बीमार सफाई कर्मियों के इलाज की मांग


शब्दवाणी समाचार, बुधवार 03 जून 2020, (ऐ के लाल) नॉएडा। सफाई मजदूर गरीब उत्थान यूनियन की एक बैठक ममूरा गांव के ट्यवैल परिसर में आयोजित की गयी। इस बैठक में नोएडा की समस्त सफाई संगठनों के पदाधिकारी मौजूद रहे। बीमार सफाई मजदूरों से जबरन काम लेने व उनकी अनदेखी करने पर चिंता व्यक्त करते हुए सफाई मजदूरों की समस्याओं के निदान के लिये लॉकउाउन के बाद काम बन्द हड़ताल करने का निर्णय लिया गया है।
सफाई मजदूर गरीब उत्थान यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष रविन्द्र प्रधान ने बताया है कि 26 मई को कर्मचारियों की समस्याओं से सम्बन्धित एक पत्र सिटी मजिस्ट्रेट को दिया जा चुका है। इस पत्र में सिटी मजिस्ट्रेट के माध्यम से मांग की गयी है कि कोरोना काल के दौरान सफाई मजदूरों को दो गुना वेतन दिया जाये, दो दशक से पुराने सभी कर्मचारियों को नियमित किया जाये, सफाई मजदूरों की ठेकेदारी प्रथा को खत्म किया जाये, लॉकडाउन में फंसे व अनुपस्थित सफाई मजदूरों को वेतन दिया जाये, हटाये गये कर्मचारियों को काम पर  लिया जाये, सफाई मजदूरों का वेतन बढ़ाया जाये, सभी का जीवनबीमा कराया जाये, सफाई मजदूरों से टाईम पर आने- जाने की पाबंदी को लॉकडाउन तक हटाया जाए एवं सरोज, काले एवं सुरेश बीमार सफाई कर्मियों का तत्काल इलाज कराया जाए। तमाम समस्यओं को लेकर मीटिंग में आन्दोलन करने पर विचार- विमर्श किया गया। मीटिंग में जयप्रकाश पारचा, सौराज वल्मिकी, मोनू कल्याण, जगरेश मकवाना, मनवीर पारचा, रवि गहलौत, सुनील टाक, मन्नू वैनीवाल, प्रदीप उर्फ छोटू, सतवीर मकवाना, राजेन्द्र प्रधान, आदि मौजूद रहे।




Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता

उप प्रधानाचार्य प्रशासनिक अनियमितताएं और भ्र्ष्टाचार में लिप्त, मुख्य अधिकारी नहीं ले रहे संज्ञान