एमजी मोटर इंडिया ने एमजी डेवलपर प्रोग्राम एंड ग्रांट लॉन्च किया

शब्दवाणी समाचार वीरवार 26 सितम्बर 2019 नई दिल्ली। देश को एक मजबूत और नये युग की परिवहन पारिस्थितिकी से संपन्न बनाने के लिये अपनी प्रतिबद्धता को रेखांकित करने वाली एक गतिविधि में अग्रणी कार निर्माता एमजी मोटर इंडिया ने आज अपने एमजी डेवलपर प्रोग्राम एंड ग्रांट की घोषणा की है। अग्रणी प्रौद्योगिकी वाली कंपनियों, जैसे सैप, कॉग्निजेंट, एडोब, एयरटेल, टॉमटॉम और अनलिमिट के साथ गठबंधन में लॉन्च की गई इस पहल का लक्ष्य भारतीय नवोन्मेषकों और डेवलपर्स को सहयोग प्रदान करना है, ताकि वे भविष्यगामी परिवहन अनुप्रयोगों और अनुभवों का निर्माण करें। टाई दिल्ली एनसीआर इस प्रोग्राम का इकोसिस्टम पार्टनर है।



एमजी डेवलपर प्रोग्राम एंड ग्रांट के हिस्से के तौर पर, एमजी मोटर इंडिया नवोन्मेषकों को उद्योग अग्रणियों से संरक्षण और फंडिंग प्राप्त करने का बेजोड़ अवसर देगा। चयनित युक्तियों को विशिष्‍ट, उच्च-स्तरीय संरक्षण और नेटवर्किंग के अवसर मिलेंगे, जिससे समाधान के व्यवहारिक विकास, व्यवसाय योजना एवं रूपरेखा, परीक्षण सुविधा, बाजार में पहुँचने की रणनीति, आदि द्वारा सहयोग दिया जाएगा। विजेता युक्तियों को अनुदान भी मिलेगा, जिसका निर्धारण निर्णायक मंडल केस-दर-केस के आधार पर करेगा।
एमजी डेवलपर प्रोग्राम एंड ग्रांट के लॉन्च पर एमजी मोटर इंडिया के प्रेसिडेन्ट एवं प्रबंध निदेशक राजीव छाबा ने कहा, ''वर्तमान में ऑटोमोबाइल उद्योग कनेक्टेड, इलेक्ट्रिक और साझा परिवहन के क्षेत्र में तेजी से बदलाव देख रहा है। एमजी ऑटोमोटिव उद्योग में प्रौद्योगिकी का अग्रणी बनकर इस क्रांति को आगे बढ़ाना चाहता है। हमने बड़ी तकनीकी कंपनियों के साथ भागीदारी की है, ताकि स्टार्ट-अप्स को ऐसे खोजपरक अनुप्रयोग बनाने का मौका मिले, जो समूची ऑटोमोटिव पारिस्थितिकी में ग्राहकों को अनूठे अनुभव देने में सक्षम हों। आने वाले समय में इस प्रोग्राम से और भी भागीदार जुड़ सकते हैं।
श्री छाबा ने आगे कहा, ''हमारी कंपनी के एक प्रमुख स्तंभ के तौर पर नवोन्मेष के लिये हमारी प्रतिबद्धता के हिस्से के रूप में की गई पहलों की श्रृंखला में एमजी डेवलपर एंड ग्रांट प्रोग्राम सबसे नया है। यह प्रोग्राम स्टार्ट-अप्स के लिये लगभग 20 उद्योग अग्रणियों से उपयुक्त संरक्षण सुनिश्चित करेगा और उनके लिये ऐसी आधारशिला रखेगा कि वे भविष्य में उत्कृष्टता अर्जित करें और नई इंटरनेट कारों के उपयोग को प्रेरणा दें, जिससे भारतीय ऑटोमोटिव पारिस्थितिकी में नई प्रौद्योगिकी की स्वीकार्यता बढ़ेगी। यह बाजार के लिये हमारी प्रतिबद्धता है और नवोन्मेष हमारा प्रमुख स्तंभ है।
एमजी डेवलपर प्रोग्राम एंड ग्रांट शुरूआत में इन क्षेत्रों में नवोन्मेष पर केन्द्रित होगाः इलेक्ट्रिक वाहन एवं कम्पोनेन्ट्स, बैटरियाँ एवं प्रबंधन, चार्जिंग की अवसंरचना, कनेक्टेड परिवहन, आवाज पहचानना, एआई और एमएल, संचालन प्रौद्योगिकी, ग्राहक अनुभव, कार खरीदने का अनुभव और ऑटोनॉमस वाहन। यह प्रोग्राम 5 लाख रू. से लेकर 25 लाख रू. तक का अनुदान देगा। यह प्रोग्राम विद्यार्थियों, नवोन्मेषकों, आविष्कारकों, स्टार्टअप्स और अन्य प्रौद्योगिकी कंपनियों समेत बाहरी डेवलपर्स और एमजी मोटर तथा उसके प्रोग्राम पार्टनर्स के लिये भी खुला होगा।
प्रोग्राम का विवरण और महत्वपूर्ण तिथियाँ http://bit.ly/mgdeveloperprog वेबसाइट पर उपलब्ध हैं। आवेदन   प्रस्तुत किये जा सकते हैं। पहले समूह से अनुदान के विजेताओं की घोषणा दिसंबर 2019 में की जा सकती है। इसके बाद अगले समूह का विवरण घोषित किया जाएगा।



Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

बिल्कुल देसी वीडियो कंटेंट प्लेटफार्म ट्रेलर ने 20 मिलियन नए यूज़र दर्ज किए

जिला हमीरपुर के मौदहा में प्रधानमंत्री आवास योजना में चली गांधी की आंधी