इससे हम अपनी दुनिया को पहले से अधिक सेहतमंद बना पाएंगे।

दिग्गज धावक और इंडियन टैलेंट ओलंपियाड की ब्रांड एंबेसडर पी.टी. उषा ने कहा, “आज के समय में अच्छी सेहत और हाइजीन रुटीन को समझना और उस पर अमल करना बहुत जरूरी है। मैं इंडियन टैलेंट ओलंपियाड और डेटॉल बीएसआई के साथ इस पहल का हिस्सा बनकर खुश हूं, जो सेहत और हाइजीन के कॉन्सेप्ट को समझने में बच्चों की मदद कर रहे हैं और जरूरी जानकारी प्रदान कर रहे हैं। सुश्री मधुमती एम., डायरेक्टर, इंडियन टैलेंट ओलंपियाड ने कहा, “ओलंपियाड छात्रों की शैक्षणिक प्रतिभा और ज्ञान के ठोस आधार को प्रदर्शित करता है, इसके साथ ही यह उन क्षेत्रों पर भी प्रकाश डालता है, जिन पर ध्यान देने की बहुत जरूरत है। भारत के पहले हाइजीन ओलंपियाड को पेश करने के लिए डेटॉल बनेगा स्वस्थ इंडिया के साथ साझेदारी करके हमें बहुत खुशी हो रही है। यह ओलंपियाड छात्रों में सफाई की आदत को प्रोत्साहित करेगा और एक स्वस्थ कल के लिए सही दिनचर्या का पालन करने की जरूरत पर ध्यान केंद्रित करेगा।

रेकिट इंडिया की प्रमुख पहल डेटॉल बनेगा स्वस्थ इंडिया के तहत डेटॉल हाइजीन ओलंपियाड, ऐसे ‘हाइजीन चैंपियंस/लीडर्स’ की भी पहचान करेगा, जो स्कूलों और जिलों में बेहतर हाइजीन की वकालत करेंगे। इन लीडर्स को स्कूल की अनुपस्थिति में कमी लाने, बीमारी में कमी लाने, और एक सेहतमंद और खुशहाल घर में रहने जैसे महत्वपूर्ण विषयों पर काम करने का अवसर दिया जाएगा। परीक्षा 6 सितंबर 2022 से शुरू होगी। बच्चे इसमें ऑनलाइन या ऑफलाइन दोनों तरीकों से शामिल हो सकते हैं। विजेताओं को 2 अक्टूबर 2022 को व्यक्तिगत रूप से सम्मानित किया जाएगा। महामारी ने हाइजीन को सेहत का दर्जा प्रदान किया है, ऐसे में साफ सफाई से जुड़ी आदतों को अपनाना और इन्हें बनाए रखना हमारे जीवन की सर्वोच्च प्राथमिकता बन चुकी है। अपनी स्थापना के बाद से, डेटॉल बनेगा स्वस्थ इंडिया डेटॉल हाइजीन करिकुलम प्रोग्राम के माध्यम से बच्चों को हाथ धोने के लिए छह जरूरी मौकों के बारे में जागरुक बनाने पर ध्यान केंद्रित कर रहा है। इन 6 मौकों में शौच करने और शौचालय के उपयोग के बाद; खाने से पहले; खाना बनाने और परोसने से पहले; शिशुओं/ बच्चों को खिलाने से पहले; बच्चे की शौच साफ करने के बाद, और बीमार होने पर खांसने/छींकने के बाद हाथ धोना शामिल है। डेटॉल हाइजीन ओलंपियाड पूरे भारत के बच्चों को एक मजेदार तरीके से आपस में जोड़ेगा। यह ओलंपियाड उन्हें एक सेहतमंद कल के लिए अपने रोजमर्रा के जीवन में साफ सफाई से जुड़ी अच्छी आदतों की जानकारी प्राप्त करने और उनका पालन करने के लिए प्रेरित करेगा।

Comments

Popular posts from this blog

सरकारी योजनाओं से संबंधित डाटा ढूंढना होगा अब आसान

शब्दवाणी समाचार पाठक संघ के सदस्यों का भव्य स्वागत हुआ और अब सबको मिलेगी एक समान शिक्षा का लांच

उप श्रम आयुक्त द्वारा लिखित में मांगों पर सहमति दिए जाने के बाद ट्रेड यूनियनों ने समाप्त किया धरन : गंगेश्वर दत्त शर्मा