अब छोटे बच्चे सोच रहे हैं में अपने दोस्तों के साथ कब खेलूंगा

शब्दवाणी समाचार, सोमवार 04 मई  2020, नई दिल्ली। भारत सहित लगभग पूरी दुनिया इस समय लॉकडाउन के कारण सब अपने घर में अपने आपको बंद कर रखा हे। पिछले 43 दिन से कोई भी घर से बाहर नहीं निकल पा रहा हे। बच्चे स्कुल जाते थे वो स्कुल जाकर वहां अपने अध्यापकों से बातें किया करते थे स्कूली दोस्तों के साथ खेलते थे अपने घर आकर स्कुल का होम वर्क करते मोहल्ले के पार्कों में जाकर फिर दोस्तों के साथ खेलते थे माता पिता के साथ बाजार जाते और अक्सर दोस्तों व् रिस्तेदारों के घर भी जाकर मजे करते थे परन्तु अचानक कोरोना वायरस महामारी के कारण सब बंद हो गया जो छोटे वच्चे थे वो वेचारे समझ ही नहीं पा रहे की यह सब क्या हो गया और कब तक चलेगा? इसी बीच एक छोटे से बच्चे इब्राहिम ख़ान कक्षा दुतिये ऐ विकास भारती पब्लिक स्कूल रोहिणी सेक्टर- 24 नई दिल्ली ने सूंदर पेंटिंग के माध्यम से अपनी भावना व्यक्त किया की कोरोना वायरस महामारी के योद्धा कौन है साथ ही इस महामारी से कैसे बचें और घर पर ही रहकर सुरक्षित रहें।





Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

बिल्कुल देसी वीडियो कंटेंट प्लेटफार्म ट्रेलर ने 20 मिलियन नए यूज़र दर्ज किए

रीढ़ (स्पाइन) संबंधी बीमारी महामारी की तरह फैल रही है : डा. सतनाम सिंह छाबड़ा