ब्रेनली होमवर्क ऐप बना भारत का #1


शब्दवाणी समाचार, शुक्रवार 2 अक्टूबर 2020, नई दिल्ली। महामारी की वजह से स्कूल बंद होने से ऑनलाइन लर्निंग की ओर बड़ी संख्या में नए यूजर आकर्षित हुए हैं और अकेले भारत में प्रभावित स्टूडेंट्स की संख्या 320 मिलियन है।  दुनिया के सबसे बड़े ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफार्म ब्रेनली भारत में एडटेक चार्ट का नेतृत्व कर रहा है। सिमिलरवेब एंड ऐपेनाइन की ओर से  जारी आंकड़ों के अनुसार ब्रेनली सितंबर तक नंबर वन होमवर्क ऐप्लिकेशन और वेबसाइट घोषित की गई है।



अनुकूल विकास ने भारत में अन्य लर्निंग प्लेटफार्मों को लेकर एडटेक प्लेटफार्मों की स्थिति को मजबूत किया है। ब्रेनली की #1 रैंक है और उसके बाद जागरण जोश, बाइजूस, और टॉपर का नंबर आता है। इस नई उपलब्धि का श्रेय उसके ‘नॉलेज-शेयरिंग कम्युनिटी लर्निंग’ मॉडल को जाता है, जहां 250 मिलियन छात्र और विशेषज्ञ स्कूल के कुछ कठिन प्रश्नों को हल करने के लिए माथापच्ची करते हैं। इस वर्ष शिक्षकों के प्रयासों का सम्मान करते हुए ब्रेनली भारत में “शिक्षक ऑफ द ईयर” प्रतियोगिता का आयोजन कर रहा है। इसके तहत देशभर के उन शिक्षकों को सम्मानित किया जाएगा, जिन्होंने ऐसे कठिन और महत्वपूर्ण समय में भी शिक्षा को सुविधाजनक बनाने में असाधारण भूमिका निभाई है।

यह उल्लेखनीय है कि ब्रेनली ने इस साल अप्रैल में अपने भारतीय यूजर-बेस में वृद्धि दर्ज की थी। इसने थोड़े ही समय में प्लेटफार्म के यूजर-बेस में 22 मिलियन से 25 मिलियन तक का इजाफा किया है। ब्रेनली के सीपीओ राजेश बिसानी कहते हैं, “यह दुनियाभर के छात्रों, अभिभावकों और शिक्षकों के लिए एक अलग ही समय है। वे घर पर रहकर अपना अधिकांश समय ऑनलाइन लर्निंग को दे रहे हैं, जहां वे लगातार समय के सदुपयोग और अलग ढंग से कुछ नया सीखने के लिए प्रेरित हैं। स्कूल फिर से कब खुलेंगे इस पर कोई स्पष्टता नहीं होने से, छात्रों को शैक्षिक प्रश्नों को हल करने में मदद करने वाले बेस्ट टूल्स और प्लेटफार्म महामारी के चले जाने के बाद भी हमारे साथ बने रहेंगे।



Comments

Popular posts from this blog

सचखंड नानक धाम ने किसान समर्थन के लिए सिंघू बॉर्डर पर अनशन पर बैठे

अक्षय तृतीया पर रिलायंस ज्वेल्स अच्छे स्वास्थ्य, खुशी और समृद्धि की कामना करता

मीडिया प्रेस क्लब का वार्षिक कलैंडर हुआ विमोचन