फिटजी के छात्रों ने जेईई एडवांस्ड में रैंक 2 और रैंक 3 सहित उच्च रैंक हासिल किये

शब्दवाणी समाचार शनिवार 15 जून 2019 नई दिल्ली। कामयाबियों का झंडा बुलंद करना फिटजी के डीएनए में शुमार हो चुका है। जीत हासिल करने की अपनी मूल प्रवृति को आगे बढ़ाते हुए फिटजी के छात्रों ने आज जेईई एडवांस, 2019 के लिए घोषित परिणामों में एक बार फिर अपना वर्चस्व स्थापित किया। फिटजी जेईई एडवांस, 2019 में अपने छात्रों की शानदार कामयाबी की घोषणा करते हुए गौरवान्वित महसूस कर रहा है। फिटजी ने लगातार शानदार परिणाम हासिल करने के लिए अपने सफल छात्रों को बधाई दी है तथा आगे के प्रयासों में उत्कृष्टता हासिल करने के लिए शुभकामना दी है।



अखिल भारतीय रैंक 2 हासिल करना वाला हिमांशु गौरव सिंह फिटजी साउथ दिल्ली सेंटर के थ्री-ईयर क्लासरूम प्रोग्राम का छात्र है। वह एनटीएसई स्कॉलर, केवीपीवाई फेलो भी है। उसने 12वीं कक्षा के बोर्ड में 500 में से 495 अंक हासिल किया, इसके अलावा आरएमओ, एनएसईपी, आईएनएमओ, इनशो और इनफॉ भी क्वालिफाई किया और एपीएमओ में कांस्य पदक जीता।


अखिल भारतीय रैंक 3 हासिल करने वाला अर्चित बूबना फिटजी साउथ दिल्ली सेंटर के फोर ईयर क्लासरूम प्रोग्राम का छात्र है। वह छठी कक्षा से ही फिटजी साउथ दिल्ली सेंटर में पढ़ रहा हैउसने छठी कक्षा में लिटिल जिनी ज्वाइन किया था, उसके बाद उदय टू ईयर क्लासरूम प्रोग्राम (कक्षा 7 और 8) और अंत में फोर ईयर क्लासरूम प्रोग्राम (कक्षा 9 - कक्षा 12) ज्वाइन किया। वह आरएमओ और अन्य ओलंपियाड क्वालिफाई कर चुका है। उसने आईजेएसओ 2016 में स्वर्ण पदक और एपीएचओ 2018 में रजत पदक हासिल किया, बारहवीं कक्षा के बोर्ड में 500 में 485 अंक हासिल किया और वह केवीपीवाई फेलो भी है।


हिमांशु गौरव सिंह, एआई आर 2 ने कहा "बचपन से ही आईआईटी में प्रवेश करना मेरा सपना रहा है। मैं अपने इस सपने को पूरा करने में मदद करने के लिए फिटजी के प्रति अहसानमंद हूं। फिटजी की अनोखी शिक्षण पद्धति जेईई की तैयारी के सिलसिले में बहुत अधिक मददगार साबित हुई। फिटजी के सुशिक्षित संकाय विज्ञान एवं गणित की बुनियादी धारणाओं की समझ को मजबूत बनाने में बहुत अधिक सहायक साबित हुए और इससे जेईई एडवांस में जटिल एवं कठिन सवालों का सफलतापूर्वक समाधान करने में बहुत अधिक मदद मिली।


फिटजी के सेंटर साउथ दिल्ली सेंटर के डायरेक्टर श्री आर. के. ठाकुर ने कहा, "अवधारणाओं और विश्लेषणात्मक क्षमताओं के विकास की गहन समझ पर ध्यान केंद्रित करने के साथ शुरुआती सिद्धांतों से छात्रों को मौलिक तरीके से तैयार करना अभी तक हमारे छात्रों के लिए काफी लाभदायक साबित हुआ है। फिटजी में, हमारा लक्ष्य गंभीर इच्छुक छात्रों को इस तरह से प्रशिक्षित करना है ताकि वे जेईई को सफलतापूर्वक स्केल करने के लिए तैयार रहें।


यह पहला मौका नहीं है जब फिटजी के छात्रों ने जेईई में अपनी कामयाबियों का परचम लहराया है। दरअसल फिटजी एकमात्र संस्थान है जिसका 77 से अधिक केन्द्रों में राष्ट्रीय मौजूदगी है और लगातार देशभर में अपने सभी केन्द्रों में शानदार परिणाम देता रहा है। यह अन्य संस्थानों की तरह नहीं है जहां एक या दो केन्द्रों में एकाध कामयाबी हासिल होती है। यह फिटजी की तैयारी और शिक्षण के तरीके की प्रभावकारिता का प्रमाण हैऔर संकाय की श्रेष्ठता को साबित करता है, और भारत के सबसे भरोसेमंद संस्थानों में से एक फिटजी में शिक्षण पद्धतियों के अद्वितीय पैटर्न को साबित करता है।



अखिल भारतीय रैंक 3 हासिल करने वाले अर्चित बूबना ने कहा, "फिटजी की मदद से, मैंने न केवल जेईई एडवांस 2019 में शीर्ष रैंक हासिल की, बल्कि कई अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं में भी अच्छे स्थान हासिल किए। फिटजी के अच्छी तरह से प्रशिक्षित प्रशिक्षकों ने विज्ञान और गणित की मेरी मौलिक अवधारणाओं को मजबूत करने में मदद की, जिसने मुझे जेईई एडवांस्ड में जटिल और मुश्किल समस्याओं को सफलता पूर्वक हल करने में मदद की।


फिटजी के डायरेक्टर आर. एल. त्रिखा, ने कहा फिटजी के अर्ली एज प्रोग्राम छात्रों के लिए जेईई की तैयारी जल्दी शुरू करने के लिए तैयार किए गए हैं और यह उन्हें कठिनाई वाले सवाल को हल करने और जेईई में शीर्ष रैंक हासिल करने में मदद करता है। प्रत्येक वर्ष जेईई में हमारे छात्रों की सफलता इस तथ्य को साबित करती है कि पैटर्न पर आधारित अध्ययन सामग्री के साथ शिक्षण का हमारा अनोखा तरीका छात्रों में सर्वश्रेष्ठ रैंक हासिल करने में सफल साबित हुआ है। हम अपने सभी सफल छात्रों के साथ- साथ हमारे शिक्षकों को इसे संभव बनाने के लिए उनकी कड़ी मेहनत के लिए बधाई देते हैं।


Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

बिल्कुल देसी वीडियो कंटेंट प्लेटफार्म ट्रेलर ने 20 मिलियन नए यूज़र दर्ज किए

जिला हमीरपुर के मौदहा में प्रधानमंत्री आवास योजना में चली गांधी की आंधी