स्ट्रीट वेंडर्स हाईज़ीन उत्पाद उपलब्ध कराये, डेटॉल बीएसआई एवं नास्वी ने किया गठबंधन 


शब्दवाणी समाचार, शनिवार 26 सितम्बर 2020, नई दिल्ली। ग्लोबल कंज़्यूमर हैल्थकेयर कंपनी, आरबी के फ्लैगशिप कार्यक्रम, डेटॉल बीएसआई ने नेशनल एसोसिएशन ऑफ स्ट्रीट वेंडर्स ऑफ इंडिया (नास्वी) के साथ साझेदारी में एक कार्यक्रम की घोषणा की। इस कार्यक्रम के तहत भारत में स्ट्रीट वेंडर्स को अपने लिए स्वस्थ व सेहतमंद वातावरण का विकास करने में मदद की जाएगी। इस देशव्यापी साझेदारी का उद्देश्य हाईज़ीन उत्पादों, जैसे डेटॉल साबुन एवं मास्क उपलब्ध कराके उन्हें प्रशिक्षण देना है, ताकि उनका बेहतर स्वास्थ्य व सुरक्षा सुनिश्चित हों। साथ ही इसका उद्देश्य स्ट्रीट वेंडिंग में लोगों के गिरते भरोसे को फिर से स्थापित कर उन्हें कमजोर होती वित्तीय स्थिति से उबरने में मदद करना है।
स्ट्रीट वेंडर्स जनता की दैनिक जरूरतों के लिए व्यापार व वितरण व्यवस्था का महत्वपूर्ण हिस्सा हैं। वीगो द्वारा किए गए एक शोध के अनुसार वो भारत में शहरी कार्यबल का 4 प्रतिशत हैं। वो असुरक्षित वातावरण में काम करते हैं और अंतिम उपभोक्ता तक आपूर्ति श्रृंखला में संपर्क का पहला केंद्र होते हैं। इसलिए उन्हें व उनके ग्राहक को अत्यधिक जोखिम होता है। कोरोना महामारी के दौरान यह आवश्यक हो गया है कि इन वेंडर्स को सुरक्षा व हाईज़ीन पर उचित प्रशिक्षण दिया जाए।
भारत में लॉकडाऊन के बाद सामान्य जीवन बहाल हो रहा है और समाज में अचानक कोविड-19 शिखर पर होने के कारण यह कार्यक्रम अत्यधिक महत्वपूर्ण हो गया है। यह कार्यक्रम इस परिस्थिति का समाधान करने के लिए डिज़ाईन किया गया है। यह स्ट्रीट वेंडर्स को सुरक्षित रहने व अपने ग्राहकों को सुरक्षित व हाईजेनिक तरीके से सेवा देने के लिए तैयार करेगा। कार्यक्रम के पहले चरण ने दिल्ली, हैदराबाद, बैंगलुरू एवं सूरत में सर्वाधिक प्रभावित इलाकों में स्ट्रीट वेंडर्स को सही हाईजेनिक स्ट्रीट वेंडिंग प्रोटोकॉल्स से युक्त किया।



इस साझेदारी के बारे में श्री गौरव जैन, सीनियर वाईस प्रेसिडेंट, साउथ एशिया, रेकिट बेंकाईज़र हैल्थ ने कहा, ‘‘इस अप्रत्याशित महामारी ने हमारे रहने, खाने, व्यवहार करने एवं अपने दैनिक जीवन में लोगों से मिलने जुलने के तरीके को बदल दिया। भारत में स्ट्रीट वेंडर समुदाय के लिए यह चुनौती, जितनी हम समझते हैं, उससे भी ज्यादा बड़ी है। दहशत के साथ गलत जानकारियों ने लोगों के बीच डर का माहौल पैदा कर दिया, जिससे वो स्ट्रीट वेंडर्स के पास जाने से कतराने लगे। इस कार्यक्रम के साथ हमारा उद्देश्य जागरुकता बढ़ाना और महामारी के बाद की दुनिया में उन्हें आजीविका चलाने का एक सुरक्षित माध्यम प्रदान करना है। स्ट्रीट वेंडर्स के बीच आत्मविश्वास पुनः स्थापित करने के लिए नेशनल एसोसिएशन ऑफ  स्ट्रीट वेंडर्स ऑफ इंडिया (नास्वी) के साथ साझेदारी करना बहुत आवश्यक था। कोविड-19 को फैलने से रोकने के लिए हाईज़ीन सामग्री प्रदान कर व उनका इस्तेमाल करने से महामारी को कैसे रोका जा सकता है, यह प्रदर्शित करने से उनमें से हजारों स्ट्रीट वेंडर्स पहले से ज्यादा सुरक्षित व मजबूत बनकर काम पर लौट सके। हम एक सेहतमंद देश के निर्माण के उद्देश्य से इस तरह के अभियान जारी रखेंगे।’’
नास्वी के नेशनल कोऑर्डिनेटर, श्री अरबिंद सिंह ने कहा, ‘‘कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई सहयोगात्मक दृष्टिकोण से ही संभव है। हम भारत के सबसे भरोसेमंद हाईज़ीन ब्रांड, डेटॉल के साथ साझेदारी करने के लिए आभारी हैं। इस साझेदारी द्वारा हम भारत में स्ट्रीट वेंडर समुदाय की मदद करेंगे। यह बहुत जरूरी है कि उन्हें नई जीवनशैली में सफलतापूर्वक काम करने के लिए तैयार करने के लिए हम उन्हें सही जानकारी व खुद को सुरक्षित रखने के साधन दें, ताकि वायरस के फैलाव को रोका जा सके।’



साझेदारी के इस कार्यक्रम ने फील्ड में जाकर काम करने वाले स्टाफ एवं कार्यकर्ताओं को भी प्रशिक्षित किया तथा खुद की सुरक्षा के लिए किए जाने वाले उपायों की उन्हें जानकारी दी। इसके अलावा उन्हें आवश्यक सामग्री देने के लिए डेटॉल बीएसआई ने नास्वी एवं जागरण पहल के ऑग्राउंड सहयोग से 5,00,000 सोप बार एवं 2,00,000 फेस मास्क स्ट्रीट वेंडर्स को वितरित किए।



Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता

मीडिया प्रेस क्लब का वार्षिक कलैंडर हुआ विमोचन