ब्रेनली के सर्वे में 64.3 छात्रों ने कहा घर पर रहते हुए नए हेल्थ रुटीन को आजमा रहे हैं

शब्दवाणी समाचार मंगलवार 21 अप्रैल 2020 नई दिल्ली। कोविड-19 के बढ़ते मामलों के मद्देनजर लागू लॉकडाउन के कारण स्कूल बंद हैं और छात्रों को अपने स्वास्थ्य पर ध्यान देने के लिए अतिरिक्त समय मिल गया है। छात्रों, अभिभावकों और शिक्षकों के बीच दुनिया की सबसे बड़ी ऑनलाइन लर्निंग कम्युनिटी ब्रेनली ने विश्व स्वास्थ्य दिवस पर सर्वेक्षण के माध्यम से इस बदलते ट्रेंड का पता चला है।



ब्रेनली ने पाया कि भारत में 2217 उत्तरदाताओं में से 84.6% का कहना है कि वे अब महामारी के प्रकोप की वजह से अपने स्वास्थ्य और स्वच्छता का अतिरिक्त ध्यान रख रहे हैं। इसके अलावा, 64.3% छात्रों ने कहा कि वे घर पर रहते हुए एक नए हेल्थ रुटीन को आजमा रहे हैं।
सर्वेक्षण के परिणाम से पता चला कि स्वस्थ दिनचर्या और जीवन शैली बनाए रखने के लिए 40.8% उत्तरदाता अपने आहार पर ध्यान देने पर जोर दे रहे हैं, जबकि 35.6% दैनिक व्यायाम कर रहे हैं। ओ‌वरऑल वेलनेस के महत्व को समझते हुए 90.5% छात्रों का मानना है कि मानसिक स्वास्थ्य उतना ही महत्वपूर्ण है जितना शारीरिक स्वास्थ्य। इसके अलावा, 75.1% छात्रों ने लॉकडाउन के बावजूद अपने स्वास्थ्य, स्वच्छता और फिटनेस को बनाए रखने का संकल्प लिया है।  
ब्रेनली के सह-संस्थापक और सीईओ माइकल बोर्कोव्स्की ने सर्वेक्षण पर कहा, “ऑनलाइन लर्निंग के साथ छात्रों के पास अन्य गतिविधियों में भाग लेने के लिए पर्याप्त समय है। सर्वेक्षण इस बात की अनुकूल तस्वीर दर्शाता है कि छात्र शिक्षण संस्थानों की यात्रा नहीं करने से बचे समय का इस्तेमाल किस तरह स्वस्थ रहने के लिए कर सकते हैं। यह सराहनीय है कि वे लॉकडाउन के दौरान घर पर अपने समय का सदुपयोग करते हुए व्यायाम दिनचर्या, स्वस्थ जीवन शैली और खाने की आदतों को आसानी से अपना रहे हैं।
भारत में इसकी शुरुआत के बाद से, ब्रेनली ने 20 मिलियन से अधिक यूजर-बेस और 100% से अधिक की साल-दर-साल वृद्धि दर दर्ज कर देश के सबसे प्रभावी ऑनलाइन लर्निंग चैनलों में से एक के रूप में अपनी उपस्थिति दर्ज की है। ऑनलाइन लर्निंग, सोशल मीडिया और मशीन लर्निंग को मिलाने वाले एक सोशल ‘कम्यूनिटी लर्निंग’ मॉडल के साथ प्लेटफार्म साथियों, माता-पिता, शिक्षकों और विशेषज्ञों के एक व्यापक नेटवर्क की सुविधा देता है, जो छात्रों को सहयोगी, लचीले और व्यापक लर्निंग अनुभव से सशक्त बनाता है। अपने वैल्यू-प्रपोजिशन की वजह से, विशेष रूप से वर्तमान परिदृश्य में, ब्रेनली भारत और दुनियाभर में छात्रों के लिए एक अभिन्न लर्निंग प्लेटफार्म के रूप में उभरा है।



Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

बिल्कुल देसी वीडियो कंटेंट प्लेटफार्म ट्रेलर ने 20 मिलियन नए यूज़र दर्ज किए

जिला हमीरपुर के मौदहा में प्रधानमंत्री आवास योजना में चली गांधी की आंधी