कैप्टन राहुल बाली को दिया गया सर्वश्रेष्ठ क्यूरेटर का अवॉर्ड

शब्दवाणी समाचार शुक्रवार र 06 सितम्बर 2019 नई दिल्ली। वेस्टर्न इंडिया फिल्म प्रोड्यूसर्स एसोसिएशन (डब्ल्यूआईएफपीए) ने मुंबई में आयोजित एक विशेष समारोह में कैप्टन राहुल सुदेश बाली को प्रतिष्ठित 'बेस्ट क्यूरेटर' का पुरस्कार प्रदान किया, जो दुनिया भर में भारतीय फिल्म समारोहों को क्यूरेट करने और भारतीय सिनेमा की दुनिया में खुशबू फैलाने के लिए उनके उत्कृष्ट योगदान के लिए आयोजित किया गया था। यह पुरस्कार डब्ल्यूआईएफपीए के अध्यक्ष संग्राम शिर्के, फिल्म मेकर्स कंबाइन एंड एग्जीक्यूटिव मेंबर फिल्म फेडरेशन ऑफ इंडिया के महासचिव धर्मेंद्र मेहरा और डब्ल्यूआईएफपीए के महासचिव दिलीप दलवी द्वारा दिया गया।



उल्लेखनीय है कि डब्ल्यूआईएफपीए भारत के सबसे प्रतिष्ठित और सबसे बड़े फिल्म संघों में से एक है, जिसमें 10000 से अधिक सदस्य शामिल हैं और यह संस्था पांच दशकों से पूरे मनोरंजन उद्योग के समग्र विकास के लिए अथक प्रयास कर रही है। डब्ल्यूआईएफपीए के पास भारतीय फिल्म जगत के कुछ सबसे बड़े दिग्गज नाम हैं, क्योंकि विधु विनोद चोपड़ा, राहुल मित्रा, सुनील दर्शन, एन. चंद्रा, नवनीत अधिकारी, अरुण नलवाडे और पाखी हेगड़े इसके प्रतिष्ठित सदस्य हैं, जो अच्छा और सार्थक सिनेमा बना रहे हैं।
भारतीय फिल्म महोत्सव सर्किट में विदेश में एक जाना-पहचाना नाम बन चुके कप्तान राहुल सुदेश बाली भारतीय सिनेमा को विष्व के हर कोने में ले जाने के लिए जबरदस्त काम कर रहे हैं। उनका मानना है कि सांस्कृतिक सहयोग हमेशा वाणिज्यिक सहयोग की ओर जाता है और भारतीय फिल्म समारोह भारत और दुनिया के बीच सांस्कृतिक सहयोग प्राप्त करने का सबसे अच्छा साधन है।
कैप्टन बाली ने सफलतापूर्वक रूस, वियतनाम, पोलैंड, हंगरी और केन्या में भारतीय फिल्म समारोहों में भाग लिया, जहां मनीषा कोईराला, तब्बू, अर्जुन रामपाल, गुलशन ग्रोवर, इम्तियाज अली, राकेश ओमप्रकाश मेहरा, एसएस राजमौली, राहुल मित्रा, उमेश शुक्ला जैसे आइकन और सुपरस्टार शामिल हैं। वहीं, राजेश मापुस्कर और डॉ. राजू चड्ढा ने रेड कारपेट पर कदम रखा।
बता दें कि इंडियन फिल्म फेस्टिवल वर्ल्डवाइड (आईएफएफडब्ल्यू) फिल्मों को प्रदर्शित करने, भारतीय फिल्म निर्माताओं को उजागर करने और दुनिया भर में भारतीय प्रवासी के विविध दृष्टिकोणों को बढ़ावा देने के लिए भारतीय सिनेमा और संस्कृति की अधिक सराहना के लिए समर्पित है।
प्रतिष्ठित पुरस्कार प्राप्त करने पर कैप्टन बाली ने भारतीय फिल्मों के माध्यम से भारत की खुशबू को दुनिया भर में फैलाने के अपने प्रयासों को स्वीकार करने के लिए डब्ल्यूआईएफपीए का धन्यवाद किया। उन्होंने कहा, 'मैं इस पुरस्कार को प्राप्त करने के लिए परमानंद और गर्व दोनों महसूस कर रहा हूं। यह यात्रा उसी समय से सुंदर और आनंदित करने वाला रहा है, जब आईएफएफडब्ल्यू का विचार पैदा हुआ था, लेकिन अभी भी इस दिषा में बहुत काम किया जाना बाकी है। हम उन देशों में फेस्टिवल मनाने की योजना बना रहे हैं, जिन्होंने कभी भारत की विशिष्टता, संस्कृति और सिनेमा को नहीं देखा है।'
वहीं, भारत के शानदार फिल्म निर्माताओं में से एक राहुल मित्रा ने कहा, 'कैप्टन बाली भारतीय सिनेमा के फायदे के लिए बेहद शानदार काम कर रहे हैं। उनके द्वारा किए गए कुछ शानदार समारोहों में एक अतिथि होने के नाते यह एक खुशी की बात है।' राहुल मित्रा के अलावा राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता फिल्म निर्माता गिरीश मलिक, मिखाइल मुसले, उमेश शुक्ला के साथ-साथ प्रसिद्ध फिल्म निर्माता साई कबीर ने भी कैप्टन राहुल बाली को भारतीय फिल्मों को दुनिया भर में बढ़ावा देने के अपने जबरदस्त प्रयासों के लिए बधाई दी।



Comments

Popular posts from this blog

पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ गोविंद जी द्वारा हार्ट एवं कैंसर हॉस्पिटल का शिलान्यास होगा

22 वें ऑल इंडिया होम्योपैथिक कांग्रेस का हुआ आयोजन

सेंट पीटर्स कॉन्वेंट विद्यालय ने अपना वार्षिकोत्सव मनाया