सीटू के राष्ट्रीय आवाहन पर उठी आवाज भाषण नहीं राशन दो

शब्दवाणी समाचार बुधवार 22 अप्रैल 2020 नोएडा। सीटू के राष्ट्रीय आवाहन पर जनता के विभिन्न तबकों मजदूरों, किसानों, नौजवानों, विद्यार्थियों, खेत मजदूरों और महिलाओं के विभिन्न संगठनों के सदस्यों कार्यकर्ताओं/ मेहनतकश तबको ने अपने घरों के दरवाजे छत बालकनी में खड़े होकर और अपने हाथों में विभिन्न बैनर और पोस्टर लेकर सरकार से मांग किया कि हमें भाषण नहीं- राशन चाहिए, प्रवासी श्रमिकों को पैसा खाना पानी चाहिए, डॉक्टर नर्स और करुणा से लड़ रहे दूसरे फ्रंटलाइन कर्मचारियों को किट, पीपीआई, दस्ताने, मास्क और दूसरे सुरक्षा उपकरण मुहैया कराओ, गरीबों को मुफ्त राशन दो जैसी मांगें उठाकर केंद्र व प्रदेश सरकार का ध्यान आकर्षित कराया।



गौतम बुध नगर में भी हर गांव मजदूर बस्तियों में सोशल डिस्पेंसिंग के साथ अपने-अपने घर पर छत बालकनी में खड़े होकर नारे लगाकर सरकार को संदेश दिया और राहत कार्यों में हो रही अनियमितताओं/ कमियों की तरफ ध्यान आकर्षित।
सीटू संगठन के उपरोक्त कार्यक्रम के तहत सीटू जिलाध्यक्ष गंगेश्वर दत्त शर्मा अपने घर के दरवाजे पर खड़े होकर अपनी बात रखी जिस पर थाना सेक्टर 49 पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया जिस पर सीटू सहित कई संगठनों ने इसकी कड़ी आपत्ति दर्ज कराते हुए पुलिस कार्रवाई की कड़ी निंदा की गई और पुलिस प्रशासन से उन्हें तुरंत रिहा करने की मांग किया तथा सीटू के राष्ट्रीय महासचिव कामरेड तपन सेन व राष्ट्रीय सचिव ए आर सिंधु द्वारा पुलिस के उच्च अधिकारियों से उन्हें छोड़ने की अनुरोध किया लेकिन इसके बावजूद भी पुलिस ने उन्हें धारा 188, 269, 270, 271 आईपीसी के तहत चालान कर दिया। जिला न्यायालय में एडवोकेट डॉक्टर रुपेश वर्मा द्वारा उनकी पैरवी कर उन्हें जमानत पर रिहा करवाया।



Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

बिल्कुल देसी वीडियो कंटेंट प्लेटफार्म ट्रेलर ने 20 मिलियन नए यूज़र दर्ज किए

जिला हमीरपुर के मौदहा में प्रधानमंत्री आवास योजना में चली गांधी की आंधी