अशोक लेलैंड ने पहला BS-VI ट्रक्स अपने ग्राहक को दिया 

शब्दवाणी समाचार रविवार 19 जनवरी 2020 नई दिल्ली। हिंदुजा समूह की प्रमखु और भारत की अग्रणी व्यवसायिक वाहन निर्माता कंपनी अशोक लेलैंड ने अपना पहला BS-VI ट्रक्स जो 01 अप्रैल, 2020 से BS-IV ट्रक के स्थान पर लेगी क्योंकि भारत सरकार ने  प्रदूषण कम करने वाली तकनीक से बना BS-VI ट्रक को 01 अप्रैल, 2020 से सम्पूर्ण भारत बेचना अनिवार्य कर दिया है उसको ध्यान में रखते हुए अशोक लेलैंड ने भारत का पहला BS-VI ट्रक अपने ग्राहक को दिया और इसी के साथ सम्पूर्ण भारत में अपने डीलरों के माध्यमों से बेचना आरम्भ कर दिया है।



व्यावसाियक वाहन उद्योग में कुछ नया और अच्छा करने में अगुआ बने रहने के लिए अशोक लेलैंड ने हमेशा अपनी आन्तिरक अनुसंधान और विकास, प्रतिभा और स्वदेशी तकनीक पर भरोसा किया है. कंपनी का फोकस उन समाधानों को विकसित करना है जो बाजार और भारत में वाहन परिचारण की चुनौतीपूर्ण को स्वीकार करता है BS-VI उत्सर्जन मानक को पूरा करने के लिए, कंपनी ने मिड-एनओएक्स तकनीक विकसित किया, जो वाहन मालिकों के लिए उच्च परिचारण लाभ प्रदान करेगी।
श्री अनुज कथूिरया, मुख्य कार्यकारी अधिकरी, अशोक लेलैंड ने कहा हम बीएस-VI को हमारे लिए एक अवसर के रूप में देख रहे हैं और हमने इस प्रमुख परिवर्तन में एक सकारात्मक पहल की है। अशोक लेलैंड 2016 में BS-VI ट्रक का प्रदर्शन करने पहली कंपनी बन गयी थी, हमने सबसे पहले अपने वाहनों की पूरी श्रृंखला के लिए BS-VI प्रमाण पत्र प्राप्त किया और अब हम BS-VI ट्रक देने वाली पहली कंपनी बन गए हैं, वो भी इन नियमों के लागू होने से बहुत पहले. नए BS-VI इंजन के साथ, हम अपने मॉड्यूलर प्लेटफॉर्म को भी पेश करेंगे, जो व्यावसाियक वाहन उद्योग के लिए एक गेम-चेंजर होगा। हम ऐसे नवाचार लाने के लिए उत्सािहत हैं जो न केवल हमारे ग्राहकों को बेहतर लाभप्रदता के साथ मदद करते हैं, बल्कि, एक सकारात्मक पर्यावरणीय प्रभाव भी रखते है।
अशोक लेलैंड BS-VI ट्रक और बसें उत्कृष्टता की कसौटी पर पूरा उतरती हैं और नई रेंज ने भारतीय परिस्थितियों के अनुरूप कई नवाचारों को समािहत किया है. कंपनी ने प्रभावी रूप से साबित किये गए iEGR और एक बेस्ट-इन-क्लास SCR प्रणाली के संयोजन के माध्यम से BS-VI उत्सर्जन सीमाओं को प्रभावी ढंग से पूरा किया है, जबिक इंजन में न्यूनतम बदलाव किये हैं. यह सब सुनिश्चित करता है की यह अपने भरोसेमंद इंजन प्लेटफार्मों के भरोसे अपने ग्राहकों को बेहतर TCO िवतिरत करता है. कंपनी का ध्यान अपने ग्राहकों को कुशल, स्वच्छ, सुरक्षित, सुलभ और एक किफायती मूल्य प्रस्ताव प्रदान करना है। अशोक लेलैंड इस नई तकनीक का परीक्षण कर रहा है और सफलतापूर्वक 50 लाख अशोक लेलैंड ने पहला खेप BS-VI ट्रक्स को पहुंचाया।



Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता

मीडिया प्रेस क्लब का वार्षिक कलैंडर हुआ विमोचन