हमीरपुर में सडक हादसे में दो की मौत


शब्दवाणी समाचार, बुधवार 20 मई  2020, (आशीष निगम), हमीरपुर। लगभग आधा सैकडा से अधिक दिनो तक चले लाकडाउन मे यातायात के साधन कम चलने के कारण सडक हादसों में काफी कमी आई थी।लेकिन जैसे ही लाकडाउन चार मे कुछ छूट दी गई लोगो ने इस छूट का अनुचित उपयोग करना आरंभ कर दिया और सडक हादसों मे आशातीत वृद्धि देखने को मिलने लगी।आज कस्बे के गल्ला मंडी गेट के सामने हुई भीषण सडक दुर्घटना में एक व्यक्ति की मौके पर ही मौत हो गई जबकि दूसरा गंभीर रूप से घायल हो गया।उसको जिला अस्पताल लाते समय मौत हो गई कोतवाली प्रभारी राजेश। चंद्र त्रिपाठी ने अपनी जीप से सदर अस्पताल भेजा है।बताते चलें कि बिंवार थाना क्षेत्र के गांव ऊपरी सायर निवासी शब्बू (46)पुत्र शिवप्रसाद व पप्पू उर्फ राम सजीवन (45)अपनी बाइक एच.आर.13 ई.9776 सुजुकी से घरेलू सामान लेने कस्बा आ रहे थे।



जैसे ही दोनो लोग मण्डी गेट पर आये तो सामने से आरहे ट्रैक्टर लगी बोरिगं मशीन से टकरा कर ट्रैक्टर के पहिया के नीचे आगये।जिससे रामसजीवन उर्फ पप्पू की मौके पर ही मौत हो गई जबकि शब्बू गंभीर रूप से घायल होने के बाद जिला अस्पताल भेजा गया तो उसकी रास्ते मे मौत हो गई  ट्रैक्टर चालक मौके से फरार होने मे कामयाब हो गया है।हालांकि बाद में कोतवाली पुलिस ने ट्रैक्टर चालक को गिरफ्तार कर भारी सुरक्षा के बीच कोतवाली पहुंचाया।टक्कर इतनी जोरदार थी कि हेलमेट के परखच्चे उड गये।मौके पर पहुंची कोतलाली पुलिस ने राहगीरों और नगर पालिका के कर्मचारियों की मदद से दोनो को पहिये के नीचे से निकाला जबतक एक की मौत हो चुकी थी और दूसरा जिंदगी और मौत के बीच जूझ रहा था जिन्हे कोतवाली प्रभारी ने अपनी गाडी से सदर अस्पताल भेजा है।वहीं घटना स्थल पर पहुंचे दोनो युवकों के परिजनो ने बताया कि दोनो घरेलू सामान लेने कस्बा आयेथे।मृतक पप्पू अपने पीछे तीन लडके और तीन लडकियां छोड गया है जबकि शब्बू के परिवार में तीन लडकी और दो लडके है।परिजनो का रो रो कर बुरा हाल है।



Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता

उप प्रधानाचार्य प्रशासनिक अनियमितताएं और भ्र्ष्टाचार में लिप्त, मुख्य अधिकारी नहीं ले रहे संज्ञान